मुख्य समाचार:

Covid-19 vaccine: देश में तैयार है कोरोना की दूसरी वैक्‍सीन! जल्द होगा इंसानों पर परीक्षण

भारत में कोरोना वायरस संक्रमण की संभावित वैक्‍सीन के फेज 1 और फेज 2 के ह्यूमन क्‍लीनिकल ट्रायल के लिए फार्मा कंपनी जाइडस कैडिला को मंजूरी दे दी गई है.

Published: July 3, 2020 7:56 AM
COVID-19 vaccine ready in India, Zydus Cadila claim for its COVID-19 vaccine, DGCI approved for human clinical trial, coronavirus, COVID-19 Vaccine, human clinical trial of COVID-19 Vaccineभारत में कोरोना वायरस संक्रमण की संभावित वैक्‍सीन के फेज 1 और फेज 2 के ह्यूमन क्‍लीनिकल ट्रायल के लिए फार्मा कंपनी जाइडस कैडिला को मंजूरी दे दी गई है.

दुनियाभर के लिए महामारी बन चुके कोरोना वायरस से निपटने के लिए इसकी वैक्‍सीन और दवा बनाने पर कई देशों में तेजी से काम चल रहा है. इस बीच भारत में कोरोना वायरस संक्रमण की संभावित वैक्‍सीन के फेज 1 और फेज 2 के ह्यूमन क्‍लीनिकल ट्रायल के लिए फार्मा कंपनी जाइडस कैडिला को मंजूरी दे दी गई है. यह मंजूरी ड्रग कंट्रोलर जनरल और इंडिया (DCGI) की ओर से दी गई है. इससे पहले हैदराबाद की भारत बायोटेक की कोवैक्सिन को भी मंजूरी मिल चुकी है.

जाइडस कैडिला देश की दूसरी कंपनी

इसके साथ ही इंसानों पर परीक्षणों के लिए अनुमति हासिल करने वाली जाइडस कैडिला देश की दूसरी कंपनी बन गई है. बता दें कि भारत दुनिया भर में वैक्‍सीन और दवा निर्माण के क्षेत्र में अग्रणी देश है. वहीं विश्‍व में इस समय कोरोना वायरस की करीब 17 वैक्‍सीन का टेस्‍ट इंसानों पर चल रहा है. इसी क्रम में भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) ने देश के पहले स्वदेशी कोविड-19 टीके के क्लीनिकल ट्रायल के लिए 12 संस्थानों का चयन किया है.

जानवरों पर किए गए ट्रॉयल में कारगर

आधिकारिक सूत्रों के अनुसार देश में तेजी से बढ़ रही Covid-19 महामारी को देखते हुए विशेषज्ञ समिति की सिफारिश के बाद अप्रूवल प्रक्रिया को तेजी दी गई थी. जाइडस कैडिला का दावा है कि उसकी इस वैक्‍सीन जानवरों पर किए गए ट्रॉयल में कारगर साबित हुई है. जाइडस कैडिला ने जानवरों पर किए गए परीक्षणों की रिपोर्ट ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया को सौंपी थी, जिसके अध्‍ययन के बाद डीजीसीआइ ने वैक्सीन के मानव परीक्षण के पहले और दूसरे चरण की मंजूरी दी.

जल्‍द ही इंसानों पर वैक्‍सीन ट्रायल

न्यूज एजेंसी की रिपोर्ट के मुताबिक, जाइडस कैडिला जल्‍द ही इंसानों पर वैक्‍सीन के ट्रायल के लिए एनरॉलमेंट शुरू करेगी. सूत्रों ने बताया कि पहले और दूसरे चरण के ट्रॉयल को लगभग 3 महीनों में पूरा कर लिया जाएगा. हाल ही में भारत की अग्रणी वैक्सीन निर्माता भारत बायोटेक ने एलान किया था कि उसने कोरोना पर प्रभावी वैक्‍सीन ‘कोवाक्सिन’ (COVAXIN) बना ली है. भारत बायोटेक को भी मानव परीक्षण के पहले और दूसरे चरण के इंसानी ट्रायल को मंजूरी दे दी गई है. भारत बायोटेक ने कहा था कि उसने भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद यानी आइसीएमआर और राष्ट्रीय विषाणु विज्ञान संस्थान (एनआइवी) के साथ मिलकर इसे तैयार किया है.

अमेरिकी फार्मा कंपनी फाइजर और यूरोपीय जैव प्रौद्योगिकी कंपनी बायोएनटेक एसई ने कोविड-19 के एक टीके का प्रायोगिक परीक्षण किया है जिसके नतीजे में टीके को सुरक्षित और मरीजों में एंटीबॉडी बनाने में सक्षम पाया गया. विशेषज्ञों द्वारा अध्ययन की समीक्षा किया जाना अभी बाकी है. अध्ययन के अनुसार मरीजों को टीके की दो खुराक दिए जाने के बाद उनके भीतर बनने वाले एंटीबॉडी की संख्या उन मरीजों में पैदा हुए एंटीबाडी से अधिक पाई गई जिन्हें कोविड-19 से ठीक हो चुके लोगों का प्लाज्मा दिया गया था.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. Covid-19 vaccine: देश में तैयार है कोरोना की दूसरी वैक्‍सीन! जल्द होगा इंसानों पर परीक्षण

Go to Top