सर्वाधिक पढ़ी गईं

पाकिस्तान से आयात पर बढ़ेगी ड्यूटी, MFN दर्जा खत्म करने की WTO को जानकारी देगा भारत

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में बृहस्पतिवार को आतंकी हमले के बाद शुक्रवार को भारत ने कड़े कदम उठाते हुए पाकिस्तान से व्यापार में सबसे तरजीही राष्ट्र (MFN) का दर्जा वापस ले लिया है. इसके बाद भारत अब पाकिस्तान से आने वाली वस्तुओं पर किसी भी स्तर तक सीमा शुल्क को बढ़ा सकता है. 

Updated: Feb 15, 2019 5:53 PM
india inform wto import duty on pakistan increase as mfn status to pakistan endजम्मू-कश्मीर के पुलवामा में बृहस्पतिवार को आतंकी हमले के बाद ये कड़ा कदम उठाया गया

वाणिज्य मंत्रालय Pakistan को दिए गए ‘सबसे तरजीही राष्ट्र’ (MFN) का दर्जा वापस लेने के अपने फैसले के बारे में जल्द ही विश्व व्यापार संगठन (WTO) को अधिसूचित करेगा. भारत ने सुरक्षा कारणों के चलते यह कदम उठाया है. एक अधिकारी ने शुक्रवार को यह जानकारी दी. MFN दर्जा वापस लेने के बाद भारत, पाकिस्तान से आने वाली वस्तुओं पर सीमा शुल्क बढ़ा सकेगा. भारत ने 2017-18 में पाकिस्तान से 48.8 करोड़ डॉलर का सामान आयात किया था.

अधिकारी ने कहा, “अब, वाणिज्यिक मंत्रालय डब्ल्यूटीओ के अनुच्छेद 21 का हवाला देते हुए पाकिस्तान को दिए गए तरजीही देश के दर्जा को वापस लेने के बारे में डब्ल्यूटीओ को अधिसूचित करेगा.” मंत्रालय पाकिस्तान से आने वाली वस्तओं की एक सूची तैयार करेगा, जिनपर भारत सीमा शुल्क बढ़ाएगा.

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में बृहस्पतिवार को आतंकी हमले के बाद शुक्रवार को भारत ने कड़े कदम उठाते हुए पाकिस्तान से व्यापार में सबसे तरजीही राष्ट्र (MFN) का दर्जा वापस ले लिया है. इसके बाद भारत अब पाकिस्तान से आने वाली वस्तुओं पर किसी भी स्तर तक सीमा शुल्क को बढ़ा सकता है.

पुलवामा अटैक: मोदी ने कहा-सेना को समय और जगह चुनने की खुली छूट, हमले का लेंगे बदला

पाकिस्तान से आयात होने वाले उत्पाद 
पाकिस्तान से जो चीजें आयात की जाती हैं, उनमें मुख्य रूप से फल, सीमेंट, पेट्रोलियम उत्पाद, खनिज संसाधन, लौह अयस्क और तैयार चमड़ा शामिल है. भारत ने पाकिस्तान को 1996 में यह दर्जा दिया था, लेकिन पाकिस्तान की ओर से भारत को ऐसा कोई दर्जा नहीं दिया गया है.

व्यापार विशेषज्ञों का कहना है कि पाकिस्तान इस मामले में भारत को डब्ल्यूटीओ की विवाद निपटान व्यवस्था में घसीट सकता है. हालांकि उसका पक्ष कमजोर होगा क्योंकि उसने भारत को भी MFN का दर्जा नहीं दिया है.

पुलवामा आतंकी हमला: MFN का दर्जा वापस लेने से पाकिस्तान पर क्या होगा असर?

भारत-पाकिस्तान के बीच ट्रेड का हाल 

भारत-पाकिस्तान का कुल व्यापार 2016-17 में 2.27 अरब डॉलर से मामूली बढ़कर 2017-18 में 2.41 अरब डॉलर हो गया है. भारत ने 2017-18 में 48.8 करोड़ डॉलर का आयात किया था और 1.92 अरब डॉलर का निर्यात किया था. भारत मुख्य रूप से पाकिस्तान को कच्चा कपास, सूती धागे, डाई, रसायन, प्लास्टिक का निर्यात करता है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. पाकिस्तान से आयात पर बढ़ेगी ड्यूटी, MFN दर्जा खत्म करने की WTO को जानकारी देगा भारत

Go to Top