सर्वाधिक पढ़ी गईं

राम सेतु के लिए रेलवे का बिग प्लान: नया ब्रिज और रेल लिंक आसान बनाएंगे रामेश्वरम-धनुषकोटि के दर्शन, जानें डिटेल

भारतीय रेलवे अरब सागर में एक नया पम्बन ब्रिज बना रही है, जिससे राम सेतु रेल नेटवर्क से रेल लिंक के जरिए सीधे जुड़ जाएगा.

Updated: Dec 28, 2018 1:08 PM
Ram Setu, New Pamban bridge, a rail link to Ram Setu, 2 big Indian Railways projects, Rameswaram, Dhanushkodi, Pamban island, indias firts vertical lift, Piyush Goyal, Railway Ministry, templeभारतीय रेलवे अरब सागर में एक नया पम्बन ब्रिज बना रही है, जिससे राम सेतु रेल नेटवर्क से रेल लिंक के जरिए सीधे जुड़ जाएगा.

मोदी सरकार ने तीर्थयात्रियों को राम सेतु की आसान और सुलभ यात्रा के लिए एक बड़ा प्लान बनाया है. इस प्लान पर जल्द ही काम भी शुरू होने वाला है. दरअसल, भारतीय रेलवे अरब सागर में एक नया पम्बन ब्रिज बना रही है, जिससे राम सेतु रेल नेटवर्क से रेल लिंक के जरिए सीधे जुड़ जाएगा. रेलवे का यह प्रोजेक्ट दो अलग-अलग हिस्सों में है. पहले प्रोजेक्ट में भारतीय रेलवे रामेश्वरम और धनुषकोटि (राम सेतु का शुरुताअी हिस्सा) के बीच एक रेलवे लिंक बनाएगी. दूसरे प्रोजेक्ट के तहत एक नया पम्बन ब्रिज बनाया जाएगा. यह दोनों ही प्रोजेक्ट अगले 4 साल में पूरे हो सकते हैं.

नया पम्बन ब्रिज, जो मेनलैंड पर मंडपम और पम्बन आईलैंड पर रामेश्वरम को जोड़ेगा. इसमें भारत का पहला वर्टिकल लॉन्च रेल सेक्शन भी होगा. नया ब्रिज 104 साल पुराने ​मौजूदा ब्रिज के समानांतर बनाया जाएगा. दूसरी ओर, धनुषकोटि को कई दशक बाद एक नया रेल लिंक मिलेगा. एक चक्रवात में यहां का स्टेशन तबाह हो गया था.

Ram Setu, New Pamban bridge, a rail link to Ram Setu, 2 big Indian Railways projects, Rameswaram, Dhanushkodi, Pamban island, indias firts vertical lift, Piyush Goyal, Railway Ministry, temple

नया पम्बन ब्रिज प्रोजेक्ट

नया पम्बन ​ब्रिज 2 किमी लंबा होगा. इसमें 18.3 मीटर के 100 स्पैन होंगे और इसमें एक 63 मीटर का एक नेविगेशनल स्पैन होगा. यह नेविगेशनल स्पैन वर्टिकल ऊपर—नीचे होगा, जिससे कि शिप और स्टीमर्स को आने—जाने का रास्ता मिलेगा. ब्रिटिश समय में बने पम्बन ब्रिज में एक ‘Scherzer’ रोलिंग लिफ्ट टेक्नोलॉजी थी, जो ब्रिज के हिस्से को क्षैतिज रुपये से खोलने में मदद करती थी. नए पम्बन ब्रिज में एक नेविगेशनल क्लियरेंस होगा, जोकि समुद्र स्तर से 22 मीटर ऊपर होगा. वर्टिकल लिफ्ट 63 मीटर का पूरा रास्ता जहाजों के मूवमेंट के लिए उपलब्ध कराएगा.

अभी ट्रेनों के आवागमन को नियंत्रित करने के लिए एक मैनुअल आपरेशन सिस्टम है. नए ब्रिज में इलेक्ट्रो—मैकेजिनकल कंट्रोल्ड सिस्टम होगा. रेल मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने Financial Express Online को बताया कि रेल मंत्री पीयूष गोयल की अगुवाइ्र में रेल मंत्रालय ने 250 करोड़ रुपये के इस प्रोजेक्ट को मंजूरी दे दी है. इसके लिए जल्द ही टेंडर जारी किए जाएंगे.

पम्बन ब्रिज 1914 में शुरू हुआ था, जो भारतीय महाद्वीप पर मंडपम को मन्नार की खाड़ी में रामेश्वरम आईलैंड से जाड़ता है. 1988 तक इन दोनों जगहों को जोड़ने के लिए यह इकलौता संपर्क माध्यम था. तब इसके समानांतर एक रोड ब्रिज बनाया गया. ट्रेन पम्बन ब्रिज के लिए सैकड़ों तीर्थयात्रियों को रोज रामेश्वरम में मंदिर के दर्शन कराती है.

Ram Setu, New Pamban bridge, a rail link to Ram Setu, 2 big Indian Railways projects, Rameswaram, Dhanushkodi, Pamban island, indias firts vertical lift, Piyush Goyal, Railway Ministry, temple

भारतीय रेलवे के मानचित्र पर आएगा राम सेतु

धनुषकोटि राम सेतु का शुरुआती हिस्सा है. यह मान्यता है कि बिना यहां डुबकी लगाए हिंदू तीर्थयात्रियों की यात्रा पूरी नहीं मानी जाती है. 1964 में आए चक्रवात ने धनुषकोटि को पूरी तरह तबाह कर दिया. सैकड़ों की जान गई, ​इसमें वे यात्री भी शामिल थे जो धनुषकोटि से चलने वाली ट्रेन पर सवार थे. समुद्री लहरों के चलते पूरी ट्रेन पानी में समा गई थी.

अब भारतीय रलवे एक 17 किमी लंबी रेल लाइन रामेश्वरम से धनुषकोटि के लिए बनाने की तैयारी है. इसका मकसद यहां दोबारा से रेल कनेक्टिविटी शुरू करना और तीर्थयात्रियों की इस पवित्र नगरी में सहज तरीके से यात्रा का विकप्ल उपलब्ध कराना है. 208 करोड़ रुपये के इस प्रोजेक्ट को भी रेल मंत्रालय से मंजूरी मिल गई है. यह प्रोजेक्ट दो से तीन साल में पूरा होगा.

(स्टोरी: स्मृति जैन)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. राम सेतु के लिए रेलवे का बिग प्लान: नया ब्रिज और रेल लिंक आसान बनाएंगे रामेश्वरम-धनुषकोटि के दर्शन, जानें डिटेल

Go to Top