सर्वाधिक पढ़ी गईं

कर दायरा बढ़ाने पर सरकार का फोकस, छूट गए क्षेत्रों की हो रही पहचान: रेवेन्यु सेक्रेटरी

सरकार ग्रॉस डॉमेस्टिक प्रोडक्ट्स (GDP) में टैक्स रेवेन्यु की हिस्सेदारी बढ़ाने पर ध्यान दे रही है.

December 30, 2018 4:09 PM
Focussing on improving tax compliance, identifying areas which have escaped tax net: Revenue SecretaryGST अधिकारी यह सुनिश्चित करेंगे कि ईमानदारी से कर चुकाने वाले करदाताओं को परेशान नहीं किया जाए. (UIDAI)

सरकार ग्रॉस डॉमेस्टिक प्रोडक्ट्स (GDP) में टैक्स रेवेन्यु की हिस्सेदारी बढ़ाने पर ध्यान दे रही है. इसके लिए कर अनुपालन को बेहतर बनाने और उन क्षेत्रों की पहचान हो रही है, जो कर दायरे से बाहर रह गए हैं. रेवेन्यु सेक्रेटरी अजय भूषण पाण्डेय ने यह जानकारी दी है.

उन्होंने कहा कि वस्तु एवं सेवा कर (GST) अधिकारी यह सुनिश्चित करेंगे कि ईमानदारी से कर चुकाने वाले करदाताओं को परेशान नहीं किया जाए. लेकिन जो लोग कर भुगतान में आनाकानी करते हैं या रिटर्न दाखिल नहीं करते हैं उन्हें कर दायरे में लाया जाए. पाण्डेय ने आगे कहा कि आयकर विभाग अगले एक वर्ष में कर मामलों की जांच के लिए अधिकारी-करदाता के मिले बिना ही आकलन करने की प्रणाली को लागू करेगा.

पिछले 4 सालों में GDP टैक्स रेशियो बढ़कर हुआ 11.5%

जीडीपी में कर अनुपात बढ़ाने के लिए सरकार के कदम के बारे में पूछने पर पाण्डेय ने कहा, “इससे जुड़े दो मुद्दे हैं, एक में सरकार की नीति शामिल है जैसे कि जिन क्षेत्रों पर कर नहीं लगता है, उन्हें कर के दायरे में लाया जाना चाहिये, जबकि दूसरे में कर नियमों के अनुपालन में सुधार लाने के लिए और कदम उठाने की जरुरत है.

अत: उन क्षेत्रों में जिन्हें कर के दायरे में लाने की गुजाइंश है और जहां बिना किसी प्रतिकूल प्रभाव के ऐसा किया जा सकता है, ऐसे क्षेत्रों की पहचान करनी होगी और उसके बाद हमें इस पर काम करना होगा. पिछले चार वर्षों में देश का जीडीपी टैक्स रेशियो 10 प्रतिशत से बढ़कर 11.5 प्रतिशत पर पहुंच गया.

2018-19 में 50% बढ़े IT रिटर्न भरने वाले

पाण्डेय ने कहा कि आकलन वर्ष 2018-19 में आयकर रिटर्न दाखिल करने वालों की संख्या बढ़कर 6 करोड़ से अधिक हो गई है. यह इससे पिछले साल की तुलना में 50 प्रतिशत अधिक है. कर अनुपालन में सुधार, ईमानदार करदाताओं को सुविधा देने के लिए केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) विभिन्न पहलों की योजना बना रहा है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. कर दायरा बढ़ाने पर सरकार का फोकस, छूट गए क्षेत्रों की हो रही पहचान: रेवेन्यु सेक्रेटरी

Go to Top