मुख्य समाचार:

ITR Filling Deadline Extended: अब 30 सितंबर तक भर सकेंगे इनकम टैक्स रिटर्न, CBDT ने तीसरी बार बढ़ाई तारीख

ITR: वित्तवर्ष 2018-19 के लिए आयकर रिटर्न भरने की अंतिम तारीख और 2 महीने यानी 30 सितंबर तक बढ़ा दी गई है.

Published: July 30, 2020 8:23 AM
ITR deadline extended till 30 september, ITR, Income Tax Return, CBDT, Tax Department, Tax Payers, Filling of Income Tax Return, Covid-19 pandemic, Tax, आयकर रिटर्न, सीबीडीटी, इनकम टैक्स रिटर्नITR deadline extended: वित्तवर्ष 2018-19 के लिए आयकर रिटर्न भरने की अंतिम तारीख और 2 महीने यानी 30 सितंबर तक बढ़ा दी गई है.

Income Tax Filling Deadline Extended/CBDT: कोरोना संकट के बीच आयकर दाताओं को सरकार ने बड़ी राहत दी है. वित्तवर्ष 2018-19 के लिए आयकर रिटर्न भरने की अंतिम तारीख और 2 महीने यानी 30 सितंबर तक बढ़ा दी गई है. पहले यह डेडलाइन 31 जुलाई तक रखी गई थी. आयकर विभाग ने इसकी जानकारी ट्वीट के जरिए दी. सरकार के इस फैसले से करदाताओं को काफी राहत मिलेगी क्योंकि कोरोना महामारी और लॉकडाउन की वजह से लोगों को आईटीआर भरने में दिक्कत आ रही थी.

आयकर विभाग के ट्वीट में कहा गया है, कोविड महामारी के कारण और करदाताओं की आसानी के लिए केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) ने वित्त वर्ष 2018-19 (आकलन वर्ष 2019- 20) के लिए आयकर रिटर्न दाखिल करने की डेडलाइन को 31 जुलाई 2020 से बढ़ाकर 30 सितंबर 2020 कर दिया है. बता दें कि वित्तवर्ष 2018-19 का मूल अथवा संशोधित आयकर रिटर्न भरने की तारीख तीसरी बार बढ़ाई गई है.

तीसरी बार बढ़ी डेट

सीबीडीटी ने आयकर रिटर्न दाखिल करने की आखिरी तारीख तीसरी बार बढ़ाई है. वित्त वर्ष 2018-19 के लिए 31 मार्च 2020 तक आईटीआर दाखिल करना था. हालांकि इसे पहले 30 जून तक के लिए बढ़ाया गया. फिर इसे बढ़ाकर 31 जुलाई आखिरी तारीख की गई और अब इसे बढ़ाकर 30 सितंबर 2020 कर दिया गया है.

कुछ टैक्सपेयर्स के डाटा में कमियां

CBDT ने हाल में बताया था कि अबतक की रिटर्न फाइलिंग से मिले डेटा का विश्लेषण करने से कुछ ऐसे टैक्सपेयर्स की जानकारी मिली है, जिन्होंने काफी अधिक लेनदेन किया है, लेकिन उन्होंने असेसमेंट ईयर 2019-20 (वित्त वर्ष 2018-19 के संदर्भ में) के लिए रिटर्न दाखिल नहीं किया है. रिटर्न दाखिल नहीं करने वालों के अलावा रिटर्न फाइल करने वाले कई ऐसे लोगों की पहचान हुई है, जिनके अधिक धनराशि वाले लेनदेन और उनके आयकर रिटर्न आपस में मेल नहीं खाते हैं. आयकर विभाग पहचान किए गए टैक्सपेयर्स को ईमेल या SMS भेजेगा, ताकि प्राप्त सूचना के अनुसार उनके लेनदेन की डिटेल को वेरिफाई किया जा सके.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. ITR Filling Deadline Extended: अब 30 सितंबर तक भर सकेंगे इनकम टैक्स रिटर्न, CBDT ने तीसरी बार बढ़ाई तारीख

Go to Top