सर्वाधिक पढ़ी गईं

केंद्रीय मंत्री और LJP नेता राम विलास पासवान का निधन, PM मोदी ने जताया दुख, बताया व्यक्तिगत क्षति

पूर्व केंद्रीय मंत्री पासवान पिछले कुछ दिनों से बीमार थे.

Updated: Oct 08, 2020 10:04 PM
ex ljp head ram vilas paswan deadपासवान पिछले कुछ दिनों से बीमार थे.

केंद्रीय मंत्री और लोजपा के पूर्व प्रमुख राम विलास पासवान का 74 वर्ष की उम्र में आज देहांत हो गया. उनके पुत्र चिराग पासवान ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी है. वे पिछले कुछ दिनों से बीमार थे और दिल्ली के एस्कॉर्ट हॉस्पिटल में भर्ती थे. छह दिन पहले दो अक्टूबर की रात एम्स में उनकी हार्ट सर्जरी हुई थी.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उनके देहांत को व्यक्तिगत क्षति बताते हुए ट्वीट किया है कि राम विलास पासवान राजनीति में कड़ी मेहनत और दृढ़ संकल्प के जरिए उठे हैं. एक युवा नेता के तौर पर उन्होंने तानाशाही और आपातकाल के दौरान हमारे लोकतंत्र के खिलाफ किए गए वार का विरोध किया. वह एक बेहतर राजनीतिज्ञ और मंत्री थे. उन्होंने लिखा है कि राम विलास पासवान ने वह खाली जगह छोड़ी है जो अब शायद कभी भरी नहीं जा सकती है. राम विलास पासवान की मृत्यु एक व्यक्तिगत क्षति है. उन्होंने ट्वीट में लिखा है, मैंने अपना एक दोस्त, कीमती साथी और एक ऐसा व्यक्ति जो हर गरीब व्यक्ति को गरिायुक्त जिंदगी सुनिश्चित करने वाला व्यक्ति खोया है. प्रधानमंत्री मोदी ने उनके परिवार और समर्थकों के प्रति संवेदनाएं व्यक्त की हैं.

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने ट्वीट कर लिखा है कि केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान के निधन से देश ने एक दूरदर्शी नेता खो दिया है. उनकी गणना सर्वाधिक सक्रिय तथा सबसे लंबे समय तक जनसेवा करने वाले सांसदों में की जाती है. वे वंचित वर्गों की आवाज़ मुखर करने वाले तथा हाशिए के लोगों के लिए सतत संघर्षरत रहने वाले जनसेवक थे. आपातकाल विरोधी आंदोलन के दौरान जयप्रकाश नारायण जैसे दिग्गजों से लोकसेवा की सीख लेनेवाले पासवान जी फायरब्रांड समाजवादी के रूप मे उभरे. उनका जनता के साथ गहरा जुड़ाव था और वे जनहित के लिए सदा तत्पर रहे. उनके परिवार और समर्थकों के प्रति मेरी गहन शोक-संवेदना.

गृह मंत्री अमित शाह ने संवेदना व्यक्त करते हुए लिखा है कि सदैव गरीब और वंचित वर्ग के कल्याण व अधिकारों के लिए संघर्ष करने वाले हम सबके प्रिय राम विलास पासवान जी के निधन से मन अत्यंत व्यथित है. उन्होंने अपने राजनीतिक जीवन में हमेशा राष्ट्रहित और जनकल्याण को सर्वोपरि रखा. उनके स्वर्गवास से भारतीय राजनीति में एक शून्य उत्पन्न हो गया है. चाहे 1975 के आपातकाल के विरुद्ध संघर्ष करना हो या मोदी सरकार में कोरोना महामारी में गरीब कल्याण के मंत्र को सार्थक करना हो, राम विलास पासवान जी ने इन सभी में अद्वितीय भूमिका निभाई है. कई महत्वपूर्ण पदों पर कार्यरत रहते हुए, पासवान जी अपने सरल व सौम्य व्यक्तित्व से सबके प्रिय रहे. भारतीय राजनीति व केंद्रीय मंत्रिमंडल में उनकी कमी सदैव बनी रहेगी और मोदी सरकार उनके गरीब कल्याण व बिहार के विकास के स्वपन्न को पूर्ण करने के लिए कटिबद्ध रहेगी. मैं उनके परिजनों और समर्थकों के प्रति संवेदना व्यक्त करता हूँ और दिवंगत आत्मा की शांति की प्रार्थना करता हूँ. ॐ शांति.

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्ववीट किया कि रामविलास पासवान जी के असमय निधन का समाचार दुखद है. ग़रीब-दलित वर्ग ने आज अपनी एक बुलंद राजनैतिक आवाज़ खो दी. उनके परिवारजनों को मेरी संवेदनाएँ.

 

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. केंद्रीय मंत्री और LJP नेता राम विलास पासवान का निधन, PM मोदी ने जताया दुख, बताया व्यक्तिगत क्षति

Go to Top