मुख्य समाचार:
  1. विंग कमांडर अभिनंदन वीर चक्र से होंगे सम्मानित, मार गिराया था पाकिस्तान का F-16

विंग कमांडर अभिनंदन वीर चक्र से होंगे सम्मानित, मार गिराया था पाकिस्तान का F-16

वर्धमान को पाकिस्तानी सेना ने 27 फरवरी को हिरासत में लिया था. लेकिन, भारत के कूटनीतिक प्रयासों के बाद पाकिस्तान को उन्हें छोड़ने पर विवश होना पड़ा था.

August 14, 2019 12:00 PM
Indian Air Forces, Wing Commander Abhinandan Varthaman, Wing Commander Abhinandan to be conferred with Vir Chakra, Independence Day, Squadron Leader Minty Agarwal, Yudh Seva Medalवर्धमान को पाकिस्तानी सेना ने 27 फरवरी को हिरासत में लिया था. लेकिन, भारत के कूटनीतिक प्रयासों के बाद पाकिस्तान को उन्हें छोड़ने पर विवश होना पड़ा था. (ANI)

स्वतंत्रता दिवस के मौके पर हर साल की तरह वीरता पुरस्कारों का एलान कर दिया गया है. विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान को स्वतंत्रता दिवस के मौके पर वीर चक्र से सम्मानित किया जा सकता है. सूत्रों के अनुसार यह जानकारी सामने आई है.

वायुसेना के विंग कमांडर अभिनंदन ने बालाकोट एयर स्ट्राइक के बाद पाकिस्तान के F-16 विमान को अपने MiG-21 फाइटर जेट से मार गिराया था. हालांकि, इस दौरान अभिनंदन का फाइटर जेट भी क्रैश हो गया और वह पाकिस्तानी सीमा में गिरफ्तार हो गए थे. लेकिन, भारत के कूटनीतिक प्रयासों के बाद पाकिस्तान को उन्हें छोड़ने पर विवश होना पड़ा था.

36 वर्षीय वायुसेना के पायलट अभिनंदन को MiG-21 Bison से इजेक्ट होने के दौरान चोट लगी थी. अभिनंदन की रिहाई को लेकर दोनों देशों के बीच सैन्य तनाव चरम पर पहुंच गया था. ​अभिनंदन अब कुछ ही हफ्तों में फाइटर कॉकपिट में लौट सकते हैं. मेडिकल बोर्ड ने उनको फाइटर पायलट के तौर पर उड़ान भरने की मंजूरी दे दी है.

वर्धमान को पाकिस्तानी सेना ने 27 फरवरी को हिरासत में लिया था. हवाई लड़ाई में पाकिस्तानी फाइटर के साथ डॉग फाइट में ​अपना मिग 21 बायसन गंवाने से पहले वर्धमान ने पाकिस्तान को एएफ 16 मार गिराया था. अभिनंदन को पाकिस्तान ने 1 मार्च की राहत को रिहा किया था. बता दें, पुुलवामा हमले के तकरीबन दो हफ्ते बाद भारतीय वायुसेना के लड़ाकू विमानों ने 26 फरवरी को पाकिस्तान के अंदर घुसकर बालाकोट स्थित जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी शिविरों को जबरदस्त बमबारी से ध्वस्त कर दिया था.

मिंती अग्रवाल को युद्ध सेवा मेडल

इसके अलावा, स्क्वॉड्रन लीडर मिंती अग्रवाल को युद्ध सेवा मेडल दिया जाएगा. मिंती को यह पुरस्कार बालाकोट एयरस्ट्राइक के बाद भारत और पाकिस्तान के बीच हवाई संघर्ष के दौरान दिए गए उनके योगदान के लिए दिया गया है.

बता दें कि 14 फरवरी को पुलवामा में सीआरपीएफ काफिले पर हुए आतंकी हमले के बाद भारत ने पाकिस्तान के बालाकोट में आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के ठिकानों पर 12 मिराज-2000 लड़ाकू विमानों से हमला किया था।

(Input: ANI, PTI)

Go to Top