मुख्य समाचार:

गडकरी की दो टूक, ऑटोमोबाइल्स पर GST घटाने का मुद्दा वित्त मंत्रालय के पाले में

गडकरी होंडा मोटरसाइकिल एंड स्कूटर इंडिया के BS-VI Honda Activa 125 Fi पेश किए जाने के मौके पर अलग से बातचीत कर रहे थे.

September 11, 2019 6:51 PM
Ball in FinMin's court over GST rate cut for automobiles: GadkariImage: Reuters

केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने बुधवार को कहा कि वाहनों पर गुड्स एंड सर्विसेज टैक्स (GST) कटौती की मांग के मामले में गेंद वित्त मंत्रालय के पाले में है. गडकरी ने कहा कि जीएसटी में कटौती का फैसला वित्त मंत्रालय के साथ-साथ राज्य सरकारों और GST परिषद को करना है. गडकरी होंडा मोटरसाइकिल एंड स्कूटर इंडिया के BS-VI Honda Activa 125 Fi पेश किए जाने के मौके पर अलग से बातचीत कर रहे थे.

गडकरी ने कहा कि मैं इस बारे में वित्त मंत्री से पहले ही बात कर चुका हूं. लेकिन वित्त मंत्री यदि कोई फैसला करती हैं तो उन्हें इसके लिए राज्यों के वित्त मंत्रियों और जीएसटी परिषद के साथ विचार विमर्श करना होगा. फिलहाल गेंद वित्त मंत्रालय के पाले में है. गडकरी ने कहा कि उन्हें विश्वास है कि वित्त मंत्रालय राज्य सरकारों के साथ विचार विमर्श के बाद इस पर कोई सकारात्मक फैसला करेगा. पिछले सप्ताह व्हीकल मैन्युफैक्चरर के संगठन सियाम के वार्षिक सम्मेलन में गडकरी ने वाहन उद्योग को भरोसा दिलाया था कि वह वाहनों पर जीएसटी दर को 28 से घटाकर 18 प्रतिशत करने के मुद्दे को आगे उठाएंगे.

स्क्रैप पॉलिसी पर चल रहा है काम

गडकरी ने कहा कि वाहनों के लिए स्क्रैप पॉलिसी पर काम चल रहा है. इस नीति में दोपहिया वाहन भी शामिल हैं. यदि दोपहिया वाहन उद्योग कोई सुझाव देना चाहता है तो हम खुले दिमाग से उन्हें सुनने को तैयार हैं. इस पर काम चल रहा है और नीति को जल्द जारी किया जाएगा. विभिन्न अंशधारकों को लेकर अब भी समस्याएं हैं. हमें वित्त मंत्रालय के साथ ही मैन्युफैक्चरर्स के सहयोग की भी जरूरत होगी. इनमें से कुछ मुद्दे टैक्स और कुछ राज्य सरकारों से संबंधित हैं.

यह पूछे जाने पर कि यह नीति कब तक वास्तविकता बन सकती है, गडकरी ने कहा, ‘‘हम प्रक्रिया के साथ तैयार हैं. मेरा मंत्रालय इसे जल्द से जल्द मंजूरी देने के प्रयास में है. मुझे उम्मीद है कि थोड़े समय में ही हम किसी निष्कर्ष पर पहुंच जाएंगे और नीति पेश कर सकेंगे.’’

अच्छी इकोनॉमिक ग्रोथ के लिए ऑटो इंडस्ट्री की वृद्धि जरूरी

वाहन उद्योग में मंदी के मौजूदा दौर को स्वीकार करते हुए मंत्री ने कहा कि इसके पीछे कई कारण हो सकते हैं. इसमें मांग और आपूर्ति का मुद्दा हो सकता है, वैश्विक आर्थिक सुस्ती और इसके पीछे व्यावसायिक चक्रीय कारण भी हो सकते हैं. गडकरी ने कहा कि देश की सकल आर्थिक वृद्धि और रोजगार सृजन के लिए ऑटोमोबाइल उद्योग की वृद्धि जरूरी है.

नए मोटर वाहन कानून के मामले में राज्यों को है आजादी

यातायात नियमों के उल्लंघन पर कड़े जुर्माने के प्रावधान वाले नए मोटर वाहन कानून में बदलाव करने के भाजपा शासित गुजरात सरकार के फैसले के बारे में पूछे जाने पर गडकरी ने कहा कि ये नियम समवर्ती सूची में हैं. इसलिए इसमें राज्य अपना निर्णय करने के लिए स्वतंत्र हैं. हालांकि, उन्होंने कहा कि जुर्माना बढ़ाने के पीछे राजस्व जुटाना उद्देश्य नहीं है बल्कि इसका मकसद दुर्घटनाओं को रोकना और जीवन को बचाना है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. गडकरी की दो टूक, ऑटोमोबाइल्स पर GST घटाने का मुद्दा वित्त मंत्रालय के पाले में

Go to Top