Independence Day 2022 : स्वतंत्रता दिवस पर ऐसे तैयार करें बच्चों की स्पीच, काफी काम आएंगे ये आसान टिप्स

Azadi Ka Amrit Mahotsav; आजादी के 75 साल पूरे होने के मौके पर देश भर में खास कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं, जिनमें बच्चों के भी बढ़-चढ़कर शामिल होने की उम्मीद है.

Independence Day 2022 : स्वतंत्रता दिवस पर ऐसे तैयार करें बच्चों की स्पीच, काफी काम आएंगे ये आसान टिप्स
देश आजादी के 75 साल मनाने जा रहा है. इस मौके पर देश भर में खास आयोजन किए जाएंगे, जिनमें बच्चे भी बढ़-चढ़कर हिस्सा लेंगे.

75 Years of India’s Independence: देश आजादी के 75 साल मनाने जा रहा है. इस मौके पर देश भर में खास आयोजन किए जा रहे हैं. स्कूलों में भी स्वतंत्रता दिवस बड़े धूम-धाम और उत्साह से मनाया जाता है. स्कूलों के इन आयोजनों में बच्चों के भाषण यानी स्पीच की भी खास जगह होती है. अगर आपका बच्चा भी अपने स्कूल में स्वतंत्रता दिवस पर भाषण देना चाहता है, तो उसकी स्पीच तैयार करने में ये टिप्स काफी काम आ सकते हैं.

स्वतंत्रता दिवस पर याद रखें ये जरूरी बातें

अगर आपके बच्चे को 15 अगस्त पर अपने स्कूल में भाषण देना है, तो इन तथ्यों का ध्यान रखना जरूरी है:

  • भारत की आजादी के 75 साल पूरे हो रहे हैं, जिसे सारा देश आजादी के अमृत महोत्सव के तौर पर मना रहा है.
  • इस मौके पर देश भर में स्वतंत्रता सेनानियों की शहादत को याद किया जा रहा है, जिनकी कुर्बानियों की वजह से हमारा देश आज़ाद हो पाया था.
  • देश को आजादी 15 अगस्त 1947 को मिली थी, जिसे हर साल स्वतंत्रता दिवस (Independence Day) के तौर पर मनाया जाता है.
  • देश का संविधान 26 जनवरी 1950 को लागू हुआ था. इसीलिए हम 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस (Republic Day) मनाते हैं.
  • हमारा राष्ट्रगान ‘जन गण मन’ महान कवि और शिक्षाविद गुरुदेव रवींद्र नाथ टैगोर ने लिखा था.
  • आजादी के 75 साल पूरे होने के मौके पर देश भर में “घर-घर तिरंगा” अभियान चलाया जा रहा है. जिसके तहत सभी लोगों से अपने घरों पर राष्ट्रध्वज फहराने और अपने सोशल मीडिया एकाउंट में भी तिरंगे की तस्वीर लगाने की अपील की गई है.
  • हमारा राष्ट्रीय ध्वज, जिसे तिरंगा कहते हैं, स्वतंत्रता सेनानी पिंगली वेंकैया (Pingali Venkayya) ने डिजाइन किया था. वे मछलीपट्टनम के रहने वाले थे, जो अब आंध्र प्रदेश में है.
  • पहले हमारा राष्ट्रीय ध्वज सिर्फ खादी से ही बनाया जाता था, लेकिन अब सरकार ने नियमों में बदलाव करके पॉलिएस्टर के कपड़े से भी झंडा बनाने की छूट दे दी है, ताकि आजादी की 75 सालगिरह मनाने के लिए पर्याप्त संख्या में झंडे उपलब्ध कराए जा सकें.
  • हमारा राष्ट्रीय घोष वाक्य “सत्यमेव जयते” है. संस्कृत के इस वाक्य का अर्थ है, हमेशा सत्य की ही जीत होती है.

अगर आप स्वतंत्रता दिवस का भाषण तैयार करने में बच्चों की मदद करना चाहते हैं, तो ये जानकारियां उनके काफी काम आ सकती हैं. यह भी ध्यान रहे कि बच्चों की स्पीच ज्यादा बड़ी न हो. उसकी भाषा भी आसान होनी चाहिए, ताकि वे उसे आसानी से याद रख सकें. अगर इन सभी बातों का ध्यान रखा जाए तो आपके बच्चे के लिए स्वतंत्रता दिवस की एक शानदार स्पीच तैयार की जा सकती है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

TRENDING NOW

Business News