scorecardresearch

पूर्व केंद्रीय मंत्री रघुवंश प्रसाद सिंह का निधन, दिल्ली के एम्स में ली आखिरी सांस

सिंह का सुबह करीब 11 बजे सांस लेने में कठिनाई और अन्य जटिलताओं के कारण निधन हो गया.

Former union minister Raghuvansh Prasad Singh dies at AIIMS, Delhi
Image: PTI

पूर्व केंद्रीय मंत्री रघुवंश प्रसाद सिंह (Raghuvansh Prasad Singh) का रविवार को राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में निधन हो गया. उनके एक करीबी सहयोगी ने यह जानकारी दी. एम्स में इलाज के दौरान रघुवंश प्रसाद सिंह के साथ रहे केदार यादव ने बताया कि सिंह का सुबह करीब 11 बजे सांस लेने में कठिनाई और अन्य जटिलताओं के कारण निधन हो गया.

यादव ने बताया कि सिंह के परिवार में दो पुत्र और एक पुत्री हैं. सिंह की पत्नी का पहले ही निधन हो चुका है. सिंह (74) का पार्थिव शरीर अंतिम संस्कार के लिए पटना लाया जाएगा. यादव के अनुसार सिंह शुक्रवार रात को गंभीर रूप से बीमार हो गये थे और उन्हें एम्स के आईसीयू में वेंटिलेटर पर रखा गया था.

जून में सिंह को कोरोना वायरस संक्रमित पाया गया था और उन्हें पटना के एम्स में भर्ती कराया गया था. कोविड-19 से उबरने के बाद की जटिलताओं को देखते हुए उन्हें हाल ही में राष्ट्रीय राजधानी के एम्स में भर्ती कराया गया था.

राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, गृह मंत्री ने भी जताया दुख

रघुवंश प्रसाद सिंह की मृत्यु पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह, कांग्रेस नेता राहुल गांधी आदि तमाम नेताओं ने दुख प्रकट किया है. सिंह का अंतिम संस्कार सोमवार को होगा.

देश को मिली 3 पेट्रोलियम प्रोजेक्ट्स की सौगात; बढ़ेगी इंडस्ट्री, मिलेगा रोजगार

बिहार के दिग्गज नेताओं में से एक

रघुवंश प्रसाद सिंह बिहार के दिग्गज नेताओं में से थे. दिल्ली एम्स में शिफ्ट कराए जाने के बाद गुरुवार को रघुवंश प्रसाद सिंह ने आरजेडी मुखिया लालू प्रसाद यादव के नाम एक पत्र लिखा था, जिसमें उन्होंने आरजेडी छोड़ने का ऐलान किया था. हालांकि, उनके आरजेडी से इस्तीफे को लालू यादव ने पत्र लिखकर नामंजूर कर दिया था और उन्हें मनाने की कोशिश की थी. रघुवंश प्रसाद सिंह के निधन की खबर से दुखी लालू प्रसाद यादव ने ट्वीट कर कहा, ‘प्रिय रघुवंश बाबू! ये आपने क्या किया? मैंने परसों ही आपसे कहा था आप कहीं नहीं जा रहे हैं. लेकिन आप इतनी दूर चले गए. नि:शब्द हूं. दुःखी हूं. बहुत याद आएंगे.’

 

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

TRENDING NOW

Business News