चौटाला की रैली में पहुंचे नीतीश, पवार और येचुरी, बीजेपी के खिलाफ विपक्षी एकता की फिर उठी आवाज | The Financial Express

चौटाला की रैली में पहुंचे नीतीश, पवार और येचुरी, बीजेपी के खिलाफ विपक्षी एकता की फिर उठी आवाज

इंडियन नेशनल लोक दल की रैली में विपक्षी खेमे के सबसे वरिष्ठ नेता शरद पवार, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के महासचिव सीताराम येचुरी शामिल हुए.

चौटाला की रैली में पहुंचे नीतीश, पवार और येचुरी, बीजेपी के खिलाफ विपक्षी एकता की फिर उठी आवाज
सीएम नीतीश कुमार हरियाणा के फतेहाबाद में रविवार को आयोजित एक रैली को संबोधित करते हुए. (Express Photo)

बीजेपी के खिलाफ विपक्षी एकता की मांग को लेकर हरियाणा के फतेहाबाद में बड़ी रैली हुई. इंडियन नेशनल लोक दल (इनेलो- INLD) की तरफ से रविवार को आयोजित कराए गए इस रैली में विपक्षी खेमे के सबसे वरिष्ठ नेता शरद पवार, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (CPI-M) के महासचिव सीताराम येचुरी समेत कई बड़े दिग्गज नेता शामिल हुए. इस रैली में पहुंचे नेताओं ने चौधरी देवीलाल को याद करते हुए भाजपा के खिलाफ समान विचारधारा वाली ताकतों को एक साथ आने की बात कही. पूर्व उप-प्रधानमंत्री व इनेलो संस्थापक चौधरी देवीलाल की जयंती के मौके पर हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री और मौजूदा पार्टी प्रमुख ओम प्रकाश चौटाला ने रैली आयोजित कराई थी.

कौन बनेगा राजस्थान का अगला ‘पायलट’, सीएम गहलोत आज देंगे इस्तीफा?

शदर पवार ने कहा- 2024 में व्यवस्था बदलने की है जरूरत

चौधरी देवीलाल को याद करते हुए नेशनल कांग्रेस पार्टी प्रमुख शरद पवार (NCP Chief Sharad Pawar) ने किसानों की आत्महत्या और पिछले साल हुए किसानों के आंदोलन को लेकर भाजपा पर निशाना साधा. इस दौरान उन्होने कहा कि राजस्थान, पंजाब, हरियाणा और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के किसानों ने अपना बलिदान दिया, एक साल तक शांति से संघर्ष किया, मगर उन पर आपराधिक मामला दर्ज किए गए. एनसीपी चीफ ने कहा कि मामले में आश्वासन दिया गया था कि केस वापस लिए जाएंगे, मगर अभी तक नहीं हो पाया. आज किसान अदालतों का चक्कर लगाने को मजबूर हैं और हर दिन हर घंटे खबरें आ रही हैं कि देश में कहीं न कहीं कोई किसान सुसाइड कर रहा है. ऐसी परिस्थितियां पैदा करने वालों को लोगों को 2024 में सत्ता से बेदखल करने की जरूरत है. आगामी लोकसभा चुनाव में उन्होंने एक साथ मिलकर व्यवस्था को बदलने की बात कही.

नीतीश कुमार ने दिल्ली में कहा, प्रधानमंत्री बनने की मेरी कोई इच्छा नहीं, पूरे विपक्ष से साथ आने की अपील

नीतीश कुमार ने कहा- एकजुट होने की है जरूरत

इनेलो प्रमुख ओम प्रकाश चौटाला की तरफ से आयोजित रैली को संबोधित करते हुए सीएम नीतीश कुमार ने कहा है कि 2024 के लोकसभा चुनाव में भाजपा को हराने के लिए सभी विपक्षी दलों को एकजुट होने की जरूरत है. इनेलो संस्थापक देवी लाल के साथ बिताए अपने समय को याद करते हुए बिहार मुख्यंमंत्री ने कहा कि मैं उन दिनों को कभी नहीं भूल सकता जब मैं छोटा था और देवीलाल ने मुझे अपना मार्गदर्शन दिया था. सभी विपक्षी दलों से एक साथ आने का आग्रह करते हुए नीतीश कुमार ने कहा कि अगर सभी विपक्षी दल एक साथ हो जाते हैं, तो आगामी लोकसभा चुनाव भाजपा बिल्कुल भी नहीं जीत पाएगी. उन्होंने बताया कि सीनियर नेता शरद पवार के साथ लंबी बात हुई है और कांग्रेस से अनुरोध भी किया है.

Mann Ki Baat LIVE : 28 सितंबर भगत सिंह के नाम पे याद किया जाएगा, ‘मन की बात’ में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का ऐलान

येचुरी ने कहा- सरकारी कंपनियों की मालिक है जनता

इस रैली में 1989 का जिक्र करते हुए सीपीआई-एम महासचिव सीताराम येचुरी ने याद दिलाया कि देवी लाल ने उस वक्त वीपी सिंह के लिए प्रधानमंत्री का पद कैसे छोड़ दिया था. पब्लिक सेक्टर की कंपनियों के पॉवर शिफ्ट की ओर इशारा करते हुए येचुरी ने कहा कि आज अमीर और अमीर हो रहे हैं, देश की संपत्ति लूटी जा रही है. ऐसे में देश की जनता को याद दिलाना होगा कि इन कंपनियों के मालिक वह खुद हैं और प्रधानमंत्री केवल पब्लिक सेक्टर कंपनियों के मैनेजर हैं.अगर मैनेजर लोगों के स्वामित्व वाली संपत्ति को बेचने की कोशिश करता है, तो हम उस मैनेजर को बदल देंगे. इस रैली में उन्होंने ये भी कहा कि अगर हमें अपने देश को बचाना है तो हमें बीजेपी को सत्ता से बेदखल करना होगा. पीएम के मन की बात की चुटकी लेते हुए येचुरी ने अपने वक्तव्य को बताया- यह मन की बात नहीं है. यह दिल की बात है.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

TRENDING NOW

Business News