सर्वाधिक पढ़ी गईं

EPFO से जुलाई में 8.45 लाख नए सब्सक्राइबर जुड़े, रोजगार की हालत में सुधार

मई में जारी पेरोल आंकड़े के अनुसार, ईपीएफओ के पास शुद्ध रूप से पंजीकरण मार्च 2020 में घटकर 5.72 लाख पर आ गया जो फरवरी में 10.21 लाख था.

September 21, 2020 11:17 AM
EPFO records 8.45 lakh new enrolments in July 2020EPFO का पेरोल डाटा अस्थायी है और इसमें हर महीने अपडेट होता है.

कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) से जुलाई में शुद्ध रूप से जुड़ने वाले अंशधारकों की संख्या बढ़कर 8.45 लाख पहुंच गई जबकि जून 2020 में यह आंकड़ा 4.82 लाख था. यह आंकड़ा बताता है कि संगठित क्षेत्र में रोजगार की स्थिति सुधर रही है. ईपीएफओ के नियमित वेतन पाने वालों के ये आंकड़े कोविड-19 के दौरान संगठित क्षेत्र में रोजगार की स्थिति के बारे में जानकारी देते हैं. ईपीएफओ के पेरोल यानी नियमित वेतन पर रखे जाने वाले कर्मचारियों के पिछले महीने जारी अस्थायी आंकड़े में शुद्ध रूप से इस साल जून में 6.55 लाख पंजीकरण की बात कही गयी थी. इस आंकड़े को अब संशोधित कर 4,82,352 कर दिया गया है. मई में जारी पेरोल आंकड़े के अनुसार, ईपीएफओ के पास शुद्ध रूप से पंजीकरण मार्च 2020 में घटकर 5.72 लाख पर आ गया जो फरवरी में 10.21 लाख था.

ताजा आंकड़े के अनुसार अप्रैल में शुद्ध रूप से पंजीकरण नकारात्मक दायरे में था और इसमें 61,807 की गिरावट आई. जबकि अगस्त में यह आंकड़ा 20,164 था. इसका मतलब है कि अप्रैल में जितने लोग ईपीएफओ से जुड़े, उससे कहीं अधिक लोग उससे बाहर हुए. इससे पहले जुलाई में अस्थायी आंकड़े के अनुसार अप्रैल में शुद्ध रूप से एक लाख नए पंजीकरण की बात कही गई थी. उसे बाद में अगस्त महीने में संशोधित कर 20,164 कर दिया गया.

1 अक्टूबर से 1500 रु से भी ज्यादा महंगे हो जाएंगे TV, ओपन सेल पर फिर लगेगी 5% इंपोर्ट ड्यूटी

ईपीएफओ के पास शुद्ध रूप से पंजीकरण औसतन हर महीने करीब 7 लाख रहता है. ताजा पेरोल आंकड़े के अनुसार वित्त वर्ष 2019-20 में शुद्ध रूप से नए अंशधारकों की संख्या बढ़कर 78.58 लाख रही जो इससे पूर्व वित्त वर्ष में 61.12 लाख थी. ईपीएफओ नए अंशधारकों का पेरोल आंकड़ा अप्रैल 2018 से जारी कर रहा है. इसमें सितंबर 2017 से आंकड़े लिए गए हैं. आंकड़े से यह भी पता चलता है कि सितंबर 2017 से जुलाई 2020 के दौरान शुद्ध रूप से नए अंशधारकों की संख्या 1.68 करोड़ रही.

EPFO का कहना है कि पेरोल आंकड़ा अस्थायी है और इसका अपडेट होना एक निरंतर चलने वाली प्रक्रिया है. इसे आने वाले महीनों में अपडेट किया जाता है. कर्मचारी भविष्य निधि संगठन के अनुसार आंकड़ा शुद्ध रूप से जुड़े सदस्यों पर आधारित है. इन अनुमानों में अस्थायी कर्मचारी भी शामिल हो सकते हैं जिनका योगदान हो सकता है पूरे साल जारी नहीं रहे. ईपीएफओ संगठित/अर्द्ध-संगठित क्षेत्र में सामाजिक सुरक्षा योजनाओं का प्रबंधन करता है. इसके सक्रिय सदस्यों (जिनका योगदान वर्ष के दौरान कम-से-कम एक महीने आता है) की संख्या छह करोड़ है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. EPFO से जुलाई में 8.45 लाख नए सब्सक्राइबर जुड़े, रोजगार की हालत में सुधार
Tags:EPFO

Go to Top