अगले 14 दिन मॉनसून रहेगा कमजोर! चावल, सोयाबीन और मक्का की बुआई पर असर

अगले 2 हफ्ते मॉनसून के कमजोर रहने का अनुमान है.

Monsoon India, Monsoon, Dry Up, rainfall deficiency, agriculture, soybean, cotton, maize, sowing india, rain, मॉनसून, Skymet, बुआई
अगले 2 हफ्ते मॉनसून के कमजोर रहने का अनुमान है.

खेती किसानी को लेकर एक बार फिर परेशान करने वाली खबर आ रही है. अगले 2 हफ्ते मॉनसून के कमजोर रहने का अनुमान है. सुस्त मॉनसून से इस दौरान चावल, कपास, सोयाबीन और मक्का की बुआई पिछड़ सकती है, जिसका असर पैदावार पर हो सकता है. मौसम की जानकारी देनी वाली निजी एजेंसी स्काईमेट ने यह अनुमान जताया है.

स्काईमेट के अनुसार जून में पिछड़ने के बाद जुलाई में शुरूआती 2 हफ्ते मॉनसून के लिए अच्छा रहा. मध्य भारत, पूर्वी व उत्तर पूर्वी भारतऔर उत्तर भारत के कई इलाकों में साउथ वेस्ट मॉनसून इस दौरान सक्रिय रहा. इस दौरान हर दिन रेनफाल डेफिसिएंसी में कमी आई. लेकिन एक बार फिर स्थिति बदलती दिख रही है. जिसके चलते अगले 14 दिन मॉनसून कमजोर रहने का अनुमान है.

ब्रेक मॉनसून कंडीशन

स्काईमेट के अनुसार अभी ब्रेक मॉनसून कंडीशन बना है, जो अमूमन अगस्त के महीने में बनता है. लेकिन इस बार ऐसी स्थिति जुलाई में ही बन गई है. इस कंडीशन में मॉनसून पहाड़ों की ओर शिफ्ट कर जाता है और मैदानी इलाकों व देश के दूसरे हिस्सों में बारिश प्रभावित होती है.

पिछड़ सकती है चावल, मक्का सहित इन फसलों की बुआई

मॉनसून कमजोर रहने से फसलों की बुआई पिछड़ने करा अनुमान है. रिपोर्ट के अनुसार अगले 2 हफ्ते कम बारिश होने से खासकर कपास, सोयाबीन, मूंग और मक्का की बुआई पर असर देखा जा सकता है. ये फसल मराठवाड़ा, मध्य प्रदेश, गुजरात और राजस्थान में ज्यादा उगाई जाती हैं. इसके अलावा चावल और दालों की बुआई पर भी असर होगा.

अबतक 12% कम हुई बारिश

जुलाई के पहले 10 दिनों में हुई अच्छी बारिश ने रेनफाल ​डेफिसिएंसी को 12 फीसदी पर ला दिया है. यह जून में 33 फीसदी था. देश में 1 जून से 13 जुलाई तक कुल 246.3mm बारिश हुई है, यह सामान्य 279.8mm से 12 फीसदी कम है.

source: http://www.skymetweather.com

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

Financial Express Telegram Financial Express is now on Telegram. Click here to join our channel and stay updated with the latest Biz news and updates.

TRENDING NOW

Business News

Debate