सर्वाधिक पढ़ी गईं

कोरोना टीकों का यह कैसा बंटवारा? सिर्फ नौ बड़े अस्पतालों ने ही ले ली 50 फीसदी वैक्सीन

केंद्र ने 1 मई से वैक्सीन मैन्यूफैक्चरर्स के कुल टीका उत्पादन का 50 फीसदी राज्य सरकारों और प्राइवेट संस्थानों को खरीदने की अनुमति दे दी थी. केंद्र ने अपनी खरीद सिर्फ 50 फीसदी तक सीमित रखी थी.

Updated: Jun 05, 2021 5:55 PM
देश के बड़े शहरों में मौजूद अस्पताल समूहों ने ही मई में उपलब्ध कोरोना टीके के 50 फीसदी ले लिए हैं.

देश में कोरोना के टीकों की किल्लत के बीच देश के नौ बड़े निजी अस्पतालों ने ही मई में कुल उपलब्ध 1.20 करोड़ टीकों में से 60.57 लाख टीके खरीद लिए थे. मई में ही सरकार ने वैक्सीन पॉलिसी संशोधित कर इसे मार्केट के लिए ओपन कर दिया था. इसके बाद नौ बड़े हॉस्पिटल्स ग्रुप की ओर से पचास फीसदी टीके खरीद लिए गिए. बाकी 50 फीसदी टीके भी ज्यादातर शहरों में स्थित 300 अस्पतालों ने खरीद लिए. इनमें से शायद ही कुछ टीके टियर-टू शहरों के बाहर गए गए होंगे.

केंद्र ने 1 मई से वैक्सीन मैन्यूफैक्चरर्स के कुल टीका उत्पादन का 50 फीसदी राज्य सरकारों और प्राइवेट संस्थानों को खरीदने की अनुमति दे दी थी. केंद्र ने अपनी खरीद सिर्फ 50 फीसदी तक सीमित रखी थी. ये टीके राज्यों को दिए जाने थे ताकि वे 45 वर्ष से ज्यादा उम्र वालों को टीका लगा सकें.

1.20 करोड़ डोज में सिर्फ 22 लाख डोज ही लगे हैं

इंडियन एक्सप्रेस की खबर के मुताबिक मई में सभी प्राइवेट अस्पतालों ने मिलकर टीकों के 1.20 करोड़ डोज खरीदे होंगे. यह अब तक खरीदे गए कुल 7.94 करोड़ डोज का 15.6 फीसदी है. इन 1.20 करोड़ डोज में से अब तक 22 लाख डोज यानी 18 फीसदी ही लगाए गए हैं. राज्यों ने इस महीने अब तक 33.5 फीसदी यानी 2.66 करोड़ डोज खरीदे हैं और केंद्र ने 50.9 यानी 4.03 करोड़ डोज खरीदे हैं.

प्राइवेट अस्पताल, जिन्होंने सबसे ज्यादा टीके खरीदे

अपोलो हॉस्पिटल – 16.14 लाख डोज

मैक्स हेल्थकेयर- 12.97 लाख डोज

एचएन रिलायंस – 9.89 लाख डोज

मेडिका हॉस्पिटल- 6.26 लाख डोज

फोर्टिस हॉस्पिटल – 4.48 लाख डोज

गोदरेज मेमोरियल – 3.35 लाख डोज

मणिपाल हेल्थ – 3.24 लाख डोज

टेक्नो इंडिया – 2.26 लाख डोज

नारायण हृदयालय -2.02 लाख डोज

Japan Olympic 2021: ओलंपिक खेलों में शामिल होने वाले एथलीट्स और स्टॉफ का जल्द होगा वैक्सीनेशन, पीएम मोदी ने दिए निर्देश

टियर-1 शहरों के प्राइवेट अस्पतालों के पास ही सबसे अधिक टीके 

प्राइवेट सेक्टर के जिन नौ टॉप प्राइवेट हॉस्पिटल्स ग्रुप ने सबसे ज्यादा टीके खरीदे हैं, वे हैं- अपोलो अस्पताल, मैक्स हेल्थकेयर, रिलायंस फाउंडेशन का अस्पताल एचएन हॉस्पिटल ग्रुप, मेडिका हॉस्पिटल, फोर्टिस हेल्थकेयर, गोदरेज, मणिपाल हेल्थ, नारायण हृदयालय और टेक्नो इंडिया डामा. ये सारे अस्पताल राज्यों की राजधानी या टियर-1 शहरों में है. सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया और भारत बायोटेक सरकार को एक डोज 150 रुपये में बेच रही है. जबकि प्राइवेट अस्पतालों के लिए सीरम इंस्टीट्यूट के टीके कोविशील्ड की कीमत 600 रुपये है. भारत बायोटेक के टीके कोवैक्सीन की कीमत प्राइवेट अस्पतालों के लिए 1200 रुपये है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. कोरोना टीकों का यह कैसा बंटवारा? सिर्फ नौ बड़े अस्पतालों ने ही ले ली 50 फीसदी वैक्सीन

Go to Top