मुख्य समाचार:

COVID-19 के गंभीर मरीजों का इलाज होगा आसान; दिल्ली, मुंबई, गुजरात में Covifor की सप्लाई शुरू, जानिए कीमत

कोविफोर के 20,000 वायल की पहली खेप 10-10 हजार के बराबर लॉट में पहले तुरंत हैदराबाद, दिल्ली, गुजरात, तमिलनाडु, मुंबई और महाराष्ट्र के अन्य हिस्सों में सप्लाई की गई है.

Published: June 25, 2020 6:13 PM
Domestic pharma giant Hetero starts delivering 20,000 vials of Covifor generic version of Remdesivir across the country including delhi mumbai covid19 treatmentकोविफोर ब्रांड रेमडेसिवीर का पहला जेनरिक वर्जन है, जिसका इस्तेमाल कोविड19 मरीजों के लिए किया जाता है. (ANI)

कोरोनावायरस कोविड-19 के गंभीर मरीजों के उपचार में अब एक बड़ी राहत सामने आई है. घरेलू दवा कंपनी हेटरो ने एंटी वायरल ड्रग रेमडेसिवीर (Remdesivir) के जेनरिक वर्जन कोविफोर (Covifor) की सप्लाई शुरू कर दी है. कंपनी ने 20,000 वायल की पहली खेप दिल्ली, मुंबई समेत कई शहरों में शुरू कर दी है. इसकी कीमत प्रति वायल 5,400 रुपये है. ड्रग रेग्युलेटर ने 13 जून को हेटरो को रेमडेसिवीर का जेनरिक वर्जन लाने की इजाजत दे दी थी.

कंपनी के प्रवक्ता ने एएनआई को बताया कि 20,000 वायल की पहली खेप 10-10 हजार के बराबर लॉट में पहले तुरंत हैदराबाद, दिल्ली, गुजरात, तमिलनाडु, मुंबई और महाराष्ट्र के अन्य हिस्सों में सप्लाई की गई है. जबकि दूसरा लॉट कोलकाता, इंदौर, भोपाल, लखनउ, पटना, भुवनेश्वर, रांची, विजयवाड़ा, काेचिन, ​त्रिवेंद्रमऔर गोवा में एक हफ्ते के भीतर सप्लाई कर दी जाएगी. आपात जरूरतों के लिए इसकी तुरंत सप्लाई सुनिश्चित की जाएगी.

हेटरो के एमडी एम श्रीनिवास रेड्डी ने बताया कि कोविफोर ब्रांड रेमडेसिवीर का पहला जेनरिक वर्जन है, जिसका इस्तेमाल कोविड19 मरीजों के लिए किया जाता है. कोविफोर के जरिए हम उम्मीद करते हैं कि अस्पताल में मरीजों के उपचार में लगने वाला समय कम लोगा. इससे मेडिकल इंफ्रास्ट्रक्चर पर दबाव कम होगा. बता दें, एंटी वायरल ड्रम रेमडेसिवीर का प्रमाणन केवल अस्पताल में भर्ती कोविड19 के मरीजों पर ‘प्रतिबंधित आपात इस्तेमाल’ के लिए ही है.

Covifor के इस्तेमाल का है प्रोटोकॉल

हेटरो का कहना है कि हम सरकार और मेडिकल कम्युनिटी के साथ मिलकर कोविफोर की उपलब्धता सरकारी और निजी अस्पतालों में कराने की दिशा में काम कर रहे हैं. कोविफोर इंजेक्शन का 100 मिलीग्राम का वायल 5,400 रुपये में मिलेगा. कंपनी ने अगले तीन-चार हफ्तों में एक लाख वायल तैयार करने का टारगेट तय किया है.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोविड19 मरीजों के लिए अपने ताजा क्लिनिकल मैनेजमेंट प्रोटोकॉल में कहा है कि रेमडेसिवीर का इस्तेमाल एक जांच थेरेपी की तरह है. मरीजों को 200 एमजी इंजेक्शन वायल पहले दिन उसके बाद रोज पांच दिन 10 एमजी इंजेक्शन वायल दिया जा सकता है. गर्भवती या स्तनपान कराने वाली मरीजों को यह दवा नहीं दी जा सकती है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. COVID-19 के गंभीर मरीजों का इलाज होगा आसान; दिल्ली, मुंबई, गुजरात में Covifor की सप्लाई शुरू, जानिए कीमत

Go to Top