सर्वाधिक पढ़ी गईं

कैबिनेट: पेट्रोल पंप खोलना हुआ आसान, सरकार ने बदले लाइसेंस के नियम

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई में हुई इस बैठक में पेट्रोल पंप खोलने के नियम आसान कर दिए गए हैं.

October 23, 2019 5:43 PM
Representational Image

सरकार ने फ्यूल रिटेल पॉलिसी यानी पेट्रोल पंप खोलने के नियमों में बड़े पैमाने पर बदलाव किए हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) की अध्यक्षता में बुधवार को हुई कैबिनेट की बैठक में फ्यूल रिटेल पॉलिसी में लाइसेंस देने के नियमों में बड़े बदलाव किए हैं. इसके मुताबिक अब नॉन ऑयल कंपनियां भी पेट्रोल पंप (Petrol Pump) खोल सकेंगी. इससे प्रतिस्पर्धा बढ़ने के साथ-साथ इस सेक्टर में रोजगार और निवेश बढ़ेगा.

ग्रामीण इलाकों में खोलने होंगे 5% आउटलेट

कैबिनेट कमिटी ऑन इकोनॉमिक अफेयर्स (CCEA) की बैठक के बाद केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने प्रेस कॉन्फ्रेस कर बताया कि पेट्रोल पंप खोलने के नियमों में बदलाव किए गए हैं. अब यह जरूरी नहीं रह गया कि सिर्फ ऑयल रिफाइनिंग कंपनियां ही पेट्रोल पंप खोल सकती हैं.

संशोधित नियमों के तहत, अब फ्यूल रिटेल आउटलेट खोलने के लिए कोई भी कंपनी अप्लाई कर सकती है. बशर्ते उस कंपनी का टर्नओवर 250 करोड़ रुपये से कम नहीं होना चाहिए. इसके साथ ही कंपनी को 3 करोड़ रुपये बैंक गारंटी के तौर पर देने होंगे. इसके अलावा, संशोधित नियमों के अनुसार, कंपनियों को 5 फीसदी आउटलेट ग्रामीण इलाकों में खोलना होगा. इससे गांवों में बड़ी संख्या में पेट्रोल पंप खोले जाएंगे.

कंपनी को ग्रामीण इलाकों में 5 फीसदी आउटलेट खोलने का लक्ष्‍य मंजूरी के 2 साल के अंदर पूरा करना है. अगर वो ऐसा नहीं करती, तो कंपनी से 2 करोड़ की राशि वसूली जाएगी.

BSNL-MTNL का होगा मर्जर, रिवाइवल प्लान को मंजूरी; इंप्लॉइज को दिया जाएगा VRS पैकेज 

रोजगार, निवेश बढ़ने की उम्मीद

जावड़ेकर ने बताया कि फ्यूल रिटेलिंग के नियम आसान होने से निवेश और रोजगार बढ़ेगा.साथ ही इससे कंपनियों के बीच प्रतिस्पर्धा भी बढ़ेगी. अभी देश में फ्यूल रिटेलिंग का लाइसेंस लेने के लिए एक कंपनी को हाइड्रोकार्बन एक्सप्लोरेशन, रिफाइनिंग, पाइपलाइन या एलएनजी टर्मिनल में 2,000 करोड़ का निवेश करना होता था.

अभी देश भर में सरकारी ऑयल मार्केटिंग कंपनियां जैसे इंडियन ऑयल कॉर्प (IOC), भारत पेट्रोलियम कॉर्प लिमिटेड (BPCL) और हिंदुस्तान पेट्रोलियम कॉर्प लिमिटेड (HPCL) लगभग 65,000 पेट्रोल पंपों को संचालित करती हैं.

इस सेक्टर में प्राइवेट कंपनियों जिसमें रिलायंस इंडस्ट्रीज, Nayara Energy और रॉयल डच शेल हैं लेकिन इनकी मौजूदगी बहुत सीमित है. रिलायंस जो देश की सबसे बड़ी ऑयल रिफाइनिंग कॉम्पलेक्स को संचालित करती है, उसके 1,400 से कम आउटलेट हैं.

Input: PTI

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. कैबिनेट: पेट्रोल पंप खोलना हुआ आसान, सरकार ने बदले लाइसेंस के नियम

Go to Top