सर्वाधिक पढ़ी गईं

कोरोना का खतरा: 31 दिसंबर तक इंटरनेशनल फ्लाइट्स पर बैन, DGCA ने जारी किया आदेश

इस साल कोरोना महामारी के कारण 23 मार्च से ही कॉमर्शियल अंतरराष्ट्रीय उड़ानें प्रतिबंधित हैं.

Updated: Nov 26, 2020 2:04 PM
dgca ordered to ban on commercial international flights till further noticeडीजीसीए का आदेश इस साल 31 दिसंबर तक प्रभावी रहेगा.

कोरोना महामारी के कारण विमान नियामक डायरेक्टर जनरल ऑफ सिविल एविएशन (डीजीसीए) ने आज सभी प्रकार के कॉमर्शियल अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर अगले आदेश तक रोक लगा दी है. यह आदेश 31 दिसंबर तक प्रभावी रहेगा. इस आदेश के तहत भारत से दूसरे देशों को जाने वाली कॉमर्शियल फ्लाइट्स पर ही नहीं, बल्कि दूसरे देशों से आने वाले कॉमर्शियल फ्लाइट्स पर भी रोक लगी है.
इस साल कोरोना महामारी के कारण 23 मार्च से ही कॉमर्शियल अंतरराष्ट्रीय उड़ानें प्रतिबंधित हैं. हालांकि उस समय घरेलू उड़ानों को भी प्रतिबंधित किया गया था जिसे 25 मई से फिर से शुरू कर दिया गया था.

कुछ सेवाएं रहेंगी जारी

डीजीसीए ने जो आदेश जारी किया है, उसके तहत यह इंटरनेशनल ऑल-कार्गो ऑपरेशंस पर नहीं लागू होगा. इसके अलावा कुछ खास उड़ानों के लिए डीजीसीए ने विशेष मंजूरी दी गई है, वे भी जारी रहेंगी. जैसे कि वंदे भारत मिशन के तहत हवाई सेवाएं जारी रहेंगी. डीजीसीए के आदेश के मुताबिक कुछ इंटरनेशनल शेड्यूल्ड प्लाइट्स को चुनिंदा मार्गों पर मंजूरी दी जा सकती है.

यह भी पढ़ें- जुलाई 2021 तक 25 करोड़ को लग जाएगा कोरोना का टीका! क्या है सरकार की तैयारी

70% क्षमता के साथ हो रही घरेलू उड़ानें

इस समय घरेलू उड़ानों की बात करें तो कोरोना से पहले के समय के मुकाबले एयर कैरियर्स अपनी फुल कैपेसिटी की 70 फीसदी पर ऑपरेट हो रही हैं. कोरोना महामारी के कारण देश भर में लॉकडाउन लगाया गया था और सभी फ्लाइट्स भी बंद हो गई थी. घरेलू उड़ानों के लिए 25 मई से मंजूरी मिली लेकिन कोरोना से पहले के समय में उड़ानों की 33 फीसदी के बराबर. इसके बाद 26 जून को सिविल एविएशन मिनिस्ट्री ने यह सीमा बढ़ाकर 45 फीसदी कर दिया. इसके बाद इसे पिछले महीने बढ़ाकर 70 फीसदी कर दिया गया.

पिछले महीने हवाई यात्रियों में गिरावट

घरेलू उड़ानों से सफर करने वाले यात्रियों की बात करें तो पिछले महीने अक्टूबर में इसमें गिरावट आई है. पिछले साल अक्टूबर के मुकाबले इस बार अक्टूबर में 57.21 फीसदी कम 52.71 लाख यात्रियों ने यात्रा की. इसकी सबसे बड़ी वजह यह रही कि एयरलाइन कंपनियां बहुत कम क्षमता के साथ परिचालन कर पा रही है. पिछले साल अक्टूबर में डोमेस्टिक एयरलाइंस से 1.23 करोड़ यात्रियों ने हवाई सफर किया था.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. कोरोना का खतरा: 31 दिसंबर तक इंटरनेशनल फ्लाइट्स पर बैन, DGCA ने जारी किया आदेश

Go to Top