सर्वाधिक पढ़ी गईं

RBI अगले हफ्ते खरीदेगा सरकारी बांड, OMO के जरिए सिस्टम में 20 हजार करोड़ की आएगी लिक्विडिटी

RBI to Buy Government Bond: आरबीआई अगले हफ्ते सरकारी बांडों की खरीद करेगी.

Updated: Oct 09, 2020 12:48 PM
RBI, BondRBI to Buy Government Bond: आरबीआई अगले हफ्ते सरकारी बांडों की खरीद करेगी.

RBI to Buy Government Bond: केंद्रीय बैंक आरबीआई ने शुक्रवार को सिस्टम में पर्याप्त लिक्विडिटी बनी रहे, इसके लिए कहा कि वह अगले हफ्ते सरकारी बांडों की खरीद करेगी. सरकारी बांडों की खरीद से फाइनेंशियल सिस्टम में लिक्विडिटी आएगी. आरबीआई गवर्नमेंट शक्तिकांत दास ने कहा कि केंद्रीय बैंक पहली बार ओपन मार्केट ऑपरेशंस (OMO) के तहत सरकारी बांड खरीदेगी. इसके अलावा आरबीआई ने यह भी कहा कि गवर्नमेंट सिक्योरिटीज की खरीद के जरिए भी लिक्विडिटी बढ़ाई जाएगी. फिलहाल अगले हफ्ते ओपन मार्केट ऑपरेशंस के जरिए 20 हजार करोड़ का आॅक्सन किया जाएगा.

आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा कि एसडीएल (स्टेट डेवलपमेंट लोन) को लिक्विडिटी प्रदान करने और इस प्रकार एफिसिएंट प्राइसिंग के निर्धारण की सुविधा के लिए, यह तय किया गया है कि चालू वित्त वर्ष के दौरान एक विशेष मामले के रूप में ओपने मार्केट आपरेशंस का संचालन किया जाएगा. यह सेकंडरी मार्केट के गतिविधियों में सुधार करेगा.

मेच्योरिटी लिमिट बढ़ाई

केंद्रीय बैंक ने बैंकों की हेल्ड टु मेच्योरिटी लिमिट को मांग और समय देनदारियों (एनडीटीएल) के 19.5 फीसदी से बढ़ाकर 22 फीसदी कर दिया है. इससे ओएमओ में एसएलडी को शामिल करने के साथ ही उम्मीद की जा रही है कि इससे लिक्विडिटी को लेकर चिंता दूर होगी. साथ ही राज्य सरकार के बारोइंग प्रोग्राम को भी सपोर्ट मिलेगा.

ब्याज दरों में बदलाव नहीं

बता दें कि रिजर्व बैंक की मॉनेटरी पॉलिसी कमिटी ने ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं किया है. भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास की अध्यक्षता वाली 6 सदस्यों वाली मॉनेटरी पॉलिसी कमिटी ने ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं करने का फैसला किया है. रेपो रेट 4% पर बरकरार है. MPC ने सर्वसम्मति से ये फैसला किया है. रिवर्स रेपो रेट 3.35 फीसदी पर बरकरार है. बता दें कि एमपीसी की मीटिंग 7 अक्टूबर से शुरू हुई थी. पहले यह मीटिंग 29 सितंबर से 1 अक्टूबर तक होने वाली थी.

इससे पहले अगस्त में आरबीआई एमपीसी की बैठक हुई थी, जिसमें ब्याज दरें नहीं बदली थीं. इसके पहले मई में ब्याज दरों में 40 बेसिस प्वॉइंट और मार्च में 75 बेसिस प्वॉइंट की कटौती की गई थी. इस साल अबतक दरों में 115 बेसिस प्वॉइंट की कटौती हो चुकी है. इस बार वहीं, फरवरी 2019 से अब तक MPC ने रेपो रेट में 2.50 फीसदी की बड़ी कटौती कर चुका है.सभी 6 MPC सदस्यों ने ब्याज दरें स्थिर रखने के पक्ष में वोट किया. ब्याज दरों को लेकर अकोमोडेटिव रुख बरकरार है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. RBI अगले हफ्ते खरीदेगा सरकारी बांड, OMO के जरिए सिस्टम में 20 हजार करोड़ की आएगी लिक्विडिटी
Tags:RBI

Go to Top