सर्वाधिक पढ़ी गईं

आर्थिक मोर्चे पर खुशखबरी! दिसंबर में रिकॉर्ड GST कलेक्शन, पहली बार 1.15 लाख करोड़ के पार

GST collection in December: इस महीने में जीएसटी कलेक्शन 1.15 लाख करोड़ को पार कर रिकॉर्ड ऊंचाई पर पहुंच गया.

Updated: Jan 01, 2021 3:35 PM
MSME Budget 2021 Expectations, Budget 2021 Expectations for MSMEServices offered by legal professionals, chartered accountants, architects, courier services, management consulting and services including HR, marketing, supply chain management, etc., attracts 18 per cent GST.

GST collection in December: दिसंबर में अब तक का रिकॉर्ड जीएसटी कलेक्शन रहा. इस महीने में जीएसटी कलेक्शन 1.15 लाख करोड़ को पार कर रिकॉर्ड ऊंचाई पर पहुंच गया. यह त्योहारी सीजन की मांग और सुधरती अर्थव्यवस्था को दिखाता है. वित्त मंत्रालय ने बयान में बताया कि दिसंबर 2020 के महीने में कुल जमा जीएसटी रेवेन्यू 1,15,174 रुपये है और यह वस्तु एवं सेवा कर के 1 जुलाई 2017 को लागू होने के बाद से सबसे ज्यादा रहा है.

पिछले 21 महीनों की सबसे ज्यादा ग्रोथ

वित्त मंत्रालय ने बयान में कहा कि यह पिछले 21 महीनों के लिए मासिक राजस्व में सबसे ज्यादा ग्रोथ है. ऐसा महामारी के बाद अर्थव्यवस्था में तेज रिकवरी और जीएसटी के फर्जी बिलों के खिलाफ देश भर में कार्रवाई साथ हाल ही में पेश किए गए बहुत से व्यवस्थित बदलावों के असर से हुआ है, जिससे अनुपालन में सुधार आया.

नवंबर महीने के लिए 31 दिसंबर 2020 तक फाइल की गई GSTR-3B रिटर्न की कुल संख्या 87 लाख है. महीने के दौरान सामान के आयात से रेवेन्यू 27 फीसदी ज्यादा था और घरेलू ट्रांजैक्शन (जिसमें सेवाओं का आयात शामिल है) 8 फीसदी ज्यादा था. यह पिछले साल के इसी महीने के मुकाबले है.

GST रेवेन्यू में रिकवरी के हाल ही के ट्रेंड को जारी रखते हुए, दिसंबर में लगातार तीसरे महीने आंकड़ा 1 लाख करोड़ रुपये को पार कर गया और दिसंबर 2019 में जमा 1.03 लाख करोड़ से 12 फीसदी ज्यादा रहा.

CGST 21,365 करोड़ और SGST 21,365 करोड़

दिसंबर के दौरान सेंट्रल जीएसटी 21,365 करोड़ रुपये, स्टेट जीएसटी 27,804 करोड़ रुपये, इंटिग्रेटेड जीएसटी 57,426 करोड़ (सामान के आयात पर जमा 27,050 करोड़ मिलाकर) और सेस 8,579 करोड़ (सामान के आयात पर जमा 971 करोड़ शामिल) है.

नए साल पर मिलेगी देश में कोरोना वैक्सीन के इस्तेमाल को मंजूरी! एक्सपर्ट कमिटी आज लेगी फैसला

दिसंबर में जीएसटी रेवेन्यू का आंकड़ा जीएसटी लागू होने के बाद सबसे ज्यादा और पहली बार 1.15 लाख करोड़ को पार किया है. अब तक का सबसे ज्यादा जीएसटी कलेक्शन अप्रैल 2019 के महीने में 1,13,866 करोड़ था. अप्रैल में राजस्व सामान्य तौर पर ज्यादा रहता है, क्योंकि यह मार्च में रिटर्न से संबंधित है, जो वित्त वर्ष का खत्म होना होता है.

अब तक जीएसटी रेवेन्यू इस व्यवस्था के लागू होने के बाद तीन बार 1.1 लाख के पार गया है. पिछली तिमाही में जीएसटी रेवेन्यू में औसत ग्रोथ 7.3 फीसदी रही जो दूसरी तिमाही में – 8.2 फीसदी और वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में – 41.0 फीसदी थी.

यह चार्ट मौजूदा साल में जीएसटी रेवेन्यू के ट्रेंड को दिखाता है:

(Source: PIB India)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. आर्थिक मोर्चे पर खुशखबरी! दिसंबर में रिकॉर्ड GST कलेक्शन, पहली बार 1.15 लाख करोड़ के पार
Tags:GST

Go to Top