सर्वाधिक पढ़ी गईं

Budget 2021: अगले साल का बजट ग्रोथ पर केंद्रित होगा- RBI गवर्नर

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) के गवर्नर शक्तिकांत दास ने शुक्रवार को कहा कि बजट 2021-22 के विवेकपूर्ण और ग्रोथ पर केंद्रित होने की उम्मीद है.

Updated: Dec 04, 2020 5:03 PM
Budget 2021 has to be prudent and growth oriented says reserve bank of india RBI governor shaktikanta dasThe RBI Governor said that the idea of a bad bank has been under discussion for a long time.

Budget 2021: भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) के गवर्नर शक्तिकांत दास ने शुक्रवार को कहा कि बजट 2021-22 के विवेकपूर्ण और ग्रोथ पर केंद्रित होने की उम्मीद है. दास आरबीआई गवर्नर के पद पर रहने से पहले नौकरशाह थो और देश के लिए 10 बजट को बनाने की प्रक्रिया में सीधे तौर पर शामिल थे. इसमें वैश्विक वित्तीय संकट के बाद का बजट भी शामिल है. अप्रत्याशित महामारी और अर्थव्यवस्था पर उसके असर को देखते हुए, उन्होंने कहा कि सरकार ने संकट से जूझने के लिए वित्तीय विवेक को बरकरार रखा है.

सरकार के अब तक के कदम विवेकपूर्ण: दास

दास ने पॉलिसी के एलान के बाद मीडिया के साथ बातचीत में कहा कि सामान्य तौर पर जब हम किसी बड़े नुकसान से उभर रहे हैं, जो भारतीय अर्थव्यवस्था पर महामारी ने डाला है, तो बजट का ग्रोथ पर केंद्रित होना जरूरी है. इसके सात ही यह भी ध्यान में रखें कि इस साल में भी सरकार ने जिन सभी वित्तीय कदमों का एलान किया है, उन्हें लगता है कि वे सभी बहुत अच्छी तरह से जांच और लक्ष्य के साथ लिए गए हैं और उन्हें बेहद विवेकपूर्ण तौर पर सोचा गया है. उन्होंने आगे कहा कि महामारी की शुरुआत में, यह चिंता थी कि सरकार का वित्तीय घाटा बेहद ज्यादा बढ़ जाएगा लेकिन यह काबू के बाहर नहीं गया है.

दास ने कहा कि उन्हें लगता है कि सरकार का अब तक का रिस्पॉन्स बहुत सोचा हुआ कऔर विवेकपूर्ण है. इसलिए, वे अगले साल का बजट भी बेहद विवेकपूर्ण होने की उम्मीद करते हैं, लेकिन इसे विकास पर केंद्रित बजट होना होगा. यह ऐसा कुछ है, जो होना निश्चित है. इसमें दिमाग इस्तेमाल करने की जरूरत नहीं है. इसे अच्छा मदद करने वाला बजट होना निश्चित है.

Budget 2021: वित्त मंत्री ने दिए सरकारी खर्च बढ़ाने के संकेत, अगले बजट में इकोनॉमिक ग्रोथ पर रहेगा जोर

अर्थव्यवस्था में अनुमान से ज्यादा तेज रिकवरी: दास

पांचवीं मौद्रिक नीति समीक्षा को पेश करते हुए दास ने कहा कि अर्थव्यवस्था में उम्मीद से ज्यादा तेजी से विकास हो रहा है और विकास दर के वर्तमान वित्तीय वर्ष के दूसरे भाग में सकारात्मक होने की उम्मीद है. आरबीआई का अनुमान है कि वित्त वर्ष 2020-21 में देश की रियल जीडीपी ग्रोथ रेट -7.5 फीसदी रहेगी. वित्त वर्ष 2020-21 की तीसरी तिमाही में इसके +0.1 फीसदी, चौथी तिमाही में +0.7 फीसदी रहने का अनुमान है. वहीं वित्त वर्ष 2021-22 की पहली छमाही में ग्रोथ रेट 21.9 फीसदी से 6.5 फीसदी तक रहने का अनुमान जताया गया है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. बजट 2021
  3. Budget 2021: अगले साल का बजट ग्रोथ पर केंद्रित होगा- RBI गवर्नर

Go to Top