सर्वाधिक पढ़ी गईं

किसानों के लिए अच्छी खबर! सरकार ने 8% तक बढ़ाई एथेनॉल की कीमत

केंद्र सरकार ने एथेनॉल सप्लाई इयर 2020-21 (1 दिसंबर 2020 से 30 नवंबर 2021) के लिए एथेनॉल के अधिकतम भाव को फिक्स्ड कर दिया है

Updated: Oct 29, 2020 5:59 PM
Govt hikes ethanol price by 5-8percent pm modi leadership committee decidedकेंद्र सरकार ने ईबीपी प्रोग्राम को अंडमान निकोबार और लक्षद्वीप के अलावा पूरे देश में लागू किया है. (Image-Reuters)

प्रधानमंत्री मोदी की अध्यक्षता में आज आर्थिक मामलों की एक कैबिनेट कमेटी ने पेट्रोल में मिलाए जाने वाले एथेनॉल की कीमत 5-8 फीसदी तक बढ़ाए जाने का फैसला लिया है. यह जानकारी सूचना और प्रसारण मंत्री प्रकाश जावडेकर ने दी. केंद्रीय कैबिनेट के इस फैसले से किसानों को मेहनताना मिलने और तेल आयात कम करने में मदद मिलेगी. पेट्रोल में 10 फीसदी तक एथेनॉल मिलाया जाता है. सरकार के इस फैसले से पर्यावरण सुरक्षा भी होगी क्योंकि एथनॉल एनवायरमेंट-फ्रेंडली है.

कैबिनेट ने कई फैसले लिए

केंद्र सरकार ने एथेनॉल सप्लाई इयर 2020-21 (1 दिसंबर 2020 से 30 नवंबर 2021) के लिए एथेनॉल के अधिकतम भाव को फिक्स्ड कर दिया है. एथेनॉल ब्लेंडेड पेट्रोल (ईबीपी) प्रोग्राम के तहत उत्पादित एथेनॉल को उनके स्रोत के आधार पर अधिकतम भाव घोषित किया गया है. केंद्रीय कैबिनेट ने कई फैसले लिए हैं.

  • सी हैवी मोलैसेज (गुड़) रूट (C heavy molasses route)से मिले एथेनॉल का भाव 43.75 रुपये प्रति लीटर से बढ़ाकर 45.69 रुपये प्रति लीटर कर दिया गया है.
  • बी हैवी मोलैसेज रूट (B heavy molasses route) से मिले एथेनॉल का भाव 54.27 रुपये प्रति लीटर से बढ़ाकर 57.61 रुपये प्रति लीटर कर दिया गया है.
  • सूगरकेन (ईख) के रस, चीनी या सूगर सीरप रूट से मिले एथेनॉल का भाव 59.48 रुपये प्रति लीटर से बढ़ाकर 62.65 रुपये प्रति लीटर कर दिया गया है.
  • जीएसटी और ट्रांसपोर्टेशन चार्ज का भुगतान किया जाएगा. ओएमसीज को ट्रांसपोर्टेशन चार्जेज को उचित दर पर तय करने की सलाह दी है ताकि लंबी दूरी से होने वाली एथेनॉल की आपूर्ति हतोत्साहित न हो.
  • राज्य के भीतर के स्थानीय उद्योगों को बढ़िया अवसर उपलब्ध कराने के लिए ऑयल मार्केटिंग कंपनीज (ओएमसीज) परिवहन लागत, उपलब्धात इत्यादि पर भी गौर करेगी.

क्या है ईबीपी प्रोग्राम

केंद्र सरकार ने ईबीपी प्रोग्राम को अंडमान निकोबार और लक्षद्वीप के अलावा पूरे देश में लागू किया है. इस प्रोग्राम के तहत ओएमसीज 10 फीसदी एथेनॉल मिलाकर पेट्रोल की बिक्री करती है. यह प्रोग्राम 1 अप्रैल 2019 से लागू हुआ है, जिसे अल्टरनेटिव और एनवायरमेंट फ्रेंडली फ्यूल के प्रयोग को प्रमोट करने के लिए लाया गया था. इसके जरिए सरकार को ऊर्जा जरूरतों को पूरा करने के लिए आयात पर निर्भरता कम होगी और कृषि क्षेत्र को भी बढ़ावा मिलेगा.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. किसानों के लिए अच्छी खबर! सरकार ने 8% तक बढ़ाई एथेनॉल की कीमत

Go to Top