सर्वाधिक पढ़ी गईं

भारत में कोरोना से 14 गुना ज्यादा मौतें? नीति आयोग ने कहा- न्यूयॉर्क टाइम्स की रिपोर्ट ‘निराधार’

Covid-19 in India: भारत सरकार ने अंग्रेजी अखबार न्यूयॉर्क टाइम्स में प्रकाशित भारत में कोविड से मौतों की रिपोर्ट को 'निराधार' और मनगढंत बताया है.

May 28, 2021 9:01 AM
Covid-19 in IndiaCovid-19 in India: भारत सरकार ने अंग्रेजी अखबार न्यूयॉर्क टाइम्स में प्रकाशित भारत में कोविड से मौतों की रिपोर्ट को 'निराधार' और मनगढंत बताया है.

Covid-19 in India: भारत सरकार ने अंग्रेजी अखबार न्यूयॉर्क टाइम्स में प्रकाशित भारत में कोविड से मौतों की रिपोर्ट को ‘निराधार’ और मनगढंत बताया है. स्वास्थ्य मंत्रालय और नीति आयोग ने न्यूयॉर्क टाइम्स की उस रिपोर्ट का जिक्र किया, जिसमें भारत में कोरोना से 42 लाख मौतों की आशंका जाहिर की गई थी. अखबार ने दावा किया था कि भारत में मौत के आंकड़ों की गणना कम की गई है और असल संख्या दिखाए गए आंकड़ों से 14 गुना ज्यादा है. स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा है कि देश में कोरोना के मामलों में बीते 20 दिनों से गिरावट जारी है. जबकि, 24 राज्यों में मामलों में खासी कमी दर्ज की गई है.

नीति आयोग के सदस्य वीके पॉल ने कहा कि न्यूयॉर्क टाइम्स की रिपोर्ट किसी सबूत के समर्थन से नहीं बनी है और यह बिगाड़े हुए अनुमानों पर आधारित है. उन्होंने कहा कि यह संभव है कि पॉजिटिव केस की तुलना में संक्रमण के मामले कई गुना ज्यादा हो सकते हैं, लेकिन ऐसा मौत के लिहाज से नहीं हो सकता. उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि मौत के आंकड़ों पर नजर रखने के लिए एक मजबूत ट्रैकिंग सिस्टम काम कर रहा है और ‘कथित प्रतिष्ठित अखबार’ को ऐसा नहीं पब्लिश करना चाहिए था.

क्या थी न्यूयॉर्क टाइम्स की रिपोर्ट

न्यूयॉर्क टाइम्स ने बेहद खराब स्थिति वाली रिपोर्ट में संक्रमण के वास्तविक आंकड़ों से 26 गुना ज्यादा संक्रमण का अनुमान लगाया है. संक्रमण से मृत्यु की दर का अनुमान भी 0.60 फीसदी रखा गया. रिपोर्ट के अनुसार भारत में बुरे हालात में 70 करोड़ लोगों के संक्रमित होने और 42 लाख मौतों का अनुमान लगाया गया था. ये अनुमान कोरोना की दूसरी लहर और देश की बदहाल स्वास्थ्य व्यवस्था को देखते हुए लगाया गया. भारत में मौत के सही आंकड़ों का अनुमान लगाने के लिए एक दर्जन से ज्यादा एक्सपर्ट की मदद ली. इन एक्सपर्ट ने भारत में महामारी को तीन स्थितियों में बांटा मसलन सामान्य स्थिति, खराब स्थिति, बेहद खराब स्थिति.

क्या कहना है भारत सरकार का

भारत की कोविड टास्क फोर्स के प्रमुख पॉल ने कहा कि मौत के मामलों के दर्ज होने में देरी हो सकती है, लेकिन ऐसी किसी राज्य का केंद्र की मंशा नहीं है. मौतें किस आधार पर तय कीं पता नहीं. हमारे पास मौतों को ट्रैक करने का मजबूत सिस्टम है. अगर मैं यही तीन गुना मापदंड न्यूयॉर्क पर लागू करूं, तो 50 हजार मौतें होंगी, लेकिन वे कहते हैं कि ये 16 हजार हैं.

वीके पॉल ने कहा कि ये एनालिसिस ही गलत तरीके से किया गया. ये उन दूषित सोच वालों की देन है, जिन्होंने फोन पर जानकारी जुटाकर ये रिपोर्ट तैयार कर ली. वहीं स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने भी कहा कि न्यूयॉर्क टाइम्स की रिपोर्ट निराधार है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. भारत में कोरोना से 14 गुना ज्यादा मौतें? नीति आयोग ने कहा- न्यूयॉर्क टाइम्स की रिपोर्ट ‘निराधार’

Go to Top