सर्वाधिक पढ़ी गईं

महाराष्‍ट्र की राजनीति में नया मोड़: नितिन गडकरी से उनके आवास पर मिलेे अहमद पटेल; पवार बोले, BJP- शिवसेना ही बनाए सरकार

महाराष्ट्र में सीएम पद को लेकर भाजपा और शिवसेना में सहमति नहीं बन पा रही है

Updated: Nov 06, 2019 2:34 PM
Maharashtra govt formation latest update in hindi, BJP, Shicsena, NCP, Congress, sonia gandhi, Ahmed Patel, Nitin Gadkari, Amit shah, Mohan Bhagwat, Devendra Fadanwisमहाराष्ट्र में सीएम पद को लेकर भाजपा और शिवसेना में सहमति नहीं बन पा रही है.

महाराष्ट्र में सरकार बनाने की रस्साकशी के बीच कांग्रेस की कार्यकारी अध्‍यक्ष सोनिया गांधी के भरोसेमंद और कांग्रेस सीनियर नेता अहमद पटेल ने बुधवार को केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी से मुलाकात की है. इस मुलाकात को लेकर कई तरह के कयास लगाए जा रहे हैं. बता दें, महाराष्ट्र में सीएम पद को लेकर भाजपा और शिवसेना में सहमति नहीं बन पा रही है. महाराष्ट्र विधानसभा का सत्र 9 नवंबर को समाप्त हो रहा है.

माना जा रहा है कि महाराष्ट्र में सरकार बनाने का गतिरोध समाप्त करने की कोशिशों के तहत यह ​मुलाकात हुई. हालांकि, मुलाकात के बाद अहमद पटेल ने मीडिया से बताया कि महाराष्ट्र के संबंध में उनकी कोई बात नहीं हुई है. पटेल ने बताया कि इस मुलाकात में उनकी किसानों की बदहाल स्थिति पर बातचीत की है. राजनीति पर कोई चर्चा नहीं हुई है.

शरद पवार ने बढ़ाया सस्पेंस

सरकार गठन की पशोपेश के बीच शरद पवार बुधवार को मीडिया के सामने सस्पेंस बढ़ा गए. पवार ने कहा कि जनता ने उन्हें विपक्ष में बैठने के लिए चुना है और उन्हें भरोसा है कि शिवसेना और बीजेपी आखिर मिलकर सरकार बना लेंगे. लेकिन उन्होंने यह भी जोड़ दिया कि सरकार गठन के लिए बचे अंतिम दो दिनों में क्या होगा, यह कोई नहीं जानता.

इससे पहले, बुधवार सुबह शिवसेना प्रवक्ता संजय राउत की एनसीपी चीफ से मुलाकात हुई है. इस मुलाकात के बाबत पूछे गए सवाल पर पवार ने कहा, ”हमें सरकार बनाने का कोई प्रस्ताव नहीं मिला है. मैं मुख्यमंत्री नहीं बनने जा रहा हूं. शिवसेना के साथ मिलकर सरकार बनाने की बात कहां से आती है? बीजेपी और शिवसेना का 25 साल से गठबंधन है और उन्हें ही सरकार बनानी चाहिए. महाराष्ट्र की जनता ने हमें जो आदेश दिया है उसके आधार पर कांग्रेस, एनसीपी विपक्ष में बैठेगी. सरकार बनाने पर जो भी गतिरोध है उसे दूर करना चाहिए और सेना और बीजेपी को सरकार बनानी चाहिए.”

 

RSS प्रमुख से मिले फडणनीस

इस बीच, मंगलवार देर रात महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने आरएसएस के सरसंघचालक मोहन भागवत से मुलाकात की. इस दौरान नितिन गडकरी भी वहां मौजूद रहे. ऐसा माना जाता है कि मोहन भागवत और शिवसेना सुप्रीमो उद्धव ठाकरे के बीच अच्छे संबंध हैं.

किस दल के पास कितनी सीटें?

महाराष्ट्र विधानसभा में कुल 288 सीटें हैं. सरकार बनाने के लिए 145 का आंकड़ा जरूरी है. राज्य में बीजेपी सबसे बड़े दल के रूप में सामने आई है. उसके पास 105 सीटें हैं. वहीं शिवसेना के पास 56 विधायक हैं. भाजपा और शिवसेना से गठबंधन में चुनाव लड़ा था. दूसरी ओर, शरद पावर की एनसीपी के 54 और कांग्रेस के पास 44 विधायक जीत कर आए हैं.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. महाराष्‍ट्र की राजनीति में नया मोड़: नितिन गडकरी से उनके आवास पर मिलेे अहमद पटेल; पवार बोले, BJP- शिवसेना ही बनाए सरकार

Go to Top