फिर उड़ेंगे एअर इंडिया के बंद हो चुके 17 विमान! कैश न होने के चलते ऑपरेशन से हुए थे बाहर

एअर इंडिया के 17 विमानों को फिर ऑपरेशन में लाने की योजना

Air India, Air India Flights, grounded plane air india, एअर इंडिया, operation, cash crisis air india, Ashwani Lohani, aircraft, repair and maintenance fund
एअर इंडिया के 17 विमानों को फिर ऑपरेशन में लाने की योजना

सरकारी विमानन कंपनी एअर इंडिया (Air India) की लंबे समय से ग्राउंडेड हो चुके 17 विमानों को अक्टूबर अंत तक वापस ऑपरेशन में लाने की योजना है. कंपनी के प्रमुख अश्वनी लोहानी ने यह जानकारी दी है. बता दें कि कंपनी मैनेजमेंट ने मेंटिनेंस और पेमेंट के लिए पर्याप्त कैश नहीं होने की वजह से इन 17 विमानों का ऑपरेशन 4 महीने से लेकर 1 साल तक के लिए बंद कर दिया था.

कंपनी प्रमुख ने दी जानकारी

कंपनी के चेयरमैन एवं प्रबंध निदेशक लोहानी ने न्यूज एजेंसी को बताया कि हम लंबे समय से ऑपरेशन से बाहर 17 विमानों को अक्टूबर अंत तक वापस लाना चाहते हैं. योजना के तहत इनमें से 8 विमानों को अगस्त के अंत तक ऑपरेशन में वापस लाया जाएगा. इन 8 विमानों में चार ए320, एक बोइंग747, एक बोइंग777 और दो बोइंग787 शामिल हैं.

उन्होंने कहा कि अगर कंपनी को मरम्मत और मेंटिनेंस के लिए समय पर पैसा मिल गया तो शेष बचे 9 विमानों को अक्टूबर अंत तक ऑपरेशन में ले आया जाएगा. ये 9 विमान ए320 हैं.

बिक्री पर फैसला करेगा मंत्री समूह

गृृह मंत्री अमित शाह एअर इंडिया विनिवेश पर पुनर्गठित मंत्री समूह की अगुवाई करेंगे. सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी को इस मंत्री समूह से हटा दिया गया है. सूत्रों ने पिछले हफ्ते यह जानकारी दी थी. यह मंत्री समूह एअर इंडिया की बिक्री के तौर तरीके तय करेगा. इसमें अब चार केंद्रीय मंत्री – अमित शाह, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण, कॉमर्स और रेलवे मंत्री पीयूष गोयल और सिविल एविएशन मंत्री हरदीप सिंह पुरी शामिल होंगे.

एअर इंडिया की बिक्री पर मंत्री समूह का पहली बार गठन जून, 2017 में किया गया था. इस समूह को एअर इंडिया विशेष वैकल्पिक व्यवस्था (AISAM) का नाम दिया गया. उस समय इस समूह की अगुवाई तत्कालीन वित्त मंत्री अरुण जेटली कर रहे थे और इसमें पांच सदस्य थे. अन्य चार सदस्य नागर विमानन मंत्री अशोक गजपति राजू, बिजली एवं कोयला मंत्री पीयूष गोयल, रेल मंत्री सुरेश प्रभु तथा सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी थे.

100% हिस्सेदारी की बिक्री की पेशकश

निवेश एवं लोक संपत्ति प्रबंधन विभाग (दीपम) एअर इंडिया की बिक्री के लिए पहले ही नया प्रस्ताव तैयार कर चुका है. इसमें कच्चे तेल की कीमतों में उतार-चढ़ाव और विनिमय दरों में उतार-चढ़ाव के मुद्दों को शामिल किया गया है. सूत्रों ने कहा कि इस बार सरकार एअर इंडिया की शतफीसदी यानी 100 फीसदी हिस्सेदारी बिक्री की पेशकश कर सकती है. सरकार का इरादा बिक्री की प्रक्रिया दिसंबर, 2019 तक पूरा करने का है. एक सूत्र ने कहा कि कितनी हिस्सेदारी की बिक्री की जाएगी और रुचि पत्र कब मांगे जाएंगे, इस बारे में निर्णय नवगठित AISAM करेगा.

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

Financial Express Telegram Financial Express is now on Telegram. Click here to join our channel and stay updated with the latest Biz news and updates.

TRENDING NOW

Business News