सर्वाधिक पढ़ी गईं

Startup की परिभाषा बदली: एंजल टैक्स के नियमों में ढील, 100 करोड़ तक सालाना टर्नओवर वाली कंपनी भी स्टार्टअप

अभी जिन Startup में 10 करोड़ से उपर का निवेश है, उन्हें टैक्स में छूट नहीं मिलती.

Updated: Feb 19, 2019 1:49 PM
Government relaxes norms investment limit for angel tax concession to startupsस्टार्टअप्स को मिली राहत

Angle Tax: Startup को राहत देते हुए अब सरकार ने एंजल टैक्स के नियमों में राहत दी है. अब स्टार्टअप्स में 25 करोड़ रुपये तक के निवेश पर टैक्स में छूट मिल सकेगी. अभी जिन स्टार्टअप में 10 करोड़ से ज्यादा का निवेश है, उन्हें टैक्स में छूट नहीं मिलती है. इस बारे में जल्द ही नोटिफीकेशन जारी किया जाएगा.

Startup की परिभाषा में बदलाव

इसके अलावा स्टार्टअप की परिभाषा में भी बदलाव किया गया है. पहले कंपनी रजिस्टर होने के 7 साल तक उसे स्टार्टअप माना जाता था. लेकिन अब इस समय सीमा को बढ़ाकर 10 साल कर दिया गया है. अधिकारियों ने बताया कि ‘अब किसी भी कंपनी को तब स्टार्टअप नहीं माना जाएगा जब किसी फाइनेंशियल ईयर में उसका टर्नओवर 100 करोड़ से अधिक होगा. पहले ये रकम केवल 25 करोड़ थी.

स्टार्टअप के नियम आसान

इसके अलावा किसी लिस्टेड कंपनी जिसकी नेटवर्थ 100 करोड़ है या फिर उसका टर्नओवर 250 करोड़ से उपर है, उसके द्वारा किए गए निवेश को इनकम टैक्स की धारा 56 (2) (viib) को टैक्स में छूट मिलेगी. इसके अलावा नॉन रेडिडेंट शुरू किए गए किसी स्टार्टअप को भी धारा 56 (2) (viib) को टैक्स में एक्जेम्पशन मिलेगी.

अधिकारी ने बताया कि टैक्स में छूट लेने के लिए किसी भी स्टार्टअप को अचल संपत्ति, 10 लाख से ज्यादा कीमत का ट्रांसपोर्ट व्हीकल, कर्ज के रूप में किसी भी तरह का निवेश किसी दूसरी संस्था या एसेट में नहीं करना है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. Startup की परिभाषा बदली: एंजल टैक्स के नियमों में ढील, 100 करोड़ तक सालाना टर्नओवर वाली कंपनी भी स्टार्टअप

Go to Top