सर्वाधिक पढ़ी गईं

प्रॉपर्टी कब खरीदें, कब बेचें? फैसला लेने में मदद करेगा Housing Pricing Index, इन शहरों की मिलेगी सटीक जानकारी

Housing Pricing Index से प्रॉपर्टी की खरीद-बिक्री सही समय पर करने में आसानी होगी, यह इंडेक्स देश के 8 प्रमुख शहरों में प्रॉपर्टी की कीमतों को लगातार ट्रैक करेगा.

Updated: May 31, 2021 2:47 PM
Housing dot com ties up with ISB to launch price index for residential properties across 8 citiesरीयल एस्टेट पोर्टल housing.com और इंडियन स्कूल ऑफ बिजनस (ISB) ने आज सोमवार 31 मई को एक Housing Pricing Index (HPI) लांच किया है. (File Photo- Reuters)

रीयल एस्टेट पोर्टल housing.com और इंडियन स्कूल ऑफ बिजनस (ISB) ने आज सोमवार 31 मई को एक Housing Pricing Index (HPI) लांच किया है. यह इंडेक्स देश भर के आठ प्रमुख शहरों में आवासीय संपत्तियों की कीमतों को ट्रैक करेगा जिससे सभी स्टेकहोल्डर्स को रीयल-टाइम डेटा मिलेगा. रीयल एस्टेट पोर्टल और बिजनस स्कूल की साझेदारी में बनाए गए हाउसिंग प्राइसिंग इंडेक्स को एक वर्चुअल इवेंट के जरिए हाउसिंग एंड अर्बन अफेयर्स सेक्रेटरी दुर्गा शंकर मिश्रा ने लांच किया. यह इंडेक्स न सिर्फ घर खरीदारों के लिए बल्कि पॉलिसीमेकर्स के लिए भी भविष्य को लेकर योजनाएं बनाने में मददगार साबित होंगी.
मिश्रा के मुताबिक सोसायटी के लिए इस इंडेक्स की बहुत जरूर थी और यह देश के निर्माण में मददगार साबित होगी. मिश्रा ने जानकारी दी कि नेशनल हाउसिंग बैंक (एनएचबी) ने भी अपना हाउसिंग प्राइस इंडेक्स लांच किया है. जानकारी के मुताबिक अहमदाबाद, बंगलूरु, चेन्नई, दिल्ली एनसीआर, हैदराबाद, कोलकाता, मुंबई और पुणे को इस इंडेक्स के तहत कवर किया जाएगा.

हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी से अस्पताल से जुड़े खर्चों की चिंता खत्म हो जाती है लेकिन अधिकतम सम इंश्योर्ड के बराबर ही अस्पताल से जुड़े खर्च कवर होंगे.

घर खरीदारों से लेकर पॉलिसीमेकर्स को मिलेगा फायदा

रीयल एस्टेट पोर्टल हाउसिंगडॉटकॉम ने जानकारी दी कि इस इंडेक्स को आईएसबी के श्रीनी राजू सेंटर फॉर आईटी एंड द नेटवर्क्ड इकोनॉमी (SRINI) के सहयोग से तैयार किया गया है और यह रीयल एस्टेट सेक्टर में इकोनॉमिक एक्टिविटी का इंडिकेटर होगा. एचपीआई से हर महीने घर की कीमतों और बिक्री से जुड़े आंकड़ों की जानकारी मिलेगी. इससे घर खरीदारों को किसी प्रॉपर्टी को खरीदने के लिए बेहतर समय का अनुमान लगाने में आसानी होगी और प्रॉपर्टी बेचने वालों को भी सही समय की जानकारी मिल सकेगी कि किस समय बेचने पर उसके फायदा होगा. इसके अलावा पॉलिसीमेकर्स और फाइनेंसियल एनालिस्ट्स रीयल एस्टेट सेक्टर में रूझानों को लेकर इसे भरोसमंद अनुमानों के रूप में प्रयोग कर सकेंगे.

Housing Price Index से बढ़ेगी पारदर्शिता

हाउसिंगडॉटकॉम, मकानडॉटकॉम और प्रोपाटाइगरडॉटतॉकॉम के ग्रुप सीईओ ध्रुव अग्रवाल के मुताबिक इस बॉयर्स और पॉलिसीमेकर्स किसी क्वालिटी हाई-फ्रीक्वेंसी डेटा की अनुपस्थिति में भारतीय शहरों में संपत्तियों के उतार-चढ़ाव को लेकर अनुमानित आंकड़ों के आधार पर फैसले लेते हैं लेकिन अब हाउसिंग प्राइसिंग इंडेक्स से इस समस्या का समाधान हो जाएगा. आईएसबी के डीन राजेंद्र श्रीवास्तव के मुताबिक एचपीआई से सभी स्टेकहोल्डर्स को अपने फैसले के लिए जरूरी जानकारियां मिल सकेंगी. नेशनल रीयल एस्टेट डेवलपमेंट काउंसिल के प्रमुख निरंजन हीरानंदानी के मुताबिक इस इंडेक्स को लांच करने का प्रमुख उद्देश्य पारदर्शिता और इंडस्ट्री स्टेकहोल्डर्स के बीच भरोसे को बढ़ाना है. पिछले कुछ वर्षों से भरोसे में कमी और लिक्विडिटी की समस्या के चलते हाउसिंग सेक्टर बुरी तरह प्रभावित हुआ है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. कारोबार बाजार
  3. प्रॉपर्टी कब खरीदें, कब बेचें? फैसला लेने में मदद करेगा Housing Pricing Index, इन शहरों की मिलेगी सटीक जानकारी
Tags:ISB

Go to Top