सर्वाधिक पढ़ी गईं

Covid-19: अगले हफ्ते लांच होगी DRDO की दवा 2DG, कोरोना मरीजों के जल्द ठीक होने के आसार

Covid-19: दवा नियामक DGCI ने कोरोना के इलाज के लिए DRDO की बनाई दवा 2DG के आपातकालीन प्रयोग को पिछले हफ्ते मंजूरी दी थी.

Updated: May 15, 2021 12:48 PM
first batch of 10000 doses of 2DG medicine for curing COVID-19 patients would be launched early next week says DRDO officials2DG के 10 हजार खुराक की पहली बैच अगले हफ्ते के शुरुआती दिनों में उपलब्ध हो जाएगी और इसे मरीजों को दिया जाएगा.

Covid-19: पिछले हफ्ते दवा नियामक DGCI ने कोरोना के इलाज के लिए एक दवा 2DG के आपातकालीन प्रयोग को मंजूरी दी थी. इस दवा को DRDO ने विकसित किया है और अब डीआरडीओ ने जानकारी दी है कि 2DG के 10 हजार खुराक की पहली बैच अगले हफ्ते के शुरुआती दिनों में उपलब्ध हो जाएगी और इसे मरीजों को दिया जाएगा. डीआरडीओ के अधिकारियों ने जानकारी दी है कि इस दवा के उत्पादन को बढ़ाने के लिए ड्रग मैन्यूफैक्चरर्स काम कर रहे हैं. इस दवा 2-डीऑक्सी-डी-ग्लूकोज (2-डीजी) को डीआरडीओ ने प्रमुख दवा कंपनी डॉ रेड्डीज लैबोरेटरीज के सहयोग से तैयार किया है.

दवा के प्रयोग से कोरोना मरीजों की तेज रिकवरी

इस दवा को कोरोना वायरस के ग्रोथ को नियंत्रित करने में प्रभावी पाया गया है. डीजीसीआई के मुताबिक इस दवा के प्रयोग से वायरस के ग्रोथ पर प्रभावी नियंत्रण से अस्पताल में भर्ती कोरोना मरीजों के स्वास्थ्य में तेजी से रिकवरी हुई. इसके अलावा यह मेडिकल ऑक्सीजन की जरूरत को कम करता है. यह दवा एक पाउडर के रूप में आता है और इसे पानी में घोलकर मरीजों को दिया जा सकता है.

Covid-19: शरीर ही नहीं मन पर भी पड़ रही महामारी की मार, जानिए क्या हैं इससे बचने के उपाय

अप्रैल 2020 से मार्च 2021 के बीच तीन क्लीनिकल ट्रॉयल

  • दवा के पहले फेज का ट्रॉयल अप्रैल-मई 2020 में पूरी हुआ था. इसमें लैब में दवा पर एक्सपेरिमेंट किए गए.
  • मई 2020 से अक्टूबर 2020 के बीच दूसरे चरण के क्लीनिकल ट्रॉयल के लिए डीसीजीआई ने मंजूरी दी. दूसरे चरण के क्लीनिकल ट्रॉयल में देश के 11 अस्पतालों में भर्ती 110 मरीजों को शामिल किया गया. ट्रॉयल में शामिल मरीज अन्य मरीजों की तुलना में 2.5 दिन पहले ही ठीक हो गए.
  • डीआरडीओ ने नवंबर 2020 में दवा के तीसरे चरण के क्लीनिकल ट्रॉयल के लिए आवेदन किया. इसके लिए दिसंबर 2020 से मार्च 2021 के बीच ट्रॉयल को मंजूरी मिली. इस चरण में दिल्ली, उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल, गुजरात, राजस्थान, महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, कर्नाटक और तमिलनाडु में स्थित 27 अस्पतालों में 220 मरीजों पर इस दवा का परीक्षण किया गया. इस परीक्षण में पाया गया कि 2-डीजी के इस्तेमाल से 42 फीसदी मरीजों को तीसरे दिन से मेडिकल ऑक्सीजन की जरूरत नहीं रही जबकि जिन मरीजों को यह दवा नहीं दी गई, उनमें से सिर्फ 31 मरीजों को ही तीसरे दिन से मेडिकल ऑक्सीजन पर निर्भरता खत्म हुई. दवा का समान प्रभाव 65 साल से अधिक उम्र के बुजुर्गों पर भी दिखा.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. Covid-19: अगले हफ्ते लांच होगी DRDO की दवा 2DG, कोरोना मरीजों के जल्द ठीक होने के आसार

Go to Top