मुख्य समाचार:

भारत में हेल्दी पैकेज्ड व प्रोसेस्ड फूड के विकल्प सीमित, और सेहतमंद व किफायती प्रॉडक्ट लाने की जरूरत

यह बात एक्सेस टू न्यूट्रिशन इनीशिएटिव (ATNI) के इंडिया एक्सेस टू न्यूट्रिशन स्पाॅटलाइट इंडेक्स के दूसरे एडिशन से सामने आई है.

February 29, 2020 1:47 AM

ATNI's India Access to Nutrition Spotlight Index 2020: largest food and beverage companies in India are providing only limited options of healthy products, more healthy and affordable products should be introduced

भारत की सबसे बड़ी फूड एवं बेवरेजेस कंपनियां पोषण की समस्याओं से पीड़ित लोगों को सेहतमंद उत्पादों के सीमित विकल्प दे रही हैं. सभी भारतीयों के जीवन में वास्तविक परिवर्तन लाने के लिए ज्यादा इनोवेटिव, सेहतमंद एवं किफायती उत्पाद प्रस्तुत किए जाने की जरूरत है. उद्योग के मौजूदा प्रयास भारत में न्यूट्रिशन की समस्याओं को दूर करने के लिए पर्याप्त नहीं हैं. यह बात एक्सेस टू न्यूट्रिशन इनीशिएटिव (ATNI) के इंडिया एक्सेस टू न्यूट्रिशन स्पाॅटलाइट इंडेक्स के दूसरे एडिशन से सामने आई है.

रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि कंपनियां भारत में कुपोषण के दोहरे भार के प्रति ज्यादा समझ व प्रतिबद्धता का प्रदर्शन कर रही हैं. इंगे कौर, एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर, ATNI का कहना है कि भारत में जीवनशैली के परिवर्तनों से उपभोक्ताओं की आदतों में बदलाव आया है और वे पारंपरिक खाना लिए जाने से लेकर शहरी फूड की आदतों की ओर अग्रसर हुए हैं. इनमें पैकेज्ड व प्रोसेस्ड फूड शामिल है, जिसमें काफी ज्यादा मात्रा में शुगर, फैट एवं सॉल्ट होते हैं.

फास्ट फूड के टॉप 10 उपभोक्ताओं में भारत भी

भारत दुनिया में फास्ट फूड के सर्वोच्च 10 उपभोक्ताओं में से एक है. भारत दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन रहा है, इसलिए फूड एवं बेवरेजेस कंपनियों के लिए न्यूट्रीशन को अपने बिजनेस प्लान का मुख्य हिस्सा बनाने के अनेक अवसर हैं ताकि भारत में कुपोषण के दोहरे भार से संबंधित समस्याओं के समाधान के लिए विस्तृत, सार्वजनिक एवं कमर्शियल कार्य योजनाओं का मुख्य हिस्सा बनाया जा सके.

ATNI का पहला इंडिया स्पाॅटलाइट इंडेक्स 2016 में आया था. इसे हर तीन साल पर जारी किया जाता है. यह अपनी तरह का पहला इंडिपेंडेंट नेशनल असेसमेंट है, जो भारत के 10 सबसे बड़े फूड एवं बेवरेजेस मैन्युफैक्चरर्स की न्यूट्रीशन संबंधी नीतियों व विधियों का आकलन करता है. ATNI को बिल एंड मिलिंडा गेट्स फाउंटेशन और ब्रिटेन व नीदरलैंड की सरकारों से सहयोग प्राप्त है.

नेस्ले और HUL हैं टॉप पर

2020 एडिशन इंडेक्स में भारत के 16 सबसे बड़े फूड एवं बेवरेजेस मैनुफैक्चरर्स को शामिल किया गया है. इनमें से नौ का 2016 में आकलन किया जा चुका है. पूर्व में आकलित नौ कंपनियों में कुछ प्रगति हुई है. उनका औसत स्कोर 2016 में 10 में से 3 था, जो अब 2020 में बढ़कर 10 में से 4.2 हो गया है. ब्रिटानिया इंडस्ट्रीज ने सर्वाधिक प्रगति प्रदर्शित की है. कंपनी का कुल स्कोर 2016 में 1.6 था, जो अब बढ़कर 4.9 हो गया है. इंडेक्स में हिंदुस्तान यूनिलिवर व नेस्ले इंडिया 10 में से 6.9 के स्कोर के साथ संयुक्त रूप से पहले स्थान पर हैं.

उनके बाद पेप्सिको इंडिया, ब्रिटानिया इंडस्ट्रीज और कोका कोला इंडिया हैं. अन्य कंपनियों में अमूल, मॉन्डेलेज इंडिया, मदर डेयरी, पारले प्रॉडक्ट्स, AAVIN, अडाणी विल्मर, इमामी एग्रोटेक, हैटसन एग्रो प्रॉडक्ट, ITC, कर्नाटक को-ऑपरेटिव मिल्क प्रॉड्यूसर्स फेडरेशन (Nandini) और मैरिको लिमिटेड शामिल हैं.

13 में से 10 कंपनियां मुख्य आहार के फोर्टिफिकेशन पर देती हैं जोर

डाॅ. राजन संकर, डायरेक्टर ऑफ न्यूट्रिशन, टाटा ट्रस्ट्स एवं सदस्य, ATNI बोर्ड के मुताबिक, ‘‘इंडिया स्पाॅटलाईट इंडेक्स 2020 प्रदर्शित करता है कि लगभग एक तिहाई फूड एवं बेवरेजेस बाजार को कवर करने वाले 16 सबसे बड़े फूड एवं बेवरेजेस मैन्युफैक्चरर्स में से ज्यादातर उत्पादों को फोर्टिफाई करने के प्रयास करते हैं या फिर भारत में न्यूट्रिशन की समस्याओं को संबोधित करने के लिए सरकारी अभियानों के अनुरूप अपने उत्पादों को रिफाॅर्मुलेट करते हैं. 13 में से दस कंपनियां मुख्य आहार के फोर्टिफिकेशन पर बल देती हैं और स्वेच्छा से अपने सभी उत्पादों को FSSAI द्वारा निर्धारित मापदंडों के अनुरूप फोर्टिफाई करती हैं. 2016 के बाद से यह एक बड़ा सुधार है, जब ATNI ने पाया था कि बहुत कम कंपनियां कुछ फोर्टिफाई उत्पाद बना रही हैं. FSSAI ने उसके बाद से फोर्टिफिकेशन पर उद्योग को अपने दिशानिर्देश प्रभावशाली रूप से दिए हैं.’’

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

  1. बिज़नस न्यूज़
  2. राष्ट्रीय
  3. भारत में हेल्दी पैकेज्ड व प्रोसेस्ड फूड के विकल्प सीमित, और सेहतमंद व किफायती प्रॉडक्ट लाने की जरूरत

Go to Top