सर्वाधिक पढ़ी गईं

भारत दुनिया में तीसरा सबसे बड़ा स्टार्टअप इकोसिस्टम, 2019 में जुड़े 1300 नए स्टार्टअप

भारत में साल 2019 में 1,300 स्टार्टअप शुरू हुए हैं. इसी के साथ भारत दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा स्टार्टअप इकोसिस्टम रहा है.

Updated: Nov 05, 2019 11:30 PM
Representational Image

भारत में 2019 में 1,300 स्टार्टअप शुरू हुए हैं. इसी के साथ भारत दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा स्टार्टअप इकोसिस्टम बन गया है. पिछले पांच सालों में भारत में टेक स्टार्टअप की संख्या 8900-9300 रही है. यह जानकारी NASSCOM ने मंगलवार को दी है. NASSCOM ने यह भी कहा कि भारतीय स्टार्टअप इकोसिस्टम के 10 साल के भीतर 10 गुना रफ्तार के साथ बढ़ने की उम्मीद है, जो बेहद शानदार है.

NASSCOM की प्रेसिडेंट देबजानी घोष ने कहा कि 2014 में भारत के स्टार्टअप का वैल्युएशन 10 से 20 अरब अमेरिकी डॉलर था जो 2025 तक 350 से 390 अरब डॉलर तक पहुंच जाएगा. उनके मुताबिक साल 2025 तक कुल नौकरियां 10 लाख से ज्यादा और इनडायरेक्ट नौकरियां 40 लाख से ज्यादा हो जाएंगी.

भारत में स्टार्टअप की 10 गुना रफ्तार से बढ़ने की क्षमता

देबजानी घोष ने बताया कि भारत में स्टार्टअप इकोसिस्टम की रफ्तार बेहतरीन है. अब भारत के पास मौका है कि वह सही सरकार और इंडस्ट्री के समर्थन के साथ 10 गुना की रफ्तार के साथ आगे बढ़े. NASSCOM ने मंगलवार को Indian Tech Start-up Ecosystem – Leading Tech in the 20s पर अपनी एक रिपोर्ट लॉन्च की. यह रिपोर्ट NASSCOM प्रोडेक्ट कॉन्क्लेव 2019 के दौरान लॉन्च की गई.

रिपोर्ट के बारे में बताते हुए घोष ने कहा कि भारतीय टेक स्टार्टअप इकोसिस्टम में अलग-अलग पैमानों पर मजबूत ग्रोथ है. उनके मुताबिक सिर्फ तीसरा सबसे बड़ा स्टार्टअप बेस ही नहीं रहा, बल्कि उसके साथ ही इसके हर एक सेक्टर में अच्छी ग्रोथ हुई है. रिपोर्ट में उन स्टार्टअप पर स्टडी की गई है जो पिछले 5 सालों से काम कर रहे हैं.

कर्मचारियों को करनी पड़ेगी 9 घंटे की शिफ्ट? वेज कोड में बदलाव की तैयारी, ड्रॉफ्ट रूल्‍स जारी

बेंगलुरू सबसे आगे, दिल्ली दूसरे नंबर पर

स्टार्टअप के मामले में बेंगलुरू सबसे आगे रहा है. उसके बाद दिल्ली एनसीआर का नंबर है. सबसे जरूरी बात यह है कि 12 से 15 फीसदी टेक स्टार्टअप विकास करते शहरों से हैं. रिपोर्ट में टेक स्टार्टअप की संख्या पिछले साल 8,900 से 9,300 रही है. पिछले साल फंडिंग 4.2 बिलियन अमेरिकी डॉलर थी. इस तरह फंडिंग में बढ़ोतरी हुई है.

घोष के मुताबिक यूनिकॉर्न्स की संख्या बढ़कर 24 हो गई है. यह पिछले साल 17 थी. पिछले साल टेक स्टार्टअप ने 40,000 डायरेक्ट नौकरियां और 1.6 लाख इनडायरेक्ट नौकरियां पैदा की थीं. इस साल डायरेक्ट नौकरियों की संख्या बढ़कर 60,000 और इनडायरेक्ट नौकरियों की संख्या 1.3 से 1.8 हो गईं.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. भारत दुनिया में तीसरा सबसे बड़ा स्टार्टअप इकोसिस्टम, 2019 में जुड़े 1300 नए स्टार्टअप

Go to Top