मुख्य समाचार:
  1. Video: अब ऐसा दिखेगा सूरत रेलवे स्टेशन, 895 करोड़ रुपये से बदलने वाली है तस्वीर

Video: अब ऐसा दिखेगा सूरत रेलवे स्टेशन, 895 करोड़ रुपये से बदलने वाली है तस्वीर

पहले इस प्रोजेक्ट की लागत 1008 करोड़ रुपये आंकी गई थी, लेकिन अब इसे घटा कर 895 करोड़ कर दिया गया है.

July 22, 2019 1:29 PM
Indian Railways to transformation video of Surat railway station into a multi modal transport hubइनके अलावा, MMTH को सूरत मेट्रो, बस रैपिड ट्रांजिट सिस्टम (BRTS) और सबर्बन नेटवर्क से भी जोड़ा जाएगा.

Surat railway station: भारतीय रेलवे लगातार रेलवे स्टेशन का सौंद्रीयकरण, लग्जरी ट्रेन का विस्तार और नए-नए नियम लाकर रेल यात्रियों का सफर आसान बना रही है. स्टेशनों को फिर से रिवैम्प करके यात्रियों को स्टेशन्स पर एयरपोर्ट जैसी सुविधाएं देने की कोशिश है. इसी दिशा में अब रेल मंत्री पीयूष गोयल के नेतृत्व में इंडियन रेलवे सूरत रेलवे स्टेशन को एक वर्ल्ड क्लास रेलवे स्टेशन में बदलने जा रही है. यहां एक वर्ल्ड क्लास कॉम्प्लेक्स बनाया जाएगा जहां लोग कैफे और शॉपिंग कॉम्पलेक्स का फायदा उठा सकते हैं. साथ ही इसे एक मल्टी-मॉडल ट्रांसपोर्ट हब (MMTH) बनाने की भी योजना है जहां स्टेशन के ऊपर बसों की सुविधा भी मिलेगी.

Surat railway station: स्टेशन की लागत

पहले इस प्रोजेक्ट की लागत 1008 करोड़ रुपये आंकी गई थी, लेकिन अब इसे घटा कर 895 करोड़ रुपये कर दिया गया है. सूरत रेलवे स्टेशन रिडेवलपमेंट प्रोजेक्ट इंडियन रेलवे स्टेशन डेवलपमेंट प्रोजेक्ट द्वारा हेड किया जा रहा है. मिनिस्ट्री ऑफ रेलवे के तहत यह एक स्पेशल पर्पस व्हीकल है जिसमें इंडियन रेलवे का सेंट्रल जोन, सूरत महापालिका और गुजरात स्टेट रोड ट्रांसपोर्ट (GSRTC) तीनों की भागीदारी होगी. आप भी देखें कि यह स्टेशन पूरा होने के बाद कैसा दिखेगा:

Surat railway station: फीचर्स

सूरत रेलवे स्टेशन मल्टी मॉडल ट्रांसपोर्ट हब (MMTH) में यह सभी सुविधाएं मिलेंगी.

  • रेलवे स्टेशन के दोनों ओर मोर्डनाईजेशन (ईस्ट और वेस्ट साइड)
  • बस टर्मिनल
  • विशाल स्टेशन लॉबी
  • मॉड्यूलर पैसेंजर-फ्रेंडली संबंध
  • ‌टिकट के लिए बड़ा हॉल
  • नए ट्रेन प्लैटफॉर्म बोर्डिंग के लिये कनेक्टिंग ‌ब्रिज
  • एयरपोर्ट जैसे फूड प्लाजा और शोपिंग ऐरिया
  • कॉमप्लेक्स टावर में रिटेल और कमर्शियल ऑफिस के लिए जगह

इनके अलावा, MMTH को सूरत मेट्रो, बस रैपिड ट्रांजिट सिस्टम (BRTS) और सबर्बन नेटवर्क से भी जोड़ा जाएगा.

Story: Devanjana Nag

Go to Top