Covid Vaccination: नए साल के पहले दिन शुरू हो जाएगा 15-18 वर्ष के बच्चों का रजिस्ट्रेशन, आधार के बिना भी लगवा सकेंगे वैक्सीन, इस डॉक्यूमेंट को मिली मंजूरी

Covid Vaccination: 15-18 वर्ष की उम्र के बच्चे कोविन पर अगले साल 2022 के पहले दिन से रजिस्ट्रेशन करा सकेंगे.

Covid Vaccination UPDATES Children between 15-18 can register on CoWIN from Jan 1
CoWIN प्लेटफॉर्म पर रजिस्ट्रेशन के लिए बच्चों को अपना स्टूडेंट आईडी कार्ड भी प्रयोग करने की मंजूरी दी गई है.

Covid Vaccination: केंद्र सरकार नए साल 2022 में 15-18 वर्ष की उम्र के बच्चों को भी वैक्सीन लगाने की तैयारी कर रही है. आज (27 दिसंबर) को सरकार ने जानकारी दी है कि CoWIN प्लेटफॉर्म पर इनका रजिस्ट्रेशन नए साल के पहले दिन 1 जनवरी से शुरू हो जाएगा. रजिस्ट्रेशन के लिए बच्चों को अपना स्टूडेंट आईडी कार्ड भी प्रयोग करने की मंजूरी दी गई है. ऐसे में उन बच्चों को राहत मिल गई है जिनके पास आधार या पहचान साबित करने का अन्य कोई प्रमाण पत्र नहीं है. ऐसे बच्चे स्टूडेंड आईडी कार्ड के जरिए भी रजिस्ट्रेशन करा सकेंगे. सरकार के इस फैसले की जानकारी कोविन प्लेटफॉर्म के प्रमुख डॉ आरएस शर्मा ने दी.

आपका बिल मिल-बांटकर भर सकेंगे दोस्त-रिश्तेदार, Google Pay और Paytm यूजर्स को मिला स्प्लिट फीचर, यहां जानिए स्टेपवाइज प्रॉसेस

शनिवार को पीएम मोदी ने बच्चों के लिए वैक्सीन का किया था ऐलान

भारत में 3 जनवरी से 15 से 18 साल तक के बच्चों को कोरोना की वैक्सीन लगाई जाएगी. यह अहम ऐलान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार की रात देश के नाम अपने संदेश में किया था. साथ ही उन्होंने यह भी बताया था कि स्वास्थ्य कर्मियों और दूसरे फ्रंटलाइन वर्कर्स को भी सावधानी के तौर पर कोविड-19 वैक्सीन की तीसरी डोज़ (Precaution Dose) लगाई जा सकेगी. इस प्रिकॉशन डोज़ की शुरुआत 10 जनवरी से की जाएगी.

Risk Adjusted Return: क्या है रिस्क एडजस्टेड रिटर्न का मतलब? बाजार से कम जोखिम में बेहतर कमाई के लिए कर सकते हैं इसका इस्तेमाल

बुजुर्गों को भी लगाई जाएगी तीसरी डोज़

कोरोना वॉरियर्स के अलावा 60 साल या उससे ज्यादा उम्र के लोगों और गंभीर बीमारियों से पीड़ित मरीजों को भी कोरोना वैक्सीन की तीसरी ‘प्रिकॉशन डोज़’ उनके डॉक्टरों की सलाह के आधार पर लगाई जा सकेगी. दुनिया भर में कोरोना वैक्सीन की तीसरी डोज़ को आम तौर पर बूस्टर डोज़ (booster dose) कहा जाता है, लेकिन प्रधानमंत्री मोदी ने अपने संबोधन में इसे प्रिकॉशन डोज़ यानी सावधानी के तौर पर दी जाने वाली खुराक कहा है. प्रधानमंत्री मोदी ने इस फैसले का एलान ऐसे वक्त में किया है, जब भारत समेत दुनिया के तमाम देशों में कोरोना वायरस के नए ओमिक्रॉन वैरिएंट (Omicron variant) की वजह से महामारी के मामले एक बार फिर से बढ़ने लगे हैं.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

Financial Express Telegram Financial Express is now on Telegram. Click here to join our channel and stay updated with the latest Biz news and updates.

TRENDING NOW

Business News