Delhi Corona Update: आज आ सकते हैं 17 हजार नए मामले, स्वास्थ्य मंत्री बोले- 17% रहेगा पॉजिटिविटी रेट

स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि ज्यादातर अंतरराष्ट्रीय उड़ानें राजधानी में आती है. इसलिए दिल्ली सरकार ने संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए सख्त कदम उठाए हैं.

In a statement, Jain said no prescription is required to get tested if people are showing any symptoms of coronavirus.
In a statement, Jain said no prescription is required to get tested if people are showing any symptoms of coronavirus. (File)

Delhi Corona Update: दिल्ली में कोरोना संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं. स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि आज यानी शुक्रवार को दिल्ली में कोरोना वायरस संक्रमण के करीब 17,000 मामले आने की आशंका है और पॉजिटिविटी रेट 17 प्रतिशत के आसपास रह सकती है. उन्होंने आगे कहा कि दिल्ली में सबसे पहले संक्रमण के मामलों में वृद्धि देखी गयी क्योंकि ज्यादातर अंतरराष्ट्रीय उड़ानें राजधानी में आती है. जैन ने पत्रकारों से कहा, ‘‘इसलिए हमने, कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए अन्य राज्यों की तुलना में सख्त कदम उठाए हैं. कुछ लोग कह सकते हैं कि इसकी आवश्यकता नहीं है लेकिन बाद में पछताने से यह बेहतर है.’’

Stock Tips: टेलीकॉम सेक्टर के ये शेयर इस साल दिलाएंगे 37% का बंपर रिटर्न, मार्केट एक्सपर्ट्स ने बढ़ाया टारगेट प्राइस

फिलहाल 1,091 बेड हैं ऑक्यूपाइड

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने कोरोना वायरस के ओमिक्रॉन वैरिएंट को ‘‘माइल्ड” बताया है. इस संबंध में मंत्री ने कहा कि केवल एक्सपर्ट्स ही यह बता पाएंगे कि यह माइल्ड है या नहीं. जैन ने कहा, ‘‘मैं आपको आंकड़े दे सकता हूं, जो मेरे पास है. दिल्ली में करीब 31,498 एक्टिव केस हैं और अस्पतालों में केवल 1,091 बेड ऑक्यूपाइड हैं. पिछली बार जब इतने ही मामले थे तो अस्पतालों में करीब 7,000 मरीज भर्ती थे.’’मंत्री ने कहा कि कोरोनोवायरस के डेल्टा वैरिएंट के दौरान होने वाले संक्रमण की गंभीरता को ध्यान में रखते हुए अधिकारियों ने ग्रेडेड रिस्पांस एक्शन प्लान (जीआरएपी) के तहत अलग-अलग स्तरों के प्रतिबंध और अलर्ट तैयार किए हैं.

Silver ETF: अगले हफ्ते खुलेंगे निप्पन इंडिया के दो खास एनएफओ, कम पैसे में चांदी की तेजी का उठा सकते हैं फायदा

इस बार संक्रमण की गंभीरता कम: सत्येंद्र जैन

उन्होंने आगे कहा, “पिछली बार जब दिल्ली में 30,000 सक्रिय मामले थे, तब अभी के 24 की तुलना में 1,000 मरीज वेंटिलेटर सपोर्ट पर थे. इसका मतलब है कि इस बार संक्रमण की गंभीरता कम है.” यह पूछे जाने पर कि जिन रोगियों को ऑक्सीजन सपोर्ट की जरूरत नहीं है, वे अस्पतालों में क्यों हैं, जैन ने लोक नायक अस्पताल का उदाहरण दिया. उन्होंने कहा कि लोक नायक अस्पताल में करीब 95 कोविड मरीज हैं. उनमें से केवल 14 को ही ऑक्सीजन सपोर्ट की जरूरत है. अन्य लोग अस्पताल में हैं क्योंकि वे कोविड के अलावा अन्य समस्याओं, जैसे कैंसर या गुर्दे की बीमारियों से पीड़ित हैं.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

Financial Express Telegram Financial Express is now on Telegram. Click here to join our channel and stay updated with the latest Biz news and updates.

TRENDING NOW

Business News