मुख्य समाचार:

आने वाले वक्त में घट सकती है GDP, रुपये की कमजोरी और तेल की बढ़ती कीमतों से लगेगा दोहरा झटका: क्रेडिट सुइस

आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, अप्रैल-जून तिमाही में भारतीय अर्थव्यवस्था द्वारा हासिल की गई 8.2% की वृद्धि दर दो साल का उच्च स्तर है.

September 12, 2018 6:05 PM
Credit Suisse says GDP growth peaking slowdown aheadचालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में 8.2% की वृद्धि दर उत्साहजनक, लेकिन इसकी मुख्य वजह पिछले साल का बेस इफेक्ट: क्रेडिट सुइस (Reuters)

इस वित्त वर्ष की पहली तिमाही में देश की GDP दर भले ही पीक पर रही हो लेकिन आगे चलकर इसमें कमी आने का अंदेशा है. इसकी वजह रुपये में आ रही कमजोरी और तेल की बढ़ती कीमतें बनेंगी. यह बात वैश्विक वित्तीय सेवा क्षेत्र की कंपनी क्रेडिट सुइस ने कही है.

क्रेडिट सुइस की रिपोर्ट में कहा गया कि चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में 8.2 फीसदी की वृद्धि दर उत्साहजनक है, लेकिन इसकी मुख्य वजह पिछले साल का बेस इफेक्ट है. आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, अप्रैल-जून की तिमाही में भारतीय अर्थव्यवस्था द्वारा हासिल की गई 8.2 फीसदी की वृद्धि दर दो साल का उच्चस्तर है. यह स्तर मैन्युफैक्चरिंग और फार्म सेक्टर्स के अच्छे प्रदर्शन की वजह से हासिल हुआ है.

मानसून 6 फीसदी कम, स्थिर है खरीफ बुवाई क्षेत्र

क्रेडिट सुइस के रिसर्च नोट में कहा गया कि PMI में कमी हमारे इस विचार की पुष्टि करती है कि पहली तिमाही में वृद्धि दर उच्च स्तर पर रही लेकिन आगे चलकर इसमें कमी आ सकती है. आगे कहा कि मानसून की कमी इस वक्त 6 फीसदी पर है और खरीफ बुवाई क्षेत्र सालाना आधार पर स्थिर है.

अक्टूबर में एक बार फिर बढ़ सकती हैं मुख्य ब्याज दरें

क्रेडिट सुइस के मुताबिक, रुपये की कमजोरी और तेल की बढ़ती कीमतें भारत के लिए दोहरी मार साबित हो सकती हैं. इससे महंगाई को लेकर दबाव बढ़ सकता है और ग्रोथ में कमी आ सकती है. कीमतो में बढ़ोत्तरी को लेकर रिपोर्ट में कहा गया कि हालांकि हाल के महीनों में हेडलाइन महंगाई के मोर्चे पर राहत रही है लेकिन मूल महंगाई बढ़ रही है. इसके चलते RBI अक्टूबर की पॉलिसी मीटिंग में ब्याज दरों में एक बार फिर बढ़ोत्तरी कर सकता है. उच्च ब्याज दरें ग्रोथ अनुमानों पर भी नकारात्मक प्रभाव डालेंगी.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. आने वाले वक्त में घट सकती है GDP, रुपये की कमजोरी और तेल की बढ़ती कीमतों से लगेगा दोहरा झटका: क्रेडिट सुइस

Go to Top