मुख्य समाचार:

GDP back-series data: वित मंत्री जेटली ने किया बचाव- CSO विश्वसनीय संस्था, वास्तविक हैं आंकड़े

वित्त मंत्री जेटली ने कहा कि सीएसओ की अपनी साख है. सीएसओ का कामकाज वित्त मंत्रालय के अधीन नहीं है.

November 29, 2018 1:22 PM
Finance Minister Arun Jaitley on GDP back-series data, New GDP series Data, Indian economy, CSO, UPA, GDP growth Rate, GDP, Finance Ministryवित्त मंत्री जेटली ने कहा कि सीएसओ की अपनी साख है. सीएसओ का कामकाज वित्त मंत्रालय के अधीन नहीं है. (Reuters)

GDP back-series data: केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय (CSO) की तरफ से GDP नई सीरीज पर जारी किए गए आंकड़ों पर उठे विवाद के बीच वित्त मंत्री अरुण जेटली ने गुरुवार को नई सीरीज के आंकड़ों का बचाव किया. जेटली ने कहा कि नई GDP सीरीज भारतीय ​अर्थव्यवस्था वास्तविक ​स्थिति बताने में अधिक सक्षम है. आंकड़े काल्पनिक नहीं है यह पूरी तरह वास्तविक हैं. बता दें, सीएसओ ने बुधवार को नई सीरीज पर जीडीपी आंकड़े जारी किए जिसमें आंकड़ों को 2004- 05 के आधार वर्ष के बजाय 2011- 12 के आधार वर्ष के हिसाब से संशोधित किया गया है. रिवाइज्ड ग्रोथ रेट के आंकड़े 2019 के आम चुनाव से पहले जारी किए गए हैं.

वित्त मंत्री जेटली ने कहा कि सीएसओ की अपनी साख है. सीएसओ का कामकाज वित्त मंत्रालय के अधीन नहीं है. यूपीए ने 2015 में सीएसओ के आंकड़े की सराहना की थी. यूपीए ने सीएसओ के आंकड़े की उस वक्ता सराहना की थी, जब वित्त वर्ष 2013, 2014 के रिवाइज ग्रोथ रेट के आंकड़े बढ़े थे. ठीक वैसा ही काम अब सीएसओ ने किया है लेकिन ग्रोथ के आंकड़े घटे हैं, तो आज कांग्रेस इसकी आलोचना कर रही है. जीडीपी के सभी आंकड़ें नई सीरीज के आधार पर होंगे.

ये भी पढ़ें…घट गए UPA कार्यकाल के ग्रोथ रेट आंकड़े

नई सीरीज से घट गए UPA के ग्रोथ आंकड़े

CSO की तरफ से जारी जीडीपी के नई सीरीज के आंकड़ों के अनुसार, UPA सरकार के 10 साल के कार्यकाल के अधिकतर वर्षों के सकल घरेलू उत्पाद (GDP) में ग्रोथ रेट के आंकड़ों को घट गए हैं. इससे UPA सरकार के कार्यकाल के उस एकमात्र वर्ष के आंकड़ों में भी एक फीसदी से अधिक कमी आई है, जब देश ने डबल डिजिट में ग्रोथ दर्ज की थी. इसके अलावा 9 फीसदी से अधिक की ग्रोथ दर वाले तीन वर्षों के आंकड़ों में भी एक फीसदी की कमी आई है.

नई सीरीज से किस साल कितनी घटी ग्रोथ रेट

CSO की ओर से जारी एडजस्टेड डेटा के अनुसार, 2010-11 में अर्थव्यवस्था की ग्रोथ रेट 8.5 फीसदी रही थी. जबकि इसके पहले 10.3 फीसदी ग्रोथ का अनुमान लगाया गया था. इसी तरह 2011-12 में नई सीरीज से जीडीपी ग्रोथ रेट घटकर 5.2 फीसदी रह गई, जो पुरानी सीरीज के आधार पर 6.6 फीसदी थी. वहीं, 2005-06 और 2006-07 के 9.3- 9.3 फीसदी के ग्रोथ रेट के आंकड़ों को घटाकर क्रमश: 7.9 और 8.1 फीसदी किया गया है. इसी तरह 2007-08 के 9.8 फीसदी के ग्रोथ रेट के आंकड़े को घटाकर 7.7 फीसदी किया गया है.

GDP के तुलनात्मक आंकड़े

Finance Minister Arun Jaitley on GDP back-series data, New GDP series Data, Indian economy, CSO, UPA, GDP growth Rate, GDP, Finance MinistrySource: CSO

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. GDP back-series data: वित मंत्री जेटली ने किया बचाव- CSO विश्वसनीय संस्था, वास्तविक हैं आंकड़े

Go to Top