सर्वाधिक पढ़ी गईं

Indian Railway News: प्लेटफॉर्म टिकट पांच गुना तक महंगा, रेलवे ने दाम बढ़ाने की बताई वजह

Indian Railway News: रेल मिनिस्ट्री के मुताबिक प्लेटफॉर्म टिकट के दाम पहले भी कुछ समय के लिए बढ़ाए जाते रहे हैं और इसकी शक्ति डीआरएम के पास है.

Updated: Mar 06, 2021 1:12 PM
Indian Railway News platform ticket price hike on some stations not on all says rail ministry not new trend drm have powersकोरोना वायरस के संक्रमण को थामने के लिए प्लेटफॉर्म टिकट महंगे किए गए हैं.

Indian Railway News: लंबे समय से रेलवे स्टेशनों पर प्लेटफॉर्म टिकटों की बिक्री बंद थी जिसे एक बार फिर शुरू कर दिया है. हालांकि इसकी कीमतें 3-5 गुना तक बढ़ गई है. रेलवे का कहना है कि प्लेटफॉर्म टिकट के दाम कोरोना प्रसार को रोकने के लिए है और यह बढ़ोतरी उन्हीं स्टेशनों पर की जा रही हैं, जहां भारी भीड़ देखी जा रही है. रेल मिनिस्ट्री ने कहा कि मुंबई डिवीजन में कुल 78 स्टेशन हैं जिसमें से सिर्फ 7 स्टेशनों पर ही प्लेटफॉर्म टिकट के दाम बढ़ाए गए हैं. पहले प्लेटफॉर्म टिकट 10 रुपये का था जो अब कुछ स्टेशनों पर 30 रुपये का हो गया है. मुंबई के प्रमुख स्टेशनों पर इसके लिए यात्रियों के संबंधियों को प्रति टिकट 50 रुपये चुकाने होंगे.

यह भी पढ़ें- अप्रैल-अगस्त के दौरान सोने के बढ़ते हैं भाव! 12000 रु डिस्काउंट पर निवेश का अच्छा मौका

2015 से DRM तय करते हैं प्लेटफॉर्म टिकट की कीमत

रेल मंत्रालय ने कहा कि रेल स्टेशनों पर भीड़-भाड़ रोकने के लिए क्षेत्रीय रेल प्रबंधक-डीआरएम को शक्ति प्रदान की गई है. रेल मंत्रालय द्वारा जारी बयान के मुताबिक प्लेटफॉर्म टिकट की कीमतें बढ़ाने की शक्तियां डीआरएम को प्रदान की गई हैं. मिनिस्ट्री ने कहा कि इस बार जो प्लेटफॉर्म टिकट महंगा किया गया, वह नया नहीं है और पिछले कई वर्षों से प्रचलन में है. भीड़ को नियंत्रित करने के लिए कुछ समय के लिए प्लेटफॉर्म टिकट की कीमतें बढ़ा दी जाती हैं. ये फैसले आमतौर पर त्यौहार या मेले के समय लिए जाते हैं और फिर धीरे-धीरे वापस ले लिए जाते हैं.

कम दूरी की यात्रा के लिए महंगा हो चुका है किराया

कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए पिछले साल मार्च 2020 में रेलवे की सेवाएं पूरी तरह बंद कर दी गई थी यानी सभी ट्रेनों को रोक दिया गया था. हालांकि कुछ समय बाद ट्रेनें पटरी पर आनी शुरू हुईं लेकिन अभी रेलवे प्री-कोविड दौर के मुकाबले मेल व एक्सप्रेस ट्रेनों का 65 फीसदी और सबअर्बन सर्विसेज का 90 फीसदी परिचालन कर रहा है. रेलवे कम दूरी की जिन पैसेंजर ट्रेनों का परिचालन कर रही हैं, उनके किराए में बढ़ोतरी की गई है. इस पर रेलवे ने सफाई दी थी कि अनावश्यक यात्राओं में कमी लाने के मकसद से किराये में मामूली इजाफा किया गया है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. Indian Railway News: प्लेटफॉर्म टिकट पांच गुना तक महंगा, रेलवे ने दाम बढ़ाने की बताई वजह

Go to Top