सर्वाधिक पढ़ी गईं

भक्त ने भगवान को अर्पित किया 4 किलो सोना, 3 किलो चांदी; नहीं जाहिर की पहचान

पुरी श्रीजगन्नाथ मंदिर प्रशासन ने बताया कि दानदाता ने अपनी पहचान सार्वजनिक नहीं करने का अनुरोध किया है. दानदाता किसी तरह की पब्लिसिटी नहीं चाहता है.

February 17, 2021 1:26 PM
Puri Jagannath Temple, Devotee donates over 4 kg gold, 3 kg silver, Puri Jagannath Temple trinity, Lord Balabhadra, Devi Subhadra, Lord Jagannath, Shree Panchami, Shree Jagannath Temple Administration, SJTA, gold jewellery, Jhoba, Srimukha, Padma, 12th-century shrine Puri Jagannath Templeश्रीजगन्नाथ मंदिर प्रशासन (SJTA) ने बताया कि श्री पंचमी के अवसर पर एक भक्त ने सोने और चांदी की यह ज्वैलरी दान के रूप में अर्पित की.

भगवान जगन्नाथ के एक भक्त ने मंदिर में ज्वैलरी के रूप में 4 किलो से अधिक सोना और 3 किलो से अधिक चांदी का दान किया है. श्रीजगन्नाथ मंदिर प्रशासन (SJTA) ने बताया कि श्री पंचमी के अवसर पर एक भक्त ने सोने और चांदी की यह ज्वैलरी भगवान बलभद्र, देवी सुभद्रा और भगवान जगन्नाथ को दान के रूप में अर्पित किया. मंदिर प्रशासन के अनुसार, मंगलवार को भक्त के एक प्रतिनिधि ने मंदिर प्रशासन के मुख्य प्रशासक कृष्ण कुमार से मुलाकात की और उन्हें मंदिर कार्यालय में प्रबंध समिति के कुछ सदस्यों और अन्य अधिकारियों की मौजूदगी में यह कीमती आभूषण सौंप दिए.

कुमार ने बताया कि भक्त ने यह अनुरोध किया है कि उसकी पहचान सार्वजनिक न की जाए. वह दान के लिए किसी तरह की लोकप्रियता नहीं चाहता है. सूत्रों के अनुसार, दान किये गए आभूषण 4.858 किलो सोना और 3.867 किलो चांदी से बने हैं. इन आभूषणों को त्रिमूर्ति यानी भगवान बलभद्र, देवी सुभद्रा और भगवान जगन्नाथ के लिए विशेष पूजा के मौके पर इस्तेमाल के अनुसार डिजाइन किया गया है.

आभूषणों में क्या है शामिल?

सोने की ज्वैलरी में तीनों देवी-देवताओं के लिए ‘झोबा’ (प्रतिमा का मध्य हिस्सा), श्रीमुख (चेहरा) और पद्म (कमल) शामिल है. यह मंदिर 12वीं शताब्दी का है. मंदिर में कुल 40 ‘श्रीमुख पद्म’ और दो ‘झोबा’ आभूषण भगवान बलभद्र के लए, 53 ‘श्रीमुख पद्म’ और दो ‘झोबा’ भगवान जगन्नाथ के लिए और दो ‘तदाकी’ और दो ‘झोबा’ देवी सुभद्रा के लिए दान किया गया.

इन आभूषणों की प्राप्ति के बाद इन्हें कड़ी सुरक्षा के बीच मंदिर कार्यालय के ट्रेजरी में रखा गया है. मंदिर प्रशासन इन आभूषणों को ‘भंडारा मेकापा’ (मंदिर के कोषाध्यक्ष) को सुपुर्द कर देगा.

इससे पहले, भुवनेश्वर के एक भक्त ने मंदिर के देवी-देवताओं के लिए ‘सूर्य’ और ‘चंद्र’ आभूषण दान में दिए थे. सूत्रों ने बताया कि बीते 10 जनवरी को एक भक्त ने 300 ग्राम से अधिक के स्वर्ण आभूषण दान किए थे. इससे पहले एक अन्य भक्त ने 21 किलो चांदी के आभूषण दान में दिए थे.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. भक्त ने भगवान को अर्पित किया 4 किलो सोना, 3 किलो चांदी; नहीं जाहिर की पहचान

Go to Top