मुख्य समाचार:

2+2 वार्ता: अमेरिका की एडवांस्ड टेक्नोलॉजी को एक्सेस कर सकेगा भारत, COMCASA पर हुए साइन

इस वार्ता में भारत की ओर से रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण और विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने हिस्सा लिया. वहीं अमेरिका की ओर से विदेश मंत्री माइक पोम्पियो और रक्षामंत्री जेम्स मैटिस ने बातचीत की

September 6, 2018 5:53 PM
2 plus 2 talk between america and india, sushma swaraj, nirmala sitharaman, james mattis, mike pompeoभारत की ओर से रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण और विदेश मंत्री सुषमा स्वराज, अमेरिका की ओर से विदेश मंत्री माइक पोम्पियो और रक्षामंत्री जेम्स मैटिस. (MEAIndia)

भारत और अमेरिका के बीच गुरुवार को पहली ‘2+2’ वार्ता हुई. इस दौरान दोनों देशों ने रक्षा, आतंकवाद समेत कई मुद्दों पर बातचीत की. वार्ता में भारत की ओर से रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण और विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने हिस्सा लिया. वहीं, अमेरिका की ओर से विदेश मंत्री माइक पोम्पियो और रक्षामंत्री जेम्स मैटिस ने बातचीत की. बता दें कि इस वार्ता के लिए दोनों अमेरिकी मंत्री भारत आए थे.

‘2+2’ वार्ता के दौरान भारत और अमेरिका के बीच कम्युनिकेशंस कंपैटिबिलिटी एंड सिक्योरिटी एग्रीमेंट (COMCASA) पर हस्ताक्षर किए गए. सूत्रों का कहना है कि COMCASA भारत के लिए अधिक संवेदनशील अमेरिकी मिलिट्री इक्विपमेंट खरीदने के लिए रास्ते खोलेगा. साथ ही अमेरिका तथा भारतीय सशस्त्र बलों के बीच अंतर-सक्रियता के लिए महत्वपूर्ण संचार नेटवर्क तक भारत की पहुंच भी विकसित होगी.

शांति, समृद्धि और विकास के लिए करेंगे हरसंभव सहयोग

2+2 वार्ता के बाद रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि भारत और अमेरिका के बीच कम्युनिकेशंस कंपैटिबिलिटी एंड सिक्योरिटी एग्रीमेंट (COMCASA) होने से भारत अमेरिका से एडवांस्ड टेक्नोलॉजी को एक्सेस करने में सक्षम बन जाएगा. आज की बैठक में दोनों देशों ने एक बार फिर एक-दूसरे को विश्वास दिलाया है कि हम शांति, समृद्धि और विकास को सुनिश्चित करने के लिए हरसंभव सहयोग करेंगे.

NSG में भारत को शामिल करने के लिए मिलकर करेंगे काम

भारतीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कहा कि इस बैठक में दोनों देशों के बीच न्यूक्लियर सप्लायर ग्रुप (NSG) में भारत को शामिल किए जाने को लेकर साथ काम करने के लिए सहमति बनी है. आगे कहा कि दोनों देश आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में साथ मिलकर काम कर रहे हैं. हम अफगानिस्तान को लेकर राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की पॉलिसी का स्वागत करते हैं. साथ ही अमेरिका द्वारा आतंकवादियों के खिलाफ उठाए गए कदमों का भी स्वागत करते हैं. यह लिस्टिंग पाकिस्तान में पनप रहे आतंकवाद पर आधारित है, जो भारत, अमेरिका और पूरी दुनिया को समान रूप से प्रभावित कर रही है.

PM नरेन्द्र मोदी के साथ भी करेंगे बैठक: पोम्पियो

वार्ता के दौरान अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने कहा कि हमने दोनों देशों के बीच के द्विपक्षीय संबंधों और हमारे साझा भविष्य को लेकर गहन चर्चा की है. हम भारतीय पीएम नरेन्द्र मोदी के साथ भी बैठक करेंगे. इस दौरान पीएम मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के नेतृत्व वाले इस नए युग में दोनों देशों के बीच रिश्ता कैसे बेहतर बनाया जाए, इस पर बातचीत की जाएगी. वहीं मैटिस ने कहा कि अमेरिका भारत के साथ मिलकर काम करना जारी रखेगा. हम मिलकर प्राइमरी मेजर डिफेंस पार्टनर के तौर पर भारत की भूमिका को विस्तार देंगे. इससे दोनों देशों के बीच संबंध और मजबूत होंगे.

इन मुद्दों पर भी बनी सहमति

दोनों देशों के मंत्रियों ने इस बात पर भी सहमति जताई कि वे यह सुनिश्चित करेंगे कि पाकिस्तान के नियंत्रण वाले इलाकों को अन्य देशों पर आतंकवादी हमलों के लिए इस्तेमाल न किया जा सके. साथ ही पाकिस्तान को मुंबई, पठानकोट, उड़ और अन्य हमलों के अपराधियों को सजा दिलवाने पर भी जोर दिया जाएगा. इसके अलावा दोनों देशों की ओर से द्विपक्षीय, त्रिपक्षीय और चर्तुपक्षीय समेत क्षेत्रीय और वैश्विक मुद्दों पर साथ काम करने की भी प्रतिबद्धता जताई गई.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. 2+2 वार्ता: अमेरिका की एडवांस्ड टेक्नोलॉजी को एक्सेस कर सकेगा भारत, COMCASA पर हुए साइन

Go to Top