मुख्य समाचार:

रेलवे के 20 इनोवेशन: CCTV कैमरा, वॉर्निंग बेल समेत नई तकनीक सुरक्षित और आसान बनाएंगी रेल सफर

'आत्मनिर्भर भारत अभियान' को बढ़ावा देते हुए रेलवे ने कई इनहाउस इनोवेशंस तैयार किए हैं. इनकी मदद से रेल सफर और सुविधाजनक और सुरक्षित बनाने की योजना है.

Published: July 27, 2020 11:20 AM
Indian Railways, Railways 20 big innovations, trail journey, railways cctv project, ministry of railways, piyush goyal, modi govt, aatm nirbhar bharatसभी इनोवेशंस का उद्देश्य सुरक्षा बढ़ाने के लिए तकनीकी सुधार और यात्रियों को बेहतर सुविधाएं मुहैया कराना है.

Indian Railways 20 Innovations: भारतीयों के लिए रेल सफर को विश्वस्तरीय बनाने के लिए प्रयास काफी तेजी से आगे बढ़ रहे हैं. रेलवे इस दिशा में पहले ही कई कदम उठा चुका है. अब ‘आत्मनिर्भर भारत अभियान’ को बढ़ावा देते हुए रेलवे ने कई इनहाउस इनोवेशंस तैयार किए हैं. इनकी मदद से रेल सफर और सुविधाजनक और सुरक्षित बनाने की योजना है. रेल मंत्री पीयूष गोयल ने एक वीडियो ट्वीट किया है, जिनमें नए 20 इनोवेशंस में से कुछ की डिटेल दी गई हैं.

वीडियो के मुताबिक भारतीय रेलवे जिन 20 नए इनोवेशंस को अमल में लाने जा रहा है, उनमें सतर्कता घंटी और सीसीटीवी कैमरा भी शामिल हैं. सतर्कता घंटी ट्रेन चलना शुरू होने से पहले यात्रियों को सतर्क करेगी. वहीं रेलवे कोच के अंदर सीसीटीवी कैमरा से निगरानी होगी ताकि ट्रेन के अंदर मारपीट, चोरी या लूट जैसी घटनाओं पर अंकुश लग सके.

शून्य इलेक्ट्रिक खपत के वॉटर कूलर

इन इनोवेशंस में शून्य इलेक्ट्रिक खपत के साथ विकसित किए गए वॉटर कूलर भी शामिल हैं. इन्हें पायलट प्रॉजेक्ट के रूप में बोरीवली, दहानू रोड, नंदुरबार, उधना और बांद्रा रेलवे स्टेशनों पर लगाया गया है. इसी तरह एक अन्य इनोवेशन इलाहाबाद रेलवे स्टेशन पर एयर क्वालिटी की जानकारी देने वाला एयर क्वालिटी इक्विपमेंट है.

मोबाइल ऐप पर अनारक्षित टिकट

इसके अलावा कोविड19 महामारी को देखते हुए लोगों को एक दूसरे के संपर्क में कम से कम आने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए मोबाइल ऐप और ब्लूटूथ प्रिंटर के माध्यम से अनारक्षित टिकट जारी किए जा रहे हैं. इन सभी इनोवेशंस का उद्देश्य सुरक्षा बढ़ाने के लिए तकनीकी सुधार और यात्रियों को बेहतर सुविधाएं मुहैया कराना है.

ट्रेन और डिब्बे की लाइव लोकेशन

यात्री जल्द ही ट्रेनों के साथ हर डिब्बे ?लाइव लोकेशन का पता कर सकेंगे. इसके लिए भारतीय रेलवे ने दिसंबर 2022 तक अपने सभी डिब्बों में RFID टैग लगाने की योजना तैयार की है.अब तक 23000 रेल डिब्बों में RFID टैग लगाए जा चुके हैं. रेलवे के बाकी डिब्बों में ये टैग लगाने का काम लगातार किया जा रहा है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. रेलवे के 20 इनोवेशन: CCTV कैमरा, वॉर्निंग बेल समेत नई तकनीक सुरक्षित और आसान बनाएंगी रेल सफर

Go to Top