ED Freezes WazirX Deposit: क्रिप्टो एक्सचेंज वजीरएक्स के खिलाफ कड़ी कार्रवाई, 64 करोड़ के एसेट्स ईडी ने किए फ्रीज

WazirX Assets Freezes: ईडी ने आज क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज वजीरएक्स (WazirX) की संपत्तियों को फ्रीज कर दिया है.

ED Freezes WazirX Deposit: क्रिप्टो एक्सचेंज वजीरएक्स के खिलाफ कड़ी कार्रवाई, 64 करोड़ के एसेट्स ईडी ने किए फ्रीज
ईडी ने क्रिप्टो एक्सचेंज वजीरएक्स के 64.46 करोड़ रुपये के एसेट्स को फ्रीज कर दिया है. (Image- Pixabay)

WazirX Assets Freezes: वित्तीय अपराधों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने वाली केंद्रीय एजेंसी ईडी ने आज क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज वजीरएक्स (WazirX) की संपत्तियों को फ्रीज कर दिया है. केंद्रीय जांच एजेंसी एंफोर्समेंट डायरेक्टेरोट (ईडी) ने फॉरेन एक्सचेंज से जुड़े नियमों के उल्लघंन के संदेह से जुड़ी जांच में यह कार्रवाई की है. कार्रवाई के तहत ईडी ने दुनिया की सबसे बड़ी डिजिटल करेंसी एक्सचेंज बिनांस (Binance) की इकाई वजीरएक्स के 64.46 करोड़ रुपये के एसेट्स को फ्रीज कर दिया है. वजीरएक्स ने इस मामले में अभी तक कोई टिप्पणी नहीं की है.

Long weekends in August: अगस्त के लंबे वीकेंड के लिए बुकिंग में तेजी, इन तगड़े ऑफर के जरिए यात्रियों को लुभा रही कंपनियां

ये है मामला

एजेंसी ने जानकारी दी कि यह कार्रवाई मनी लांड्रिंग से जुड़ा हुआ है. वजीरएक्स पर आरोप है कि इसने इंस्टैंट लोन मुहैया कराने वाली ऐप कंपनियों के पैसों को अपने प्लेटफॉर्म पर गलत तरीके से क्रिप्टोकरेंसी में बदल दिया. ईडी ने पिछले साल इस मामले में फॉरेन एक्सचेंज से जुड़े रेगुलेशंस के उल्लघंन की आशंका को लेकर इस मामले की जांच शुरू की थी. ईडी के बयान के मुताबिक वजीरएक्स के निदेशक समीर म्हात्रे ने वजीरएक्स का रिमोट एक्सेस रखा है लेकिन इसके बावजूद वह इंस्टैंट लोन ऐप फ्रॉड के पैसों से खरीदे गए क्रिप्टो एसेट्स से जुड़े लेन-देन का हिसाब नहीं दे रहे हैं. केवाईसी नॉर्म्स में कमी, वजीरएक्स व बिनांस के बीच ट्रांजैक्शन पर कमजोर रेगुलेटरी कंट्रोल, लागत बचाने के लिए ब्लॉकचेन ट्रांजैक्शन का रिकॉर्ड न करना और अपोजिट वॉलेट की केवाईसी का रिकॉर्ड न रखने के चलते वजीरएक्स गायब क्रिप्टो एसेट्स की वजह नहीं बता रही है.

Paytm के शेयरों में 5 दिन में 8% की उछाल, एक्सिस कैपिटल ने दी Buy रेटिंग, चेक करें टारगेट प्राइस

कैसे आया WazirX का नाम

पिछले साल ईडी मनी लांड्रिंग के एक केस की जांच कर रहा था जिसमें चीन की अवैध ऑनलाइन बेटिंग ऐप्स शामिल थीं. इस जांच के दौरान ईडी ने पाया कि मनी लांड्रिंग के दौरान करीब 57 करोड़ रुपये को बिनांस प्लेटफॉर्म के जरिए क्रिप्टोकरेंसीज में बदला गया. वजीरएक्स बिनांस प्लेटफॉर्म की इकाई है जिसका स्वामित्व 2019 से बिनांस के पास है.
(Input: Reuters, PTI)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

TRENDING NOW

Business News