मुख्य समाचार:

फिच ने ‘स्टेबल’ से ‘निगेटिव’ किया भारत का ग्रोथ आउटलुक, रेटिंग BBB- पर बरकरार

फिच रेटिंग्स ने भारत के ग्रोथ आउटलुक को रिवाइज करते हुए स्टेबल से निगेटिव कर दिया है.

Published: June 18, 2020 10:34 AM
Fitch Ratings, Fitch cuts India outlook to negative from stable, rating unchanged at BBB- as lowest investment grade, COVID-19 challenges, Coronavirus impact on indian economy, S&P rating agency, moody'sफिच रेटिंग्स ने भारत के ग्रोथ आउटलुक को रिवाइज करते हुए स्टेबल से निगेटिव कर दिया है.

रेटिंग एजेंसी फिच रेटिंग्स ने अब भारत को झटका दिया है. रेटिंग एजेंसी ने भारत के ग्रोथ आउटलुक को रिवाइज करते हुए निगेटिव कर दिया है. इसके पहले फिच ने भारत के लिए स्टेबल आउटलुक की बात कही थी. हालांकि रेटिंग एजेंसी ने भारत के लिए पहले की ही तरह इशूअर डिफाल्ट रेटिंग BBB- बरकरार रखी है. यह रेटिंग लोएस्ट इन्वेस्टमेंट ग्रेड के लिए है. बता दें कि इसके पहले ग्रोथ आउटलुक को लेकर मूडीज ने भी ग्रोथ आउटलुक में कटौती की थी.

कोरोना ने डाला गहरा असर

फिच रेटिंग के अनुसार कोरोना वायरस महामहारी के चलते भारत की अर्थव्यवस्था पर गहरा असर पड़ा है. जिससे मौजूदा साल के लिए ग्रोथ आउटलुक कमजोर हुआ है. महामहारी के चलते कई तरह की चुनौतियां सामने आई हैं. कर्ज का बोझ बढ़ गया है. फिच का मानना है कि देश में कड़े लॉकडाउन के चलते वित्त वर्ष 2021 में इकोनॉमिक एक्टिविटी में 5 फीसदी गिरावट आ सकती है. हालांकि वित्त वर्ष 2022 में यह तेजी से बाउंसबैक करेगी.

FY22 में अर्थव्यवस्था तेजी से रिकवर होगी

फिच रेटिंग्स के अनुसार इस साल ग्रोथ निगेटिव रहेगी, लेकिन वित्त वर्ष 2022 में यह बाउंसबैक करेगी और 9.5 फीसदी के हिसाब से ग्रोथ कर सकती है. लो बेस का इसे फायदा मिलेगा. फिच का कहना है कि जिस तरह से देश में कोविड 19 के मामले बढ़ रहे हैं, रिस्क भी बढ़ रहा है. इन बातों का ध्यान रखते हुए रेटिंग रिवाइज की गई है. हालांकि यह देखना बाकी है कि कब तक कोविड 19 की चुनौतियां खत्म होने के बाद देश एक स्थिर ग्रोथ की ओर बढ़ेगा.

मूडीज ने भी घटाई थी रेटिंग

इसके पहले रेटिंग एजेंसी मूडीज ने भी ग्रोथ आउटलुक को घटा दिया था. मूडीज ने भारत की सॉवरेन रेटिंग को ‘Baa2’ से घटाकर ‘Baa3’ कर दिया. साथ ही एजेंसी ने देश के लिए निगेटिव आउटुलक बरकरार रखा है. इस कदम के पीछे कारण बताते हुए एजेंसी ने कहा कि भारत की बिगड़ती राजकोषीय स्थिति और लो ग्रोथ वाली अवधि के जोखिमों को कम करने के लिए पॉलिसीज के क्रियान्वयन को लेकर चुनौतियां रहेंगी. मूडीज ने भारत की लोकल करेंसी सीनियर अनसिक्योर्ड रेटिंग को भी Baa2 से घटाकर Baa3 कर दिया है. इसके अलावा भारत की शॉर्ट टर्म लोकल करेंसी रेटिंग को P-2 से घटाकर P-3 कर दिया गया है. आउटलुक अभी भी निगेटिव है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. फिच ने ‘स्टेबल’ से ‘निगेटिव’ किया भारत का ग्रोथ आउटलुक, रेटिंग BBB- पर बरकरार

Go to Top