मुख्य समाचार:

अनलॉक 1.0: देश के कई हिस्सों में आज से खुल रहे हैं मॉल, रेस्टोरेंट और धार्मिक स्थल

राजधानी दिल्ली, उत्तर प्रदेश आदि समेत देश के ज्यादातर हिस्सों में आज यानी सोमवार से मॉल, रेस्टोरेंट, धार्मिक स्थल आम नागरिकों के लिए खुलने जा रहे हैं.

Published: June 8, 2020 8:38 AM
COVID19, Unlock 1.0, Lockdown, shopping malls, restaurant, religious places open from today in various parts of indiaकेंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ने इन स्थानों को खोलने के लिए 4 जून को मानक संचालन प्रक्रियाएं (एसओपी) जारी की थीं. (Image: PTI)

Unlock 1.0: राजधानी दिल्ली, उत्तर प्रदेश आदि समेत देश के ज्यादातर हिस्सों में आज यानी सोमवार से मॉल, रेस्टोरेंट, धार्मिक स्थल आम नागरिकों के लिए खुलने जा रहे हैं. गृह मंत्रालय द्वारा 30 जून तक लॉकडाउन 5.0 लागू करने के साथ अनलॉक 1 के तहत कई चीजों को खोलने की इजाजत दी गई. इनमें रेस्टोरेंट, शॉपिंग मॉल, पूजास्थल, धार्मिक स्थल आदि शामिल हैं. केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ने इन स्थानों को खोलने के लिए 4 जून को मानक संचालन प्रक्रियाएं (एसओपी) जारी की थीं. एसओपी परामर्श वाली प्रकृति के हैं और केंद्र सरकार ने इनका ब्यौरा तय करने का अधिकार राज्यों को दिया है. लोगों के लिए मास्क पहनना अनिवार्य होगा. 65 साल से ज्यादा उम्र के बुजुर्गों और 10 साल से कम उम्र के बच्चों को घर पर ही रहने की सलाह है.

केंद्र सरकार के दिशानिर्देशों के तहत कर्नाटक सरकार ने धार्मिक स्थलों के लिए सामाजिक दूरी बनाकर रखने, तीर्थ (पवित्र जल) या प्रसाद नहीं बांटने और विशेष पूजा अर्चना पर रोक रखने के नियम तय किए हैं. कर्नाटक में मंदिर और मस्जिद सोमवार से खुल जाएंगे, जबकि चर्च 13 तारीख से खुलेंगे. गोवा में चर्च और मस्जिदों को कुछ और समय तक बंद रखने का फैसला लिया गया है, हालांकि रेस्टोरेंट खुल जाएंगे. वहीं, पंजाब सरकार अपने दिशानिर्देशों के तहत मॉल में प्रवेश के लिए टोकन आधारित व्यवस्था करने जा रही है. गुजरात में, कुछ धार्मिक स्थानों ने अलग-अलग शिफ्ट में प्रार्थनाओं का आयोजन करने का फैसला किया है और लोगों की भीड़ न लगे, इसके लिए टोकन सिस्टम की व्यवस्था की गई है. रजिस्ट्रेशन 12 जून से शुरू होगा. गुजरात के मंदिरों में केवल पुजारी आरती या विशेष पूजा करेंगे. इसमें भक्त शामिल नहीं होंगे.

मॉल में सिनेमाहॉल, गेमिंग जोन अभी नहीं खुलेंगे

स्वास्थ्य मंत्रालय के दिशा-निर्देशों के अनुसार मॉल, रेस्टोरेंट और कार्यस्थलों में जाते समय सभी कर्मचारियों, कामगारों या मालिकों को सुरक्षा उपायों समेत सभी प्रोटोकॉल्स का पालन करना होगा. मंदिरों में प्रसाद वितरण पर पाबंदी लगाई गई है. मॉल में सिनेमाहॉल, गेमिंग आर्केड और बच्चों के खेलने की जगहें अभी भी प्रतिबंधित स्थल में रहेंगी. देश के जिन राज्यों में मंदिर, मस्जिद, चर्च, गुरुद्वारा, मॉल आदि खुल रहे हैं, वहां इन स्थलों पर साफ-सफाई, सैनिटाइजेशन, सोशल डिस्टेंसिंग के पालन के लिए पर्याप्त व्यवस्था आदि का इंतजाम किया गया है.

दिल्ली में नहीं खुल रहे होटल

सोमवार से दिल्ली की सीमाओं के साथ मॉल, रेस्टोरेंट और धार्मिक स्थल फिर से खुल रहे हैं. लेकिन होटलों को नहीं खोला जा रहा है. सीएम अरविंद केजरीवाल का कहना है कि इसकी वजह है कि हो सकता है आने वाले समय में होटलों को क्वारंटीन सेंटर या अस्पतालों में बदलना पड़े. इसके अलावा रोमन कैथलिक चर्च के तहत आने वाले गिरजाघर भी नहीं खुलने की खबर है.

दिल्ली के अस्पतालों में बाहरी लोगों का नहीं होगा इलाज! CM अरविंद केजरीवाल का आदेश

तेलंगाना में सीमित संख्या में दर्शन की अनुमति

तेलंगाना में राज्‍य प्रशासन ने मंदिरों में कम से कम धार्मिक अनुष्‍ठान और सेवाएं शुरू करने का फैसला लिया है. श्रद्धालुओं को सीमित संख्‍या में दर्शन की अनुमति दी जाएगी. राज्‍य में शॉपिंग सेंटर और रेस्‍टोरेंट पहले ही खोले जा चुके हैं.

दिल्ली में मस्जिद, गुरुद्वारे के नियम

दिल्ली की जामा मस्जिद के शाही इमाम सैयद अहमद बुखारी का कहना है कि ऐतिहासिक मस्जिद सोमवार से खुलेगी, जिसमें सुरक्षा के सभी कदम उठाए गए हैं. लोगों से कहा गया है कि वे मस्जिद में नमाज के लिए आने से पहले अपने घर में ही वजू करें. मस्जिद में वजू के काम आनी वाली हौज खाली कर दी गई है, नमाज के लिए इस्तेमाल होने वाली दरियां हटा दी गई हैं और लोग अपने घरों से चटाई लेकर आएंगे. फर्श पर निशान बनाए गए हैं ताकि लोगों के बीच पर्याप्त दूरी रह सके. सरकारी दिशा-निर्देशों के अनुरूप बुजुर्गों, बच्चों और बीमार लोगों को मस्जिद आने की अनुमति नहीं दी जाएगी.

दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधन समिति के अध्यक्ष मनजिंदर सिंह सिरसा के मुताबिक, सीसगंज, रकाबगंज और बंगला साहिब गुरद्वारों में भी डिसइन्फेक्शन टनल स्थापित किए गए हैं. समूचे परिसरों को नियमित तौर पर संक्रमणमुक्त किया जा रहा है. जिस स्थान पर लोग गुरु ग्रंथ साहिब को नमन करते हैं, उस स्थान पर विशेष रूप से ध्यान दिया जा रहा है. एक-दूसरे के शरीर से दूरी सुनिश्चित करने के लिए एंट्री और एग्जिट प्वॉइंट्स की संख्या बढ़ा दी गई है. लोगों को सिर ढंकने के लिए कपड़ा नहीं दिया जाएगा, उन्हें अपना खुद का कपड़ा सिर पर रखना होगा. गुरुद्वारे में जूते-चप्पल संभालने का काम नहीं होगा और पैरों को साफ करने के लिए संक्रमणमुक्त पानी का इस्तेमाल किया जाएगा. श्रद्धालुओं को गुरुद्वारों में बैठने की अनुमति नहीं होगी और अरदास करने के तुरंत बाद उन्हें बाहर जाना होगा.

1 अक्टूबर से BS-VI व्हीकल्स पर अनिवार्य होगा 1cm का ग्रीन स्टिकर, रहेंगी रजिस्ट्रेशन डिटेल्स

स्वच्छता पर खास फोकस होगा

केंद्र द्वारा जारी किए गए निर्देशों के तहत में स्वच्छता बनाए रखने जैसे उपायों पर विशेष ध्यान दिया गया था, जिसमें विशेष रूप से शौचालय, पीने और हाथ धोने के लिए साफ पानी आदि शामिल है. स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि हाथ की स्वच्छता (सैनिटाइज़र डिस्पेंसर) और थर्मल स्क्रीनिंग प्रावधान अनिवार्य रूप से प्रवेश द्वार पर होने चाहिए. मॉल, शॉपिंग सेंटर व धार्मिक स्थलों पर लोगों के संपर्क में ज्यादा आने वाली जगहों जैसे रेलिंग आदि को हर घंटे डिसइन्फेक्ट किया जाएगा. मॉल में कॉन्टैक्टलैस शॉपिंग और फिजिकल डिस्टेंसिंग मेंटेन करने पर फोकस रहेगा.

Input: PTI

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. अनलॉक 1.0: देश के कई हिस्सों में आज से खुल रहे हैं मॉल, रेस्टोरेंट और धार्मिक स्थल

Go to Top