सर्वाधिक पढ़ी गईं

Covid-19 Vaccine: गर्भवती महिलाओं को वैक्सीन चुनने की मिलेगी मंजूरी! कोविशील्ड की 2 डोज में गैप बढ़ाने की सिफारिश

Covid-19 Vaccine की डोज में गैप और गर्भवती महिलाओं के वैक्सीनेशन को लेकर राष्ट्रीय स्तर पर बने एक सलाहकार समूह ने सिफारिश की है.

May 13, 2021 12:44 PM
Government panel suggests increasing gap between two doses of Covishield and pregnant women may be offered the choice to take any COVID-19 vaccineCovaxin के डोजेज में बदलाव को लेकर कोई सिफारिश नहीं की गई है.

Covid-19 Vaccine: कोरोना वैक्सीन की पहली डोज लगवाने के बाद दूसरी डोज लेने के लिए गैप में बढ़ोतरी हो सकती है. इसके अलावा गर्भवती महिलाओं को किसी भी कंपनी की कोरोना वैक्सीन चुनने का विकल्प दिया जा सकता है. सलाहकार समिति राष्ट्रीय टीकाकरण तकनीकी सलाहकार समूह (NTAGI) ने इसे लेकर सिफारिश की है. सलाहकार समूह की सिफारिश के मुताबिक कोवीशील्ड वैक्सीन की दो डोज के बीच 12-16 हफ्ते का फर्क होना चाहिए. इसके अलावा NTAGI ने दूध पिलाने वाली (स्तनपान) महिलाओं को डिलीवरी के बाद कभी भी वैक्सीन की डोज लेने की मंजूरी देने की मंजूरी की सिफारिश की है. सूत्रों के हवाले से इन सिफारिशों की जानकारी प्राप्त हुई है.

Covid-19 Vaccine: 2-18 साल की उम्र वालों पर होगा Covaxin का ट्रायल, DCGI ने दी मंजूरी

NTAGI द्वारा की गई सिफारिशें

  • कोवीशील्ड वैक्सीन की दो डोज के बीच गैप बढ़ाकर 12-16 हफ्ते किया जाए. इस समय यह अंतराल चार से आठ हफ्ते का है.
  • गर्भवती महिलाओं को अपनी इच्छा से उपलब्ध किसी भी कंपनी की कोरोना वैक्सीन लगवाने की मंजूरी दी जाए. भारत में इस समय दो कंपनियों की वैक्सीन उपलब्ध है, एक- सीरम इंस्टीट्यूट की कोवीशील्ड और दूसरी- भारत बॉयोटेक की कोवैक्सीन.
  • अपने बच्चों को स्तनपान कराने वाली महिलाओं को डिलीवरी के बाद किसी भी समय वैक्सीन की डोज लगवाने के लिए मंजूरी दी जाए.
  • जिन लोगों को लैब टेस्ट में कोरोना संक्रमण होने की पुष्टि हुई है, उनके लिए छह महीने तक के लिए वैक्सीनेशन को स्थगित कर देना चाहिए.

Covaxin की डोज में बदलाव को लेकर कोई सिफारिश नहीं

सलाहकार समूह ने देश में निर्मित Covaxin के डोजेज में बदलाव को लेकर कोई सिफारिश नहीं की है. राष्ट्रीय टीकाकरण तकनीकी सलाहकार समूह द्वारा की गई इन सिफारिशों को कोरोना वैक्सीन के वैक्सीन की निगरानी के लिए बने विशेषज्ञों के राष्ट्रीय समूह को भेजा जाएगा, जहां इस पर विचार किया जाएगा. भारत में दुनिया का सबसे बड़ा वैक्सीनेशन कार्यक्रम चल रहा है. इस समय कई राज्यों में वैक्सीन की किल्लत चल रही है, ऐसे में पहली डोज के बाद और बीमारी से ठीक होने के बाद गैप बढ़ाने का फैसला वैक्सीन की कमी से निपटने में भी मददगार साबित हो सकता है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. Covid-19 Vaccine: गर्भवती महिलाओं को वैक्सीन चुनने की मिलेगी मंजूरी! कोविशील्ड की 2 डोज में गैप बढ़ाने की सिफारिश

Go to Top