मुख्य समाचार:

Covid-19 अलर्ट! भारत में कोरोना के कम्युनिटी ट्रांसमिशन का खतरा? ICMR की रिपोर्ट कर रही है इशारा

कोरोना वायरस पर इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) की रिपोर्ट अब अलर्ट करने वाली है.

April 10, 2020 1:21 PM
ICMR report on COVID-10, report indicate Corona 3rd stage, Coronavirus community transmission in india, कम्युनिटी ट्रांसमिशन, ICMR, corona testing, new testing policy, coronavirus in indiaकोरोना वायरस पर इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) की रिपोर्ट अब अलर्ट करने वाली है.

कोरोना वायरस पर इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) की रिपोर्ट अब अलर्ट करने वाली है. ICMR ने हाल ही में अपनी जो रिपोर्ट दी है, उससे यह संकेत मिल रहे हैं कि भारत में कोरोना वायरस महामारी के तीसरा स्टेज यानी कम्युनिटी ट्रांसमिशन का खतरा बढ़ गया है. ICMR पिछले कुछ दिनों से देश के अलग-अलग राज्यों में रैंडम सैंपल टेस्ट कर रही है. सैंपल टेस्ट के बाद आईसीएमआर के इस बार के आंकड़ों में देश के कुछ इलाके में कम्युनिटी ट्रांसमिशन के संकेत मिले हैं. हालांकि इसके पहले इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च ने ऐसी किसी भी संभावना से इनकार किया था.

टेस्टिंग पॉलिसी बदलने से पता चली सही स्थिति

इससे पहले 14 मार्च को आई ICMR ने अपनी रिपोर्ट में कहा था कि जितने भी लोगो की कोविड-19 जांच की गई है, उसमें कोई भी टेस्ट में पॉजिटिव नहीं आया था. हालांकि बाद में पॉलिसी बनाई गई कि SARI टेस्ट करना जरूरी है, उसके बाद 15 मार्च से 21 मार्च के बीच 106 मरीजों में से दो पॉजिटिव मिले थे. 22 मार्च से 28 मार्च के बीच 2877 मरीजों में से 48 मरीज पॉजिटिव मिले थे. वहीं ICMR ने अपनी रिपोर्ट में बताया है कि देश में 80 फीसदी से ज्यादा कोरोना पॉजिटिव 50 साल के ऊपर के हैं. ध्यान देने वाली है कि दो हफ्ते पहले ICMR ने भारत में किसी भी तरह के कम्युनिटी ट्रांसमिशन के संकेत से इनकार किया था.

20 राज्यों में की गई टेस्टिंग

ICMR ने 15 फरवरी से लेकर 2 अप्रैल तक कोरोना वायरस के संदिग्ध 5911 मरीजों का सीवियर एक्यूट रेसपिरेटरी इलनेस टेस्ट किया था. जिसमें यह सामने आया है कि इनमें 1.8 फीसदी लोग यानी करीब 104 लोग कोरोना पॉजिटिव हैं. आईसीएमआर ने यह टेस्ट देश के 15 राज्यों के 36 शहरों में किया था. ये पॉजिटिव केस 20 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के 52 जिलों में पाए गए. इनमें से 39.2 फीसदी यानी 40 पॉजिटिव केस ऐसे थे, जिनकी ना तो कोई विदेश ट्रैवल हिस्ट्री थी और ना ही ये लोग विदेश से लौटे लोगों के संपर्क में आए थे. ये केस देश के 15 राज्यों के 36 जिलों में मिले.

इन राज्यों पर ज्यादा ध्यान देने की जरूरत

ICMR ने अपनी रिपोर्ट में सरकार से गुजरात, तमिलनाडु, महाराष्ट्र और केरल जैसे राज्यों पर अधिक ध्यान देने की बात कही है. डेटा के मुताबिक, गुजरात से गंभीर सांस संबंधी बीमारियों के 792 सैंपल लिए गए, जिनमें से 13 केस कोरोना वायरस पॉजिटिव पाए गए. तमिलनाडु से गंभीर सांस संबंधी बीमारियों के 577 सैंपल लिए गए, जिनमें से 5 केस पॉजिटिव मिले. इसके अलावा महाराष्ट्र से ऐसे ही मरीजों के 553 सैंपल लेकर टेस्ट किए गए और यहां 21 सैंपल की रिपोर्ट पॉजिटिव आई. जबकि, केरल में गंभीर सांस संबंधी बीमारियों के 502 मरीजों की जांच की गई और यहां एक मरीज कोरोना वायरस से संक्रमित मिला.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. Covid-19 अलर्ट! भारत में कोरोना के कम्युनिटी ट्रांसमिशन का खतरा? ICMR की रिपोर्ट कर रही है इशारा

Go to Top