सर्वाधिक पढ़ी गईं

CBSE Borad Exams: 10वीं, 12वीं की बोर्ड परीक्षाएं रद्द हों, कोरोना के बढ़ते कहर के चलते दिल्ली के सीएम केजरीवाल ने की मांग

Covid-19 Update: दिल्ली में 24 घंटे में मिले 13,500 नए केस , मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की केंद्र सरकार से मांग, बोर्ड परीक्षाओं के लिए ऑनलाइन एक्जाम जैसे विकल्पों पर हो विचार

Updated: Apr 13, 2021 2:49 PM
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने राजधानी में कोविड-19 के बढ़ते मामलों को देखते हुए CBSE के बोर्ड एक्जाम रद्द करने की मांग की है

Covid-19 Update: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने केंद्र सरकार से 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षाएं रद्द करने की मांग की है. केजरीवाल का कहना है कि राजधानी दिल्ली में कोरोना के नए मामलों में बेतहाशा बढ़ोतरी को देखते हुए ऐसा करना जरूरी है. उन्होंने मौजूदा हालात को देखते हुए 10वीं और 12वीं की ऑफलाइन होने वाली बोर्ड परीक्षाएं रद्द करने और ऑनलाइन एक्जाम जैसे विकल्पों पर विचार करने की सलाह दी है. केजरीवाल ने मंगलवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस करके मोदी सरकार के सामने यह मांग उठाई है.

परीक्षा केंद्र बन जाएंगे कोरोना हॉट-स्पॉट : केजरीवाल

दिल्ली के सीएम ने कहा कि दिल्ली में 24 घंटे के भीतर कोविड-19 के साढ़े तेरह हजार से ज्यादा नए मामले सामने आ चुके हैं. ऐसे में अगर ऑफलाइन बोर्ड परीक्षाएं रोकी नहीं गईं तो कोरोना वायरस का इंफेक्शन और तेजी से फैलने का खतरा रहेगा. केजरीवाल ने चेतावनी दी है कि मौजूदा हालात में केंद्र सरकार ने अगर परीक्षाएं रद्द नहीं कीं, तो परीक्षा केंद्र इंफेक्शन के बड़े हॉटस्पॉट में तब्दील होने की आशंका बनी रहेगी.

मोदी सरकार रद्द करे CBSE की बोर्ड परीक्षा : केजरीवाल

मुख्यमंत्री ने कहा कि दिल्ली के करीब 6 साल बच्चे सीबीएसई की बोर्ड परीक्षाओं में बैठने वाले हैं. इनके अलावा करीब एक लाख शिक्षक भी इन परीक्षाओं के दौरान ड्यूटी करेंगे. इतनी बड़ी संख्या में लोगों के शामिल होने की वजह से परीक्षा केंद्र बड़े पैमाने पर इंफेक्शन फैलाने वाले हॉट-स्पॉट बन सकते हैं. केजरीवाल ने कहा कि इन हालात में मैं केंद्र सरकार से सीबीएसई एग्ज़ाम रद्द करने की मांग करता हूं.

ऑनलाइन परीक्षा या इंटरनल असेसमेंट पर विचार करे CBSE: केजरीवाल 

केजरीवाल ने कहा कि सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन (CBSE) को ऑनलाइन परीक्षाएं कराने या बच्चों को इंटरनल असेसमेंट यानी आंतरिक मूल्यांकन के आधार पर प्रमोट करने जैसे विकल्पों पर भी विचार करना चाहिए. उन्होंने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि दुनिया के कई देशों में ऐसा किया जा चुका है. इस बार बच्चों को ऑनलाइन परीक्षा या इंटरनल असेसमेंट के आधार पर अगली कक्षा में भेज देना चाहिए. लेकिन परीक्षा हर हाल में रद्द होनी चाहिए.

सीबीएसई की 10वीं और 12वीं कक्षा की बोर्ड परीक्षाएं मौजूदा शिड्यूल के मुताबिक 4 मई को शुरू होने वाली हैं. लेकिन कोरोना वायरस का इंफेक्शन जिस रफ्तार से फैलता जा रहा है, उसे देखते हुए बोर्ड परीक्षाएं रद्द करने की मांग भी जोर पकड़ रही है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. CBSE Borad Exams: 10वीं, 12वीं की बोर्ड परीक्षाएं रद्द हों, कोरोना के बढ़ते कहर के चलते दिल्ली के सीएम केजरीवाल ने की मांग

Go to Top