सर्वाधिक पढ़ी गईं

Q3FY20 GDP Today: मंदी से क्या बाहर निकलेगी देश की अर्थव्यवस्था? आने वाले हैं जीडीपी के आंकड़े

GDP Data for Q3 Today: देश की आर्थिक सेहत में अब सुधार हो रहा है या नहीं, आज इसका पता चलेगा.

February 26, 2021 11:28 AM
gdpTaking various factors into consideration, it said, "the projection of real GDP growth for 2021-22 is retained at 10.5 per cent consisting of 26.2 per cent in Q1, 8.3 per cent in Q2, 5.4 per cent in Q3 and 6.2 per cent in Q4."

GDP Data for Q3 Today: देश की आर्थिक सेहत में अब सुधार हो रहा है या नहीं, आज इसका पता चलेगा. वित्त वर्ष 2021 की तीसरी तिमाही (अक्टूबर से दिसंबर) के जीडीपी के आंकड़े 26 फरवरी यानी शुक्रवार को जारी किए जाएंगे. नेशनल स्टैटिकल ऑफिस (NSO) आज अक्टूबर-दिसंबर तिमाही के ग्रोथ अनुमान जारी करने वाला है. मान जा रहा है कि पिछले 2 तिमाही की तुलना में इस बार जीडीपी में सुधार देखने को मिलेगा. दिसंबीर तिमाही में जीडीपी ग्रोथ पॉजिटिव रह सकती है.

बता दें कि कोविड-19 महामारी और उससे जुड़े लॉकडाउन के कारण पहली दो तिमाहियों में जीडीपी में भारी गिरावट आई थी. पहली तिमाही में यह गिरावट 23.9 फीसदी और दूसरी तिमाही में 7.5 फीसदी रही थी. उम्मीद की जा रही है कि तीसरी तिमाही में जीडीपी में बेहतर स्थिति देखने को मिल सकती है.

पॉजिटिव रहेगी ग्रोथ!

एजेंसियों और एक्सपर्ट को उम्मीद है कि तीसरी तिमाही में जीडीपी पॉजिटिव जोन में आ सकती है. डीबीएस बैंक के मुताबिक तीसरी तिमाही में जीडीपी की वृद्धि दर 1.3 फीसदी रह सकती है. डीबीएस बैंक के मुताबिक पूरे वित्त वर्ष के दौरान जीडीपी की वृद्धि निगेटिव 6.8 फीसदी रह सकती है. डीबीएस ग्रुपह की शोध अर्थशास्त्री राधिका राव के अनुसार देश में कोविड-19 की स्थिति में तेजी से सुधार आना और लोगों के खर्च में तेजी से बढ़ोतरी होना, दो ऐसे फैक्टर रहे हैं, जो दिसंबर 2020 तिमाही के लिए बेहतर साबित होंगे. दूसरी ओर ब्लूमबर्ग के सर्वे के मुताबिक इसके 0.5 फीसदी रहने का अनुमान है.

ये फैक्टर दे रहे हैं साथ

  • सितंबर तिमाही के आंकड़ों को देखें तो मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर की ग्रोथ पिछले साल की समान अवधि के मुकाबले 0.6 फीसदी बढ़ी है. ऐसे संकेत मिल रहे हैं कि आने वाले महीनों में मैन्युफैक्चरिंग की ग्रोथ में और तेजी आएगी.
  • वित्त वर्ष 2021 में लगातार पांचवी बार GST कलेक्शन 1 लाख करोड़ रुपए से ज्यादा हुआ है, यानी घरेलू स्तर पर खर्च अब बढ़ रहा है.
  • पैसेंजर व्हीकल की बिक्री में भी तेजी आई है. खासतौर पर फेस्टिव सीजन के कारण तीसरी तिमाही में इसे बूस्ट मिला है.
  • पेट्रोल और डीजल की बिक्री भी कोरोनावायरस से पहले के लेवल पर पहुंच चुकी है.
  • इंजीनियरिंग गुड्स, जेम्स और ज्वेलरी, लौह अयस्क और टेक्सटाइल्स के निर्यात में तेजी आई है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. Q3FY20 GDP Today: मंदी से क्या बाहर निकलेगी देश की अर्थव्यवस्था? आने वाले हैं जीडीपी के आंकड़े

Go to Top