मुख्य समाचार:

स्‍टूडेंट्स को फ्री में भी सफर कराता है रेलवे, 7 कैटेगरी के तहत टिकट पर मिलती है छूट

स्‍टूडेंट्स के लिए रेल टिकट पर डिस्‍काउंट 25 फीसदी से शुरू है.

October 19, 2018 8:37 AM
discount for students on train tickets in india, indian railway, irctcImage: PTI

स्‍टूडेंट्स यानी छात्रों को भारतीय रेलवे की ओर से ट्रेन टिकट पर डिस्कांउट दिया जाता है. इसके लिए कुछ खास कैटेगरी निश्चित हैं. इसके तहत घर से स्‍कूल या कॉलेज आना-जाना, टूर, विदेशी छात्रों का सफर, रिसर्च वर्क से संबंधित ट्रैवल आदि समेत 7 कैटेगरी शामिल हैं. स्‍टूडेंट्स के लिए रेल टिकट पर डिस्‍काउंट 25 फीसदी से शुरू है और फ्री में सफर की भी सुविधा है. आइए बताते हैं कि स्‍टूडेंट्स को किन उद्देश्‍य के लिए रेल सफर में कितने फीसदी तक का डिस्‍काउंट उपलब्‍ध है-

घर से स्‍कूल आना-जाना

– रेलवे लड़कियों को ग्रेजुएशन तक MST से सेकंड क्‍लास में फ्री में सफर करने की सुविधा देता है. वहीं लड़के 12वीं क्‍लास तक MST से सेकंड क्‍लास में फ्री में सफर कर सकते हैं.
– इसके तहत मदरसे के बच्‍चे भी शामिल हैं.

होमटाउन या एजुकेशनल टूर पर जाना

अपने गृह नगर यानी होमटाउन और एजुकेशनल टूर पर जाने वाले छात्रों ट्रेन से सस्‍ते में सफर कर सकते हैं. इसके तहत-
– जनरल कैटेगरी वाले स्‍टूडेंट्स के लिए सेकंड और स्‍लीपर क्‍लास के किराए में 50 फीसदी की छूट है. MST/QST रखने वालों को भी 50 फीसदी डिस्‍काउंट मिलता है.
– वहीं SC/ST कैटेगरी वाले स्‍टूडेंट्स को सेकंड व स्‍लीपर क्‍लास टिकट या MST/QST से सफर पर 75 फीसदी छूट है.

रिसर्च स्‍टूडेंट्स, कैंप में जाने वाले स्‍टूडेंट्स

– भारतीय रेलवे 35 साल तक के रिसर्च स्‍कॉलर्स को रिसर्च से जुड़े कामों के लिए रेल सफर पर टिकट पर 50 फीसदी की छूट देता है. यह छूट सेकंड और स्‍लीपर क्‍लास से सफर करने पर मिलती है.
– वर्क कैंप में भाग लेने जा रहे स्‍टूडेंट्स या नॉन-स्‍टूडेंट्स को सेकंड और स्‍लीपर क्‍लास रेल टिकट पर 25 फीसदी छूट मिलती है.

ग्रामीण इलाकों के बच्‍चों का सालाना टूर

गांवों के सरकारी स्‍कूल में पढ़ने वाले बच्‍चों को साल में एक बार स्‍टडी टूर के लिए सेकंड क्‍लास की रेल टिकट में 75 फीसदी छूट मिलती है.

विदेशी छात्र

भारत में पढ़ने वाले विदेशी छात्रों को भारत सरकार द्वारा आयोजित कैंप या सेमिनार में जाने के लिए ट्रेन से सफर पर सेकंड और स्‍लीपर क्‍लास टिकट में 50 फीसदी डिस्‍काउंट देता है. यह डिस्‍काउंट छुट्टियों में ऐतिहासिक और अन्‍य महत्‍वपूर्ण जगहों पर जाने के लिए भी मिलता है.

मरीन इंजीनियर्स अप्रेंटिस

– मर्केंटाइल मरीन की नेविगेशनल या इंजीनियरिंग ट्रेनिंग करने वाले कैडेट्स और मरीन इंजीनियर अप्रेंटिस को रेलवे सेकंड क्‍लास और स्‍लीपर क्‍लास टिकट पर 50 फीसदी की छूट देता है. यह छूट उन्‍हें घर से ट्रेनिंग शिप पर आने-जाने के उद्देश्‍स से सफर करने पर मिलती है.

एंट्रेंस और सरकारी नौकरी के लिए लिखित परीक्षा देने जाना
– ग्रामीण इलाकों के सरकारी स्‍कूल में पढ़ने वाली लड़कियों को मेडिकल, इंजीनियरिंग आदि के एंट्रेंस एग्‍जाम के लिए रेल टिकट पर 75 फीसदी छूट है. यह सेकंड क्‍लास से सफर के लिए रहती है.
– UPSC और सेंट्रल स्‍टाफ सिलेक्‍शन कमीशंस द्वारा आयोजित मुख्‍य लिखित परीक्षा देने वाले स्‍टूडेंट्स को रेल किराए में 50 फीसदी की छूट रहती है. यह सेकंड क्‍लास से सफर पर लागू है.

(सोर्स: indianrailways.gov.in)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. स्‍टूडेंट्स को फ्री में भी सफर कराता है रेलवे, 7 कैटेगरी के तहत टिकट पर मिलती है छूट

Go to Top