सर्वाधिक पढ़ी गईं

Covid-19 Vaccine: Zydus Cadila ने इमरजेंसी इस्तेमाल के लिए किया अप्लाई, मंजूरी मिलने पर होगी दुनिया में उपलब्ध पहली DNA वैक्सीन

Zydus Cadila ने भारत के टॉप ड्रग रेगुलेटर के पास अपनी तीन डोज वाली कोविड-19 वैक्सीन ZyCov-D के प्रतिबंधित इमरजेंसी मंजूरी के लिए आवेदन किया है.

July 1, 2021 6:59 PM
Covid-19 Vaccine Zydus Cadila applies for emergency use approval of its DNA vaccineZydus Cadila ने भारत के टॉप ड्रग रेगुलेटर के पास अपनी तीन डोज वाली कोविड-19 वैक्सीन ZyCov-D के प्रतिबंधित इमरजेंसी मंजूरी के लिए आवेदन किया है.

Covid-19 Vaccine India: फार्मास्युटिकल कंपनी Zydus Cadila ने भारत के टॉप ड्रग रेगुलेटर के पास अपनी तीन डोज वाली कोविड-19 वैक्सीन ZyCov-D के प्रतिबंधित इमरजेंसी मंजूरी के लिए आवेदन किया है. अगर इसे मंजूरी मिल जाती है, तो दुनिया में उपलब्ध पहली DNA वैक्सीन होगी. कंपनी ने गुरुवार को बताया कि वे ZyCov-D की 100 से 120 मिलियन डोज का उत्पादन करने की उम्मीद कर रही है. यह चार करोड़ लोगों को शॉट के तीन डोज देने के लइए पर्याप्त होगी.

66.6 फीसदी कारगर पाई गई

वैक्सीन के आखिरी स्टेज के ह्यूमन क्लीनिकल ट्रायल में 28 हजार से ज्यादा प्रतिभागी शामिल हुए. इसमें अब तक 66.6 फीसदी प्राथमिक तौर पर कारगर पाई गई है. वह कोविड-19 के लक्षण वाले मामलों को कम करने में सफल रही हैं. जिन लोगों को वैक्सीन लगी है, उनमें जिन्हें टीका नहीं लगा है, उनके मुकाबले करीब 67 फीसदी की कमी आई है.

कंपनी ZyCov-D के दो डोज की व्यवस्था की संभावना का भी आकलन कर रही है. उसने कहा कि इम्यूनिटी को लेकर इसके नतीजे वर्तमान तीन डोज की व्यवस्था के बराबर पाए गए हैं. उसके मुताबिक, वैक्सीन के दो डोज भी तीन डोज व्यवस्था के जितने अच्छे इम्यूनिटी रिस्पॉन्स दे रहे हैं. कंपनी ने कहा कि इससे टीकाकरण के पूरे कोर्स की अवधि को कम करने में मदद मिलेगा, जिसके साथ भविष्य में वैक्सीन की सुरक्षा को बरकरार रखा जा सके.

हालांकि, अब तक मिली जानकारी से पता चलता है कि अगर तीन डोज दिए जाते हैं, तो वैक्सीन कोविड के मध्य लक्षणों को भी रोक सकती हैं. Zydus Cadila तीसरी डोज के लगने के बाद कोविड-19 बीमारी का कोई मध्य लक्षण वाला मामला सामने नहीं आया है, जिससे पता चलता है कि बीमारी 100 फीसदी कारगर है. इसके साथ कंपनी के उसके क्लीनिकल ट्रायल नतीजों के अंतरिम विश्लेषण के मुताबिक, ZyCov-D के दो डोज गंभीर बीमारी और मौत को भी रोक सकते हैं.

भारतीय रेलवे इस महीने शुरू करने जा रही है ये स्पेशल ट्रेनें, देखें पूरी लिस्ट

Zydus Cadila के मैनेजिंग डायरेक्टर डॉ. शार्विल पटेल ने कहा कि अब तक की सबसे पहली प्लाज्मिड DNA वैक्सीन के तौर पर, ZyCoV-D ने कोविड-19 के खिलाफ अपनी सुरक्षा को साबित किया है. उन्होंने कहा कि जब वैक्सीन मंजूर हो जाएगी, तब यह केवल व्यस्कों को ही नहीं, बल्कि 12 से 18 साल के उम्र समूह वाले लोगों की भी मदद करेगी.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. Covid-19 Vaccine: Zydus Cadila ने इमरजेंसी इस्तेमाल के लिए किया अप्लाई, मंजूरी मिलने पर होगी दुनिया में उपलब्ध पहली DNA वैक्सीन

Go to Top