सर्वाधिक पढ़ी गईं

Covid-19 Death Toll: कोरोना से देश में करीब 50 लाख लोग मरे, 4.18 लाख नहीं; अमेरिकी थिंक टैंक की रिपोर्ट में दावा

Centre for Global Development की स्टडी रिपोर्ट तैयार करने वालों में देश के पूर्व मुख्य आर्थिक सलाहकार अरविंद सुब्रमण्यम भी शामिल हैं. इस रिपोर्ट के मुताबिक कोरोना के चलते हुई मौत की सही संख्या सरकारी आंकड़ों के मुकाबले 10 गुने से भी ज्यादा है.

Updated: Jul 21, 2021 7:58 PM
Covid-19 News UpdateThese findings may allow researchers to discover new therapeutic strategies for COVID-19 and other respiratory viral infections.

Covid-19 News Update: कोरोना की दूसरी लहर कितनी खतरनाक साबित हुई, इसे लेकर एक लेटेस्ट स्टडी में अहम खुलासा हुआ है. अमेरिकी थिंक टैंक सेंटर फॉर ग्लोबल डेवलपमेंट (Centre for Global Development) की स्टडी के मुताबिक कोरोना के चलते जितने लोगों की मौत हुई है, वह मोदी सरकार द्वारा उपलब्ध कराए गए आंकड़ों से कई गुना अधिक है. इस महत्वपूर्ण अध्ययन की रिपोर्ट तैयार करने वालों में मोदी सरकार के पहले कार्यकाल के दौरान देश के मुख्य आर्थिक सलाहकार रहे अरविंद सुब्रमण्यम भी शामिल हैं.

स्टडी के मुताबिक भारत में कोरोना महामारी के चलते मरने वालों का आंकड़ा सरकारी आंकड़ों की तुलना  10 गुने से भी ज्यादा है. केंद्र सरकार के आंकड़ों के मुताबिक अब तक कोरोना के चलते देश भर में 4,18,480 लोगों की मौत हुई है. लेकिन स्टडी में कहा गया है कि जून 2021 तक देश भर में कोरोना महामारी के कारण जान गंवाने वालों की तादाद करीब 50 लाख तक हो सकती है. कोरोना की दूसरी लहर के दौरान देश में मौत के ऐसे तांडव का दावा करने वाला यह पहला स्वतंत्र अध्ययन है.

इस राज्य के निजी अस्पतालों में फ्री कोरोना वैक्सीन नीति लांच करने की तैयारी, सीएसआर फंड के जरिए मिल सकती है राहत

मानवीय त्रासदी की असल तस्वीर पेश करने की कोशिश

देश के पूर्व मुख्य आर्थिक सलाहकार अरविंद सुब्रमण्यम बताते हैं कि इस अध्ययन का मकसद मौत के आंकड़े सामने लाने की बजाय इस मानवीय त्रासदी की सही तस्वीर सामने लाना रहा है. उनका अध्ययन बताता है कि दूसरी लहर के दौरान देश के हिस्सों में हेल्थ सेक्टर लगभग चरमरा गया था और अस्पतालों में बिस्तर नहीं मिल रहे थे, श्मशानों में लंबी लाइनें लगी थीं, शवों को लगातार जलाया जा रहा था और गंगा नदी में लाशें बहाई जा रही थीं. दूसरी लहर के दौरान देश के कई हिस्सों में अस्पतालों में ऑक्सीन की किल्लत भी सामने आई और इसके चलते कई मरीजों की जानें चली गईं. हालांकि एक दिन पहले केंद्र सरकार ने संसद में जानकारी दी थी कि राज्यों व केंद्र शासित प्रदेशों की तरफ से ऑक्सीजन के चलते किसी के मरने की कोई जानकारी केंद्र को नहीं उपलब्ध कराई गई है.

पिछले 24 घंटे में 12 जून के बाद सबसे अधिक मौतें

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक पिछले 24 घंटे में देश भर में कोरोना के 42,015 नए केसेज सामने आए हैं. कोरोना के चलते पिछले 24 घंटे में 3998 लोगों की मौत हुई है जो 12 जून के बाद से सबसे अधिक है. देश भर में अब तक 3.12 करोड़ केसेज सामने आ चुके हैं जिसमें से 3.03 करोड़ लोग ठीक हो चुके हैं. पिछले 24 घंटे में 36,977 लोग कोरोना संक्रमण से ठीक हुए हैं और अब देश भर में कोरोना के 4,07,170 एक्टिव केसेज हैं. कोरोना वायरस के खिलाफ सबसे प्रभावी हथियार वैक्सीन की अब तक 41.54 करोड़ डोज लोगों को लगाई जा चुकी हैं.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. Covid-19 Death Toll: कोरोना से देश में करीब 50 लाख लोग मरे, 4.18 लाख नहीं; अमेरिकी थिंक टैंक की रिपोर्ट में दावा

Go to Top