मुख्य समाचार:
  1. मोदी-शाह को क्लीन चिट पर फिर विवाद, कांग्रेस ने कहा लोकतंत्र का काला दिन

मोदी-शाह को क्लीन चिट पर फिर विवाद, कांग्रेस ने कहा लोकतंत्र का काला दिन

कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट कर इसे लोकतंत्र के लिए काला दिन कहते हुए ट्वीट किया है.

May 18, 2019 6:00 PM
election commission, Election Commissioner Ashok Lavasa, ashok lavasa, pm modi, congress, bjp, bjp congress, modi government, congress attack on bjp, पीएम मोदी और अमित शाह को 2-1 से चुनाव आयोग ने क्लीन चिट दिया था. (File Photo-PTI)

चुनाव आयुक्त अशोक लवासा चार मई से चुनाव आयोग की आचार संहिता के उल्लंघन को लेकर होने वाली किसी भी बैठक में शामिल नहीं हो रहे हैं. खबरों के मुताबिक वह इन बैठकों में तभी शामिल होंगे जब उनके फैसले को भी रिकॉर्ड में लिया जाएगा. उससे एक दिन पहले 3 मई को चुनाव आयोग ने पीएम मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह को आचार संहिता के उल्लंघन मामले में क्लीन चिट दिया था. यह क्लीन चिट 2-1 से दिया गया था और इंडियन एक्सप्रेस की खबर के मुताबिक क्लीन चिट से असहमति जताने वाले आयुक्त अशोक लवासा ही थे. अब इस मामले में नए खुलासे से कांग्रेस शनिवार को मोदी सरकार पर हमले कर रही है. कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट कर इसे लोकतंत्र के लिए काला दिन कहते हुए ट्वीट किया है.

संस्थाओं को खत्म करना मोदी सरकार की पहचानः कांग्रेस

कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट में लिखा है कि संस्थाओं की इंटीग्रिटी को खत्म करना ही मोदी सरकार की पहचान बन गई है. उन्होंने ट्वीट में लिखा है कि सुप्रीम कोर्ट के जज जनता के पास जा रहे हैं, आरबीआई गवर्नर इस्तीफा दे रहे हैं, सीबीआई निदेशक हटाए जा रहे हैं, सीवीसी खोखली रिपोर्ट दे रही है और अब इलेक्शन कमीशन में बंटवारा हो रहा है. उन्होंने सवाल उठाया है कि क्या अब लवासा के सहमति वाले नोट को शामिल करेगी?

मुख्य चुनाव आयुक्त अरोड़ा ने दी सफाई

चुनाव आयोग के मुख्य आयुक्त सुनील अरोड़ा ने इस मुद्दे पर बयान जारी किया है. अरोड़ा ने कहा कि चुनाव आयोग के तीनों आयुक्त क्लोन नहीं हैं और सभी के विचार एक-समान होना जरूरी नहीं है. उन्होंने कहा कि पहले भी आपस में असहमतियां होती रही हैं और यह होना भी चाहिए लेकिन ऐसे मुद्दे आयोग के भीतर ही रहने चाहिए.

Go to Top

FinancialExpress_1x1_Imp_Desktop