scorecardresearch

Monkeypox in India: केरल के पांच जिलों में स्पेशल अलर्ट, मंकीपॉक्स का पहला केस सामने आने पर हुआ एलान

India’s First Monkeypox Case: केरल में मंकीपॉक्स का मामला सामने आने के बाद राज्य सरकार ने विशेष अलर्ट जारी किया है.

Monkeypox in India: केरल के पांच जिलों में स्पेशल अलर्ट, मंकीपॉक्स का पहला केस सामने आने पर हुआ एलान
देश में मंकीपॉक्स का पहला मामला सामने आने के बाद केरल के पांच जिलों में विशेष अलर्ट घोषित किया गया है.

India’s First Monkeypox Case: केरल में मंकीपॉक्स का मामला सामने आने के बाद सरकार ने विशेष अलर्ट जारी किया है. यह देश में मंकीपॉक्स का पहला मामला है. ऐसे में इसके प्रसार को रोकने के लिए केरल सरकार ने शुक्रवार 15 जुलाई को पांच जिलों में विशेष अलर्ट जारी किया है. देश में मंकीपॉक्स का पहला मामला सामने आने के बाद राज्य की स्वास्थ्य मंत्री वीणा जॉर्ज की अध्यक्षता में एक उच्च स्तरीय बैठक हुई. बैठक के बाद जॉर्ज ने पांच जिलों- तिरुवनंतपुरम, कोल्लम, पथनमथिट्टा, अलप्पुझा और कोट्टायम में विशेष अलर्ट जारी करने की जानकारी दी.

Indian Railway News: मोदी सरकार ने नई रेल लाइन को दी मंजूरी, इन तीन धार्मिक स्थलों तक आने-जाने में होगी आसानी

इन पांच जिलों में क्यों जारी विशेष अलर्ट

केरल सरकार ने पांच जिलों में इसलिए विशेष अलर्ट जारी किया है क्योंकि इन जिलों के लोगों ने संक्रमित व्यक्ति के साथ शारजाह-तिरुवनंतपुरम इंडिगो उड़ान में यात्रा की थी जो यहां 12 जुलाई को पहुंची थी. मंत्री ने कहा कि विमान में 164 यात्री और उड़ान दल के छह सदस्य मौजूद थे. उन्होंने कहा कि इन सभी जिलों में अलग रखने के लिए केंद्र स्थापित किये जाएंगे. स्वास्थ्य मंत्री के मुताबिक संक्रमित व्यक्ति के बगल की सीटों पर बैठने वाले 11 लोग हाई रिस्क कांटैक्ट लिस्ट में हैं. इसके अलावा मरीज के माता-पिता, एक ऑटो चालक, एक टैक्सी चालक और एक प्राइवेट हॉस्पिटल के त्वचा रोग विशेषज्ञ भी संपर्क सूची में हैं.

CUET UG 2022: एग्जाम सेंटर में बदलाव के चलते छूटी परीक्षा? मिलेगा एक और मौका, अधिकारियों ने दी जानकारी

सभी यात्रियों को जांच करवाने की सलाह

केरल की स्वास्थ्य मंत्री जॉर्ज ने का कहना है कि इस उड़ान में यात्रा करने वाले यात्रियों को अपनी जांच करवानी चाहिए और 21 दिन में संक्रमण के लक्षण दिखने पर स्वास्थ्य अधिकारियों को इसकी सूचना देनी चाहिए. कई लोगों के फोन नंबर उपलब्ध नहीं हैं इसलिए पुलिस की सहायता से उनका पता लगाया जा रहा है. मंत्री ने कहा कि स्वास्थ्यकर्मी उन लोगों के संपर्क में हैं जिनके संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आने का शक है और अगर उनमें बुखार या अन्य लक्षण दिखाई पड़ते हैं तो उनकी कोविड-19 समेत अन्य जांच की जाएगी. उन्होंने कहा कि मंकीपॉक्स के लक्षण दिखने पर भी जांच की जाएगी.

(इनपुट: पीटीआई)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

TRENDING NOW

Business News